ग्रेटर नोएडा : गांवों की समस्याओं के विरोध में करप्शन फ्री इंडिया का प्राधिकरण पर हल्ला बोल, अगर समाधान नहीं हुआ तो होगा बड़ा आंदोलन

गांवों की समस्याओं के विरोध में करप्शन फ्री इंडिया का प्राधिकरण पर हल्ला बोल, अगर समाधान नहीं हुआ तो होगा बड़ा आंदोलन

Tricity Today | गांवों की समस्याओं के विरोध में करप्शन फ्री इंडिया का प्राधिकरण पर हल्ला बोल

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के अंतर्गत आने वाले अधिकांश गांवों के ग्रामीण मूलभूत समस्याओं का समाधान नहीं होने के कारण परेशान हैं। इन समस्याओं के समाधान की मांग करते हुए करप्शन फ्री इंडिया संगठन ने सोमवार को प्राधिकरण कार्यालय पर हल्ला बोल प्रदर्शन करते हुए ओएसडी शिव प्रताप शुक्ला को ज्ञापन सौंपा है।
 
करप्शन फ्री इंडिया संगठन के संस्थापक चौधरी प्रवीण भारतीय और आलोक नागर ने बताया कि ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों की लापरवाही और भ्रष्टाचार के कारण सैकड़ों गांव अपने विकास की बाट देख रहे हैं। ग्रेटर नोएडा के प्रमुख गांव तुगलपुर, जुनेदपुर, कनारसी,  देवटा,  डाढा,  खेरली मंडी श्याम नगर , बरसात,  चुहडपुर खादर , घरबरा,  मुर्शदपुर,  इमलिया,  लुक्सर,  नियाना, सलेमपुर, घघौला आदि गांव के ग्रामीण मूलभूत समस्याओं का निदान न होने के कारण परेशान है। 

इन सभी गांवों में पानी की निकासी, स्ट्रीट लाइट, साफ सफाई, सीवर ओवरफ्लो, गड्ढा युक्त सड़कें और अधिकतर गांव के बरात घरों की स्थिति बहुत ही खराब है। चौधरी प्रवीण भारतीय ने कहा कि प्राधिकरण के अधिकारी दोहरी नीति अपनाते हुए एक तरफ तो गांवों को इसमें स्मार्ट विलेज बनाने की बात कर रहे हैं। दूसरी तरफ गांवों में समस्याओं के अंबार लगे हुए हैं। 

आलोक नागर ने कहा इन सभी समस्याओं के विरोध में  प्राधिकरण के ओएसडी शिव प्रताप शुक्ला को एक सप्ताह में समस्याओं का समाधान कराने की चेतावनी देते हुए ज्ञापन सौंपा। यदि एक सप्ताह के अंदर समस्याओं का समाधान नहीं हुआ तो गांवों में पंचायत कर प्राधिकरण पर बड़ा आंदोलन करेंगे। इस दौरान संरक्षक संजय भैया, जिला अध्यक्ष दिनेश नागर, प्रेम प्रधान, अरुण नागर आदि लोग उपस्थित रहे।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.