अमित शाह के कार्यक्रम में डॉ.महेश शर्मा के खिलाफ नारेबाजी, भाजपा किसान मोर्चा के अध्यक्ष तेजा गुर्जर ने खोला मोर्चा

BIG BREAKING : अमित शाह के कार्यक्रम में डॉ.महेश शर्मा के खिलाफ नारेबाजी, भाजपा किसान मोर्चा के अध्यक्ष तेजा गुर्जर ने खोला मोर्चा

अमित शाह के कार्यक्रम में डॉ.महेश शर्मा के खिलाफ नारेबाजी, भाजपा किसान मोर्चा के अध्यक्ष तेजा गुर्जर ने खोला मोर्चा

Tricity Today | भाजपा किसान मोर्चा के अध्यक्ष तेजा गुर्जर ने खोला मोर्चा

अमित शाह के कार्यक्रम में डॉ.महेश शर्मा के खिलाफ नारेबाजी, भाजपा किसान मोर्चा के अध्यक्ष तेजा गुर्जर ने खोला मोर्चा Greater Noida : केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ग्रेटर नोएडा में हैं। वह दादरी से भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) के उम्मीदवार और मौजूदा विधायक मास्टर तेजपाल सिंह नागर (Tejpal Singh Nagar MLA) के लिए घर-घर जाकर वोट मांग रहे हैं। इसी बीच तुगलपुर गांव में बड़ा विवाद पैदा हो गया है। गृहमंत्री के सामने गुर्जर समाज के लोगों ने गौतमबुद्ध नगर के सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ.महेश शर्मा के खिलाफ जमकर नारेबाजी की है। इतना ही नहीं भाजपा किसान मोर्चा के पश्चिम उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष तेजा गुर्जर ने डॉ.महेश शर्मा के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा है कि डॉ.महेश शर्मा ने हमारे बुजुर्गों का अपमान करवाया है। कुल मिलाकर एक बार फिर दादरी क्षेत्र में विवाद पैदा हो गया है।

क्या है पूरा मामला
केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ग्रेटर नोएडा के तुगलपुर गांव में आए हैं। यह गांव शहर के बीच परी चौक से बिल्कुल सटा हुआ है। परी चौक पर ही गुर्जर संस्कृति शोध संस्थान है। भाजपा किसान मोर्चा के अध्यक्ष तेजा गुर्जर का कहना है, "गृहमंत्री अमित शाह को गुर्जर संस्कृति शोध संस्थान में आना था। कार्यक्रम निर्धारित किया गया था कि अमित शाह शोध संस्थान में हमारे पुरखों की प्रतिमाओं पर माल्यार्पण करेंगे। ऐसा नहीं किया गया। गृहमंत्री सीधे निकल गए। उन्हें गुर्जर संस्कृति शोध संस्थान लेकर नहीं गए।" तेजा गुर्जर का कहना है, "इसके लिए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह जिम्मेदार नहीं हैं। यह जिम्मेदारी गौतमबुद्ध नगर के सांसद डॉ.महेश शर्मा की थी। उन्हें गृहमंत्री को गुर्जर संस्कृत संस्थान में लेकर जाना था। इससे गुर्जर समाज ने अपमान महसूस किया है। इसी वजह से लोग सांसद के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं।" डॉ.महेश शर्मा के खिलाफ हुई नारेबाजी
तुगलपुर गांव से जब गृहमंत्री अमित शाह गुजर रहे थे तो भीड़ ने नारेबाजी करनी शुरू कर दी। गुर्जर समाज से ताल्लुक रखने वाले युवाओं ने स्थानीय सांसद डॉ.महेश शर्मा के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। युवकों का कहना है कि डॉ.महेश शर्मा ने गुर्जर बिरादरी का अपमान किया है। इससे पहले भी दादरी में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार्यक्रम में गुर्जर समाज को अपमानित किया गया था। तब सम्राट मिहिर भोज के नाम के आगे लगा गुर्जर शब्द हटा दिया गया था। भारतीय जनता पार्टी के कुछ नेता और स्थानीय सांसद डॉ.महेश शर्मा बार-बार गुर्जर समाज को अपमानित कर रहे हैं। आज जब गृहमंत्री अमित शाह तुगलपुर गांव आए थे तो उन्हें गुर्जर संस्कृति शोध संस्थान जाना था। डॉ.महेश शर्मा उन्हें संस्थान में लेकर नहीं गए। यह सीधे तौर पर गुर्जर समाज का अपमान है। इसका खामियाजा भारतीय जनता पार्टी को विधानसभा चुनाव में भुगतना पड़ेगा।"

संस्थान में सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा
मिली जानकारी के मुताबिक परी चौक पर स्थित गुर्जर संस्कृति शोध संस्थान में समाज के कई दिवंगत नेताओं की प्रतिमाएं स्थापित हैं। वहीं सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा भी लगी हुई है। भारतीय जनता पार्टी के विश्वसनीय सूत्रों का कहना है कि गुर्जर समाज को चुनाव में साधने के लिए तेजा गुर्जर और कई दूसरे नेता चाहते थे कि गृहमंत्री अमित शाह संस्थान में लगी प्रतिमाओं का माल्यार्पण करें। इसी दौरान सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा पर माल्यार्पण करवाया जाना था। दूसरी तरफ भाजपा नेताओं का कहना है कि ऐसा करने से राजपूत समाज नाराज हो जाता। इस समस्या से बचने के लिए अमित शाह को गुर्जर संस्कृति शोध संस्थान नहीं लगाया गया है। दूसरी तरफ डॉ.महेश शर्मा से विरोध रखने वाले भाजपा नेता गुर्जर समाज को भ्रमित करके अपने हित साधना चाहते हैं।

अन्य खबरे

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.