ग्रेटर नोएडा: अब गांवों के कूड़े का भी निस्तारण कराएगा प्राधिकरण, बनी खास योजना, पूरी जानकारी

अब गांवों के कूड़े का भी निस्तारण कराएगा प्राधिकरण, बनी खास योजना, पूरी जानकारी

Tricity Today | Greater Noida Authority

  • -कंपनी का चयन करने के लिए टेंडर प्रक्रिया शुरू हुई
  • -कंपनियों के सुझाव पर आवेदन की आखिरी तिथि बढ़ाई गई
  • -4 मई को कंपनी का चयन किया जाएगा
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण (Greater Noida Authority) शहर के कूड़े को निस्तारित कराने से जुड़ी नई योजना को अमल में लाने की दिशा में काम रहा है। इसके तहत शहर को 5 जोन में बांटा गया है। योजना बनाने में हर घर से कूड़ा उठाने से उसके निस्तारण तक का पूरा ख्याल रखा गया है। इसके लिए प्राधिकरण (Greater Noida Authority) ने टेंडर (Tender) पहले ही जारी किया था। 

बैठक में लिया गया निर्णय
कंपनी का चयन करने से पहले प्री-बिड बैठक हुई थी। इसमें टेंडर में आवेदन देने वाली कंपनियों ने कई अहम सुझाव दिए थे। प्राधिकरण ने इन सुझावों पर अमल कर लिया है। अब टेंडर जमा करने की अंतिम तिथि बढ़ाकर 30 अप्रैल कर दी गई है। 4 मई को कंपनी का चयन कर लिया जाएगा।

नई योजना पर आगे बढ़ रहा है
शहर के कूड़ा निस्तारण के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण (Greater Noida Authority) नई व्यवस्था पर काम कर रहा है। शहर को पांच कलस्टर (Zone) में बांटकर शहर का कूड़ा उठाया जाएगा। इसमें गांवों को भी शामिल किया गया है। टेंडर लेने वाली कंपनी को घर-घर से कूड़ा उठाने से लेकर उसके निस्तारण तक का इंतजाम करना होगा। इसके लिए कलेक्शन सेंटर (Collection Center) भी बनाए जाएंगे। 

घर से ही अलग-अलग लिया जाएगा
घरों से ही कूड़ा अलग-अलग लिया जाएगा। ताकि इसके निस्तारण में किसी तरह की दिक्कत ना हो। पांच जोन में कंपनियों का चयन करने के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने टेंडर निकाले थे। इसमें टेंडर जमा करने की अंतिम तिथि 19 अप्रैल थी। इससे पहले प्राधिकरण ने इच्छुक कंपनियों के साथ प्री बिड बैठक की।

सुझावों को शामिल किया गया
बैठक में शामिल कंपनियों ने कई और सुझाव दिए। जीएम योजना एके अरोड़ा के मुताबिक, कंपनियों के सुझावों को भी इसमें शामिल कर लिया गया है। ताकि इस योजना को पूरी तरह से लागू किया जा सके। इसके चलते अब टेंडर जमा करने की अंतिम तिथि को बढ़ाकर 30 अप्रैल कर दिया गया है। चार मई को टेंडर खोले जाएंगे। इसी दिन कंपनी का चयन कर लिया जाएगा। प्राधिकरण का प्रयास है कि हर जोन के लिए अलग कंपनी चयनित की जाए। ताकि काम को बेहतर ढंग से किया जा सके। किसी तरह की शिकायत न मिले।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.