गौतमबुद्ध नगर : भाजपा में विधानसभा से बड़ा हुआ जिला पंचायत का टिकट, डॉ.महेश शर्मा और सुरेंद्र नागर की वीटो चली, जानिए कैसे

भाजपा में विधानसभा से बड़ा हुआ जिला पंचायत का टिकट, डॉ.महेश शर्मा और सुरेंद्र नागर की वीटो चली, जानिए कैसे

Tricity Today | डॉ.महेश शर्मा और सुरेंद्र नागर

UP Panchayat Chunav : लंबी खींचतान के बाद भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) ने गौतमबुद्ध नगर जिला पंचायत के लिए मंगलवार की देर शाम उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है। भाजपा की राजनीति पर पकड़ रखने वाले लोगों का कहना है कि टिकट आवंटन में गौतमबुद्ध नगर के लोकसभा सांसद डॉ.महेश शर्मा (Dr Mahesh Sharma) और राज्यसभा सांसद सुरेंद्र सिंह नागर (Surendra Singh Nagar) की वीटो चली है। इसके अलावा जिले के बाकी नेता और जनप्रतिनिधि मन मसोसकर रह गए हैं। खास बात यह है कि रकम सिंह भाटी और सुभाष भाटी जैसे सीनियर नेता भी अपने नाम का टिकट हासिल करने में नाकामयाब रहे हैं।

जिन पांच उम्मीदवारों को भारतीय जनता पार्टी ने टिकट दिया है, उनमें से दो प्रत्याशी राज्यसभा सांसद सुरेंद्र सिंह नागर के माने जा रहे हैं। वार्ड नंबर-2 से गीता भाटी चुनाव लड़ेंगी और वार्ड नंबर-4 से सोनू प्रधान चुनाव मैदान में हाथ आजमाएंगे। इन दोनों प्रत्याशियों को सुरेंद्र सिंह नागर का करीबी बताया जा रहा है। जानकारी मिली है कि दोनों लोगों को टिकट दिलाने के लिए सुरेंद्र नागर में लखनऊ में वीटो लगाई थी। तीन उम्मीदवार डॉ महेश शर्मा के माने जा रहे हैं। इनमें एक नंबर वार्ड से मोहिनी जाटव, तीन नंबर वार्ड से देवा भाटी और 5 नंबर वार्ड से अमित चौधरी शामिल हैं।  

पार्टी में चर्चा है कि इन तीनों उम्मीदवारों को टिकट दिलाने के लिए डॉक्टर महेश शर्मा ने वीटो लगाई थी। दूसरी ओर चिटहरा गांव के पूर्व ब्लाक प्रमुख बिजेंद्र भाटी को तीन नंबर वार्ड से टिकट नहीं मिल पाया है। बिजेंद्र भाटी को सुरेंद्र सिंह नागर और दादरी के विधायक तेजपाल नागर का उम्मीदवार माना जा रहा था। तीन नंबर वार्ड पर डॉ महेश शर्मा ने देवा भाटी को प्रत्याशी बनवाने में कामयाबी हासिल की है। जेवर में 5 नंबर वार्ड पर भाजपा जिला कार्यकारिणी के महामंत्री अमित चौधरी चुनाव लड़ेंगे। वह चिपयाना बुजुर्ग गांव के रहने वाले हैं। 

जानकारी मिली है कि अमित चौधरी को भी डॉ महेश शर्मा ने ग्रीन सिग्नल दिया है। दो नंबर वार्ड से गीता देवी चुनाव मैदान में उतरेंगी। गीता के पति पवन नागर पहले बहुजन समाज पार्टी में थे। जब सुरेंद्र सिंह नागर बसपा सांसद हुआ करते थे तो पवन नागर उनके करीबी लोगों में शामिल थे। सुरेंद्र सिंह नागर ने भारतीय जनता पार्टी का रुख किया तो पवन नागर भी भाजपा में शामिल हो गए थे। अब उनकी पत्नी महिलाओं के लिए आरक्षित इस निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ेंगी।

भाजपा में चर्चा- डॉ.महेश शर्मा नहीं भूले यूपी सदन का विवाद
जिला पंचायत के वार्ड नंबर-4 से भारतीय जनता पार्टी के पूर्व जिला अध्यक्ष रकम सिंह भाटी दावा कर रहे थे। मिली जानकारी के मुताबिक जिला कार्यकारिणी ने जिस दिन पैनल फाइनल किए थे, डॉ महेश शर्मा ने उसी दिन रकम सिंह भाटी के नाम पर इशारों-इशारों में एतराज जाहिर कर दिया था। दरअसल, डॉ महेश शर्मा और रकम सिंह भाटी के बीच लंबे अरसे से फासले बने हुए हैं। 2009 के लोकसभा चुनाव के बाद भाजपा जिलाध्यक्ष के चुनाव को लेकर रकम सिंह भाटी और डॉक्टर महेश शर्मा के बीच दिल्ली के यूपी सदन में तीखी नोकझोंक हुई थी। लोगों का कहना है कि उस घटना को अभी तक डॉ महेश शर्मा ने भुलाया नहीं है।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.