अब ग्रेटर नोएडा के बच्चे भी लाएंगे मेडल, 5 गांवों में बनेंगे 5 करोड़ के प्ले ग्राउंड

अच्छी खबर : अब ग्रेटर नोएडा के बच्चे भी लाएंगे मेडल, 5 गांवों में बनेंगे 5 करोड़ के प्ले ग्राउंड

अब ग्रेटर नोएडा के बच्चे भी लाएंगे मेडल, 5 गांवों में बनेंगे 5 करोड़ के प्ले ग्राउंड

Google Image | प्रतीकात्मक फोटो

अब ग्रेटर नोएडा के बच्चे भी लाएंगे मेडल, 5 गांवों में बनेंगे 5 करोड़ के प्ले ग्राउंड
  • - पांच गांवों में भी खेल ग्राउंड बनाने जा रहा प्राधिकरण
  • - पांचों खेल ग्राउंड पर एक करोड़ से अधिक खर्च का आकलन
  • - टेंडर प्रक्रिया जल्द पूरी कर निर्माण शुरू कराने की तैयारी
Greater Noida News : अब खेल सुविधाएं ग्रेटर नोएडा के सेक्टरों तक ही सीमित नहीं रहेंगी, बल्कि गांवों में भी अच्छी सुविधाएं मिल सकेंगी। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण हर गांव में खेल मैदान बनाने जा रहा है। प्राधिकरण ने पहले चरण के पांच गांव चिंहित कर लिए हैं। खेल मैदान बनाने के लिए बहुत जल्द टेंडर भी जारी होने वाले हैं। इसके बाद काम शुरू हो जाएंगे। 

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने हर गांव में खेल के मैदान बनाने के लिए जगह चिंहित करने की जिम्मेदारी नियोजन विभाग को दी थी। नियोजन ने अब तक पांच गांव चिंहित कर लिए हैं। ये गांव पाली, खोदना खुर्द, चुहड़पुर, सैनी और धूममानिक पुर हैं। इनकी डिजाइन अप्रूव्ड हो गई है। टेंडर शीघ्र जारी होने जा रहा है। चुनावी अधिसूचना लागू होने से पहले निर्माण शुरू कराने की योजना है। 

इन खेल ग्राउंड में दो बैडमिंटन कोर्ट, वालीबॉल कोर्ट, कबड्डी कोर्ट, रेसलिंग कोर्ट, डेढ़ मीटर चौड़ा रेसिंग ट्रैक, ओपन प्ले ग्राउंड आदि खेल सुविधाएं होंगी। इन खेल ग्राउंड में ओपन जिम की भी सुविधा दी जाएगी। इन पांचों खेल ग्राउंड पर एक करोड़ रुपए से अधिक खर्च होने का आकलन है। इनके बाद अन्य गांवों में भी खेल ग्राउंड चिंहित कर  सुविधाएं विकसित की जाएंगी। 

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने इन सभी खेल ग्राउंड को शीघ्र विकसित करने के निर्देश दिए हैं। सीईओ ने नियोजन विभाग से कहा है कि जिन गांवों में खाली जगह मिल सके, उसे खेल के मैदान के रूप में चिंहित करें, ताकि वहां खेल सुविधाएं विकसित की जा सकें। इससे गांवों के बच्चों का खेलों के प्रति झुकाव बढ़ेगा। यहां के बच्चे खेलों में जिला, प्रदेश और देश का प्रतिनिधित्व कर सकेंगे।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.