कोरोना टेस्टिंग के मामले में गौतमबुद्ध नगर सबसे फिसड्डी, 34 जिलों के सीएमओ को चेतावनी पत्र जारी

बड़ी खबर : कोरोना टेस्टिंग के मामले में गौतमबुद्ध नगर सबसे फिसड्डी, 34 जिलों के सीएमओ को चेतावनी पत्र जारी

कोरोना टेस्टिंग के मामले में गौतमबुद्ध नगर सबसे फिसड्डी, 34 जिलों के सीएमओ को चेतावनी पत्र जारी

Google Image | Symbolic Photo

कोरोना टेस्टिंग के मामले में गौतमबुद्ध नगर सबसे फिसड्डी, 34 जिलों के सीएमओ को चेतावनी पत्र जारी NOIDA : उत्तर प्रदेश में भले ही कोविड-19 की दूसरी लहर समाप्त की तरफ बढ़ रही हो लेकिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस मामले में बिल्कुल भी लापरवाही नहीं बरत रहे हैं। दूसरी ओर उत्तर प्रदेश के 34 जिलों में कोरोनावायरस की टेस्टिंग को लेकर बड़ी लापरवाही बरती जा रही है। चिकित्सा स्वास्थ्य महानिदेशक ने इस बात की पुष्टि की है कि उत्तर प्रदेश के 34 जिलों में कोविड-19 टेस्टिंग को लेकर लापरवाही बरती गई है। जिसमें सबसे पहला नंबर गौतमबुद्ध नगर जिले का है। 

34 जिलों के सीएमओ को चेतावनी पत्र जारी
कोरोना टेस्टिंग के मामले में गौतमबुद्ध नगर सबसे फिसड्डी साबित हुआ है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं महानिदेशक ने प्रदेश के सभी जिलों में 3 दिनों तक समीक्षा करवाई। इसमें पता चला है कि 34 जिलों में लक्ष्य के अनुरूप आईटीपीआई और एंटीजन टेस्ट काफी कम हुए हैं। जिस पर महानिदेशक ने गौतमबुद्ध नगर समेत सभी 34 जिलों के सीएमओ को चेतावनी पत्र दे दिया है। इन सभी 34 जिले के स्वास्थ्य अधिकारी को कोविड-19 के उपचार को लेकर भी लापरवाह माना गया है। 

3 दिनों की समीक्षा में हुए खुलासे
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं महानिदेशक डीएस नेगी ने प्रदेश के सभी जिलों में 24 जुलाई 2021 से लेकर 26 जुलाई 2021 तक 3 दिनों के लिए समीक्षा कराई तो बड़े खुलासे सामने आए हैं। महानिदेशक ने इस समीक्षा के दौरान 34 जिले के मुख्य चिकित्साधिकारी की बड़ी लापरवाही देखी है। उन्होंने इन सभी 34 जिलों के सीएमओ को आईटीपीआई और एंटीजन टेस्ट की तालिका पूरी रिपोर्ट के साथ भेजी है। 

गौतमबुद्ध नगर सबसे फिसड्डी
समीक्षा और रिपोर्ट के मुताबिक गौतमबुद्ध नगर जिले में आरटीपीसीआर और एंटीजन टेस्टिंग लक्ष्य से 66.2 प्रतिशत पीछे रहा है। यानी कि गौतमबुद्ध नगर इन 34 जिलों में सबसे फिसड्डी है। उसके बाद बुलंदशहर का नंबर आता है। बुलंदशहर में लक्ष्य से 58.2 प्रतिशत पीछे रहा है। हापुड़ में आरटीपीसीआर और एंटीजन टेस्टिंग लक्ष्य से 48.7 प्रतिशत, मेरठ में लक्ष्य से 33.2 प्रतिशत, अमरोहा में 31.5 प्रतिशत, मुजफ्फरनगर में लक्ष्य से 28.2 प्रतिशत, बिजनौर में लक्ष्य से 26.7 प्रतिशत, सहारनपुर में 22.8 प्रतिशत और मुरादनगर में 20.6 प्रतिशत आरटीपीसीआर और एंटीजन टेस्टिंग लक्ष्य पीछे रहा है।

इन जिलों में लक्ष्य से कम कोविड टेस्टिंग हुई
  • गौतमंबुद्ध नगर 
  • बुलंदशहर 
  • मऊ 
  • गाजियाबाद 
  • गोरखपुर 
  • कानपुर देहात 
  • चंदोली 
  • फर्रुखाबाद 
  • सीतापुर 
  • अंबेडकरनगर 
  • औरैया 
  • सोनभद्र 
  • महोबा 
  • देवरिया 
  • सिद्धार्थनगर 
  • गाजीपुर 
  • मेरठ 
  • लखीमपुरखीरी 
  • अमरोहा 
  • मुजफ्फरनगर 
  • बिजनौर 
  • आजमगढ़ 
  • वाराणसी 
  • एटा 
  • कासगंज 
  • बाराबंकी 
  • सहारनपुर 
  • चित्रकूट 
  • महाराजगंज 
  • जौनपुर 
  • बरेली 
  • संतकबीरदास 
  • मुरादनगर

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.