मल्लिखार्जुन बाबू ने गलगोटिया में संभाली कमान, सीईओ ने किया स्वागत

ग्रेटर नोएडा : मल्लिखार्जुन बाबू ने गलगोटिया में संभाली कमान, सीईओ ने किया स्वागत

मल्लिखार्जुन बाबू ने गलगोटिया में संभाली कमान, सीईओ ने किया स्वागत

Tricity Today | मल्लिखार्जुन बाबू

Greater Noida : नवनियुक्त कुलपति डॉ.मल्लिखार्जुन बाबू ने मंगलवार को गलगोटिया विश्वविद्यालय में कार्यभार संभाल लिया। इस दौरान उनका भव्य स्वागत किया गया। विश्वविद्यालय परिसर में ही स्वागत समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें कुलाधिपति सुनील गलगोटिया, मुख्य कार्यकारी अधिकारी ध्रुव गलगोटिया और विश्वविद्यालय के अन्य आला अधिकारियों ने नवनियुक्त कुलपति डॉ.बाबू का अभिनंदन किया। विश्वविद्यालय को एक नया आयाम प्रदान करने और अग्रणी विश्वविद्यालय बनाने की कामना करते हुए ईश्वर से उज्ज्वल भविष्य की कामना की। सीईओ ध्रुव गलगोटिया ने सभी अधिकारियों का परिचय कुलपति से कराया।

डॉ.बाबू ने अपनी उन्नत कार्य पद्धति की जानकारी दी। उन्होंने गलगोटिया विश्वविद्यालय की सराहना करते हुए कहा कि विश्वविद्यालय शिक्षा के क्षेत्र में राज्य में ही नहीं देश में एक प्रमुख स्थान रखता है। सभी छात्र-छात्राओं के उज्ज्वल भविष्य के लिए विश्वविद्यालय के कुलाधिपति और प्राध्यापक लगातार शिक्षा के स्तर को ऊंचा उठाने का प्रयास कर रहे हैं। मुझे आशा है कि मेरे साथी-सहयोगी विश्वविद्यालय को हर क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ बनाने में अवश्य सफलता प्राप्त करेंगे।

विशेषज्ञ सदस्य के रूप में किया कार्य
विश्वविद्यालय के मीडिया प्रभारी श्रीशांत शर्मा ने बताया कि डॉ.बाबू ने एनबीए, एनएएसी, एआईसीटीई, यूजीसी, आईयूसीईई और जीईडीसी जैसे कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्ध बोर्डों व समितियों में विशेषज्ञ सदस्य के रूप में कार्य किया है। साथ ही आईसीटीए, इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग (IIIE), इंस्टीट्यूशन ऑफ इंजीनियर्स इंडिया, आईएसटीई, इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियर्स (इंडिया) के आजीवन सदस्य और अन्य अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय पेशेवर निकायों के संस्थापक सदस्य हैं।

यह लोग रहे शामिल
इस कार्यक्रम के दौरान विश्वविद्यालय की संचालन निदेशक आराधना गलगोटिया, विश्वविद्यालय की सलाहकार डॉ.रेणु लूथरा, प्रति-कुलपति डॉ.अवधेश कुमार और सचिव नितिन कुमार गौड सहित समस्त विभागाध्यक्ष उपस्थित थे।

Copyright © 2022 - 2023 Tricity. All Rights Reserved.