ग्रेटर नोएडा : किसानों ने नरेंद्र भूषण को दी चेतावनी, कहा- अब मामले को गंभीरता से नहीं लिया तो करेंगे आंदोलन

किसानों ने नरेंद्र भूषण को दी चेतावनी, कहा- अब मामले को गंभीरता से नहीं लिया तो करेंगे आंदोलन

Tricity Today | किसानों ने नरेंद्र भूषण से की मुलाकात

अखिल भारतीय किसान सभा के पदाधिकारियों ने लीजबैक मामले को लेकर आज ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण से मुलाकात करके ज्ञापन दिया है। इस दौरान किसान सभा के अध्यक्ष नरेंद्र भाटी, महासचिव हरेंद्र खारी, उपाध्यक्ष ब्रह्मपाल सूबेदार, उपाध्यक्ष रामकुमार बैसला समेत काफी किसान नेता मौजूद रहे हैं। इन दौरान सीईओ को किसान नेताओं ने आंदोलन की चेतवानी दी है।

लीजबैक मामले में होगा आंदोलन
इस दौरान किसान सभा के प्रवक्ता डॉ रुपेश वर्मा ने बताया कि ग्रेटर नोएडा के किसान काफी समय से परेशान है। आबादियों की लीजबैक तुरंत शुरू करने के मुद्दे को किसान काफी जोर-शोर से उठा रहे है। अब अगर प्राधिकरण ने लीजबैक के मामले को गंभीरता से नहीं लिया तो किसान प्राधिकरण के गेट पर आंदोलन करेंगे।

प्राधिकरण पर लगाए गंभीर आरोप
नरेंद्र भाटी ने बताया कि जब से सत्ता में भाजपा सरकार आई है। तब से प्राधिकरण कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है। उन्होंने कहा कि अगर प्राधिकरण लगातार किसानों की बातों को टाल रहा है। लेकिन अब प्राधिकरण ने लीजबैक की कार्रवाई, संशोधित एसआईटी जांच रिपोर्ट और शिफ्टिंग नीति को शासन से तुरंत मंजूर कराने की मांग नहीं की तो शहर के किसान आंदोलन करेंगे।

कॉलोनाइजरों से कॉलोनी कटवाने का आरोप लगाया
किसान सभा के उपाध्यक्ष रामकुमार बैंसला ने बताया कि छोटी मिलक में प्राधिकरण द्वारा आबादी पर निर्माण को रोकने के लिए डीजीएम केआर वर्मा से किसानों की काफी बहस हुई थी। उसके बाद भी प्राधिकरण को कोई असर नहीं पड़ा है। किसान सभा के महासचिव हरेंद्र खारी ने केआर वर्मा पर प्राधिकरण क्षेत्र में पैसे लेकर कॉलोनाइजरों से कॉलोनी कटवाने का आरोप लगाया है। साथ ही पुश्तैनी किसानों जिनका रोजगार अधिग्रहण की वजह से चला गया है। उन्हें वाजिब निर्माण किए जाने से रोकने पर असंतोष जाहिर किया है। 

किसान सभा के उपाध्यक्ष रामकुमार बैंसला ने कहा यदि मेरी पुश्तैनी आबादी पर प्राधिकरण द्वारा निर्माण रोकने की कार्रवाई की गई तो पंचायत कर केआर वर्मा के काले कारनामों को उजागर करते हुए उसे सस्पेंड एवं बर्खास्त किए जाने की मांग की जाएगी।
 

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.