बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट में जल्द दिखेगा Racing Bike का जलवा, योगी आदित्यनाथ से मिले डोर्ना कंपनी के चेयरमैन

Greater Noida : बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट में जल्द दिखेगा Racing Bike का जलवा, योगी आदित्यनाथ से मिले डोर्ना कंपनी के चेयरमैन

बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट में जल्द दिखेगा Racing Bike का जलवा, योगी आदित्यनाथ से मिले डोर्ना कंपनी के चेयरमैन

Tricity Today | Yogi Adityanath, Nand Gopal Nandi

बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट में जल्द दिखेगा Racing Bike का जलवा, योगी आदित्यनाथ से मिले डोर्ना कंपनी के चेयरमैन Greater Noida : बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट (बीआईसी) में अगले साल बाइक रेस का रोमांच देखने को मिलेगा। दुनिया के तीसरे सबसे मशहूर खेल विश्वस्तरीय मोटरसाइकिल रेसिंग मोटो जीपी ग्रेटर नोएडा के बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट में होगी। इसका नाम ‘ग्रां प्री ऑफ भारत’ रखा है। यह आयोजन सात दिन तक चलेगा। देश-विदेश के बाइक रेस प्रेमी यहां आएंगे। रेस कराने वाली स्पेनिश कंपनी डोर्ना के चेयरमैन कार्मेलो एजपेलेटा ने बुधवार को लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और औद्योगिक विकास मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी से मुलाकात कर अपनी योजना साझा की।

डोर्ना का नोएडा के लिए हुआ समझौता
दुनियाभर में स्पेनिश कंपनी डोर्ना बाइक रेस कराती है। डोर्ना और नोएडा में बसे रेस प्रोमोटर फेयरस्ट्रीट स्पोर्ट्स ने अगले सात वर्षों तक भारत में प्रीमियर दुपहिया रेसिंग प्रतियोगिता की मेजबानी के लिए बुधवार को समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए। प्रतियोगिता में 19 देशों के प्रतिभागी हिस्सा लेंगे। इससे देश में रोजगार के अलावा पर्यटन और व्यापार को बढ़ावा मिलेगा। कंपनी के चेयरमैन कार्मेलो एजपेलेटा लखनऊ पहुंचे।

योगी आदित्यनाथ से मिले डोर्ना कंपनी के चेयरमैन
मोटो जीपी को लेकर केंद्र के साथ ही उत्तर प्रदेश सरकार के सहयोग के लिए उन्होंने औद्योगिक विकास मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी के आवास पर चर्चा की। मंत्री ने कहा कि मोटो जीपी जैसी वैश्विक स्तर की प्रतियोगिता के आयोजन से प्रदेश की आर्थिक और पर्यटन संभावनाओं को विस्तार मिलेगा। इसके बाद डोर्ना कंपनी के चेयरमैन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिले। उन्होंने आयोजन के लिए ट्रैक, सुरक्षा और अन्य जरूरतों पर बात की। मुख्यमंत्री ने उन्हें मदद का भरोसा दिया।

अभी तक 3 F-1 रेस हुई
जेपी इंफ्राटेक और F-1 के बीच सर्किट पर पांच रेस आयोजित करने का करार हुआ था। अक्टूबर 2011 में पहली रेस हुई। इसके बाद 2012 और 2013 में दूसरी और तीसरी रेस हुई। इसके बाद मनोरंजन कर को लेकर विवाद उत्पन्न हो गया। 5140 मीटर लंबे सर्किट को विश्व विख्यात जर्मन रेस ट्रैक डिजाइनर हरमन टिलके ने डिजाइन किया है।

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.