जेवर हवाईअड्डे के दूसरे चरण को लेकर हाईप्रोफाइल बैठक जारी, धीरेन्द्र सिंह, मंडलायुक्त, किसान और यमुना अथॉरिटी शामिल

Jewar Airport News : जेवर हवाईअड्डे के दूसरे चरण को लेकर हाईप्रोफाइल बैठक जारी, धीरेन्द्र सिंह, मंडलायुक्त, किसान और यमुना अथॉरिटी शामिल

जेवर हवाईअड्डे के दूसरे चरण को लेकर हाईप्रोफाइल बैठक जारी, धीरेन्द्र सिंह, मंडलायुक्त, किसान और यमुना अथॉरिटी शामिल

Tricity Today | जेवर हवाईअड्डे के दूसरे चरण को लेकर हाईप्रोफाइल बैठक जारी

जेवर हवाईअड्डे के दूसरे चरण को लेकर हाईप्रोफाइल बैठक जारी, धीरेन्द्र सिंह, मंडलायुक्त, किसान और यमुना अथॉरिटी शामिल Greater Noida News : जेवर में बन रहे नोएडा अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट (Noida International Airport) के दूसरे चरण के लिए 1,365 हेक्टेयर जमीन अधिग्रहीत करने की प्रक्रिया चल रही है। इससे प्रभावित किसानों के साथ ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण में बैठक चल रही है। किसानों की बातें जेवर विधायक धीरेंद्र सिंह, मंडलायुक्त सुरेंद्र सिंह, जिलाधिकारी सुहास एलवाई और यमुना एक्सप्रेसवे इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट अथॉरिटी के मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुन रहे हैं। जेवर एयरपोर्ट के दूसरे चरण के लिए 1,365 हेक्टेयर जमीन किसानों से ली जा रही है। इन किसानों के साथ ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण में बैठक चल रही है। मुआवजा, प्रतिस्थापन और गांवों की समस्याओं पर बात की जा रही है।

धीरेन्द्र सिंह, सुरेंद्र सिंह और अरुणवीर सिंह प्रोजेक्ट लीड करेंगे
योगी आदित्यनाथ ने एयरपोर्ट परियोजना में तेजी लाने का आदेश दिया है। जिसके बाद निर्माण कर रही कम्पनी ने मशीन 10 गुना और कर्मचारी करीब 7 गुना बढ़ा दिए हैं। दूसरी तरफ एयरपोर्ट के दूसरे चरण को लेकर प्रशासन और प्राधिकरण सक्रिय हो गए हैं। दरअसल, गौतमबुद्ध यूनिवर्सिटी में बैठक के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जेवर के विधायक धीरेन्द्र सिंह, मेरठ के मंडलायुक्त व ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी के सीईओ सुरेंद्र सिंह और यमुना एक्सप्रेसवे इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट अथॉरिटी के मुख्य कार्यपालक अधिकारी अरुणवीर सिंह को दूसरे चरण पर काम आगे बढ़ाने की जिम्मेदारी सौंपी है। इसी सिलसिले में आज ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण में किसानों के साथ यह तीनों लोग बैठक कर रहे हैं।

18 महीने में होगा एयरपोर्ट का टर्मिनल और एक रनवे तैयार 
बीते दिनों उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ जेवर में आए थे। अफसरों ने उनको जानकारी देते हुए बताया कि फिलहाल एयरपोर्ट के काम में 39 मशीनें और 700 कर्मचारी लगे हुए हैं, लेकिन मुख्यमंत्री ने इन कर्मचारियों की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए है। जिससे कि दिन-रात काम कर किया जा सके और जनवरी-फरवरी 2024 में उड़ान शुरू हो सके। अब 39 मशीनों की जगह 400 मशीने और 4 हजार कर्मचारी लगाए जाएंगे। 18 महीने में एयरपोर्ट का टर्मिनल और एक रनवे बनकर तैयार हो जाएगा।

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.