BREAKING : नौरंगपुर अपहरण कांड के मुख्य आरोपी को मुठभेड़ के बाद किया गिरफ्तार, मिली अहम जानकारी

नौरंगपुर अपहरण कांड के मुख्य आरोपी को मुठभेड़ के बाद किया गिरफ्तार, मिली अहम जानकारी

Tricity Today | पुलिस की गिरफ्त में बदमाश

रविवार की देर रात एक बड़ी कार्रवाई करते हुए दनकौर पुलिस ने नौरंगपुर अपहरण कांड के मुख्य आरोपी को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया। उसके पैर में गोली लगी है और वह घायल हुआ है। उसका एक साथी अंधेरे का फायदा उठाते हुए फरार हो गया। बदमाश यूपी के फिरोजाबाद का रहने वाला है। फरार आरोपी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस इलाके में कॉम्बिंग कर रही है। घायल मुख्य आरोपी को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करा गया है। 

इसी महीने इन बदमाशों ने दनकौर थाना क्षेत्र के नौरंगपुर गांव से यश नागर नाम के एक बच्चे का अपहरण कर लिया था। हालांकि पुलिस का दबाव पड़ने के बाद बच्चे को सकुशल छोड़ दिया था। पर इसके बाद से ही पुलिस पर इनकी गिरफ्तारी का दबाव था। यश नागर के परिजन आए दिन दनकौर कोतवाली का घेराव कर रहे थे और बदमाशों को पकड़ने की मांग पर अड़े थे। इस संबंध में परिजन 28 फरवरी को महापंचायत भी करने वाले थे।

ग्रेटर नोएडा के एडिशनल, डीसीपी विशाल पांडेय ने इस बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि रविवार की देर रात दनकौर थाना पुलिस पेरिफेरल के नीचे वाले मार्ग पर चेकिंग अभियान चला रही थी। इसी दौरान जांच दल को एक बाइक पर संदिग्ध आते दिखाई दिए। पुलिस ने रोकना का इशाला किया। तब बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग करना शुरू कर दिया और वहां से भागने लगे। आत्मरक्षा करते हुए पुलिस ने जवाबी कार्रवाई की और गोलियां चलाई। 

इसमें एक बदमाश इंतजार घायल हो गया। उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। जबकि उसका साथी मौके से अंधेरे का फायदा उठा कर फरार हो गया। उसकी तलाश में पुलिस कॉम्बिंग कर रही है। अधिकारी ने बताया कि ये बदमाश 13 वर्षीय यश नागर के अपहरण में वांटेड थे। इन्होंने बच्चे का अपहरण कर अपने गांव ले गए थ। इन्होंने यश को अपने चाचा के घर रखा था। घायल बदमाश को इलाज के लिए अस्पताल भेज दिया गया है। उसके पास से एक बाइक, एक अवैध तमंचा और भारी मात्रा में जिंदा कारतूस बरामद किया गया है।

यह है पूरा मामला
नौरंगपुर गांव के निवासी सुरेंद्र नागर का पुत्र यश नागर गांव के ही एक पब्लिक स्कूल में चौथी कक्षा का छात्र है। परिवार के लोगों ने बताया कि दो हफ्ते पहले शनिवार को वह घर के बाहर खेल रहा था। अचानक दो बाइक सवार छात्र को उठाकर ले गए। परिजनों ने शनिवार की दोपहर इस घटना की जानकारी पुलिस को दी थी।  ग्रेटर नोएडा के डीसीपी राजेश कुमार सिंह ने पुलिस की कई टीमें छात्र को बरामद करने के लिए लगाई थीं। 

14 फरवरी, रविवार को परिवार ने बच्चे की बरामदगी के लिए विधायक धीरेंद्र सिंह से संपर्क किया। धीरेंद्र सिंह तत्काल परिवार से मिलने नौरंगपुर गांव पहुंचे। विधायक ने डीसीपी राजेश सिंह, एडिशनल सीपी लव कुमार और पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह से बात की। पुलिस की सख्ती से घबराकर बदमाशों ने यश को रिहा कर दिया था।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.