शारदा यूनिवर्सिटी ने मनाया अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस, डॉक्टर बोले- बिना नर्सों के अस्पताल अधूरे

ग्रेटर नोएडा : शारदा यूनिवर्सिटी ने मनाया अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस, डॉक्टर बोले- बिना नर्सों के अस्पताल अधूरे

शारदा यूनिवर्सिटी ने मनाया अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस, डॉक्टर बोले- बिना नर्सों के अस्पताल अधूरे

Tricity Today | मनाया अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस

शारदा यूनिवर्सिटी ने मनाया अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस, डॉक्टर बोले- बिना नर्सों के अस्पताल अधूरे Greater Noida News : शारदा विश्विद्यालय में अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस मनाया गया। इस साल का विषय नर्सिंग में निवेश करें और ग्लोबल हेल्थ को सुरक्षित रखने के अधिकारों का सम्मान करें। इस कार्यक्रम में लगभग 300 नर्स और नर्सिंग विद्यार्थियों ने भाग लिया। इस दौरान स्कूल ऑफ नर्सिंग साइंस शारदा विश्वविद्यालय के द्वारा रंगोली बनाना, मेहंदी प्रतियोगिता, बहुरूप पोशाक और प्रतिभा खोज आदि कार्यक्रम किए गए हैं। 

कोरोना के समय में नर्सों ने निभाई अहम भूमिका 
शारदा अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ.एके गड़पायले ने बताया कि स्वास्थ्य क्षेत्र में नर्सों की भूमिका एक रीढ़ की हड्डी की तरह होती है। कोरोना के समय नर्सों ने अपनी जान की परवाह ना करते हुए लोगो की जान बचाने के लिए दिन-रात मेहनत की थी। आजकल नर्सों में लिखित शिक्षा के अलावा व्यवाहरिक शिक्षा का होना भी बहुत जरूरी है। जिससे वह विश्व स्तर पर अपने काम को साबित कर सके। 

नर्स को करना चाहिए इस तरह का व्यवहार 
शारदा अस्पताल के वाईस प्रेसिडेंट ऋषभ गुप्ता ने बताया कि मरीजों की बेहतर देखभाल इनकी पहली प्राथमिकता रहती है। कई जिंदगी बचाने और उन्हें सेहतमंद बनाने के लिए ये हर समय तत्पर रहती हैं। एक अच्छे नर्स की पहचान सेवा में उत्तम भाव, बिना भेदभाव के ख्याल रखना और संवेदनशील व्यवहार करना है। 

नर्सो के साथ कुशल व्यवहार
उन्होंने कहा कि नर्सो के लिए हम लोगो ने हाथों पर प्रशिक्षण कार्यक्रम, कौशल विकास और सेमिनार इस तरह की आयोजन बराबर रखते है। नर्सों के साहस, उनके सराहनीय योगदान और कार्यों के लिए सम्‍मान जताने के लिए यह दिन अस्पताल का हर स्टाफ साथ मे मिलकर बनाता है। मौके पर इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी की नर्सिंग की डायरेक्टर प्रोफसर पिटी कॉल, शारदा स्कूल ऑफ नर्सिंग साइंस के वाईस प्रिंसिपल प्रोफ आरएस श्रीराजा, प्रोफ, किरण शर्मा, प्रोफ और क्रिस्टा आदि मौजूद रहे।

अन्य खबरे

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.