The Penta Grand 2021: रोमांच के लिए हो जाएं तैयार, गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय में 300 घुड़सवार दिखाएंगे दम, कई दिग्गज खिलाड़ी लेंगे हिस्सा

रोमांच के लिए हो जाएं तैयार, गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय में 300 घुड़सवार दिखाएंगे दम, कई दिग्गज खिलाड़ी लेंगे हिस्सा

Tricity Today | जानकारी देते आयोजक दल के सदस्य

  • 3 मार्च से जीबीयू में शुरू होगी राष्ट्रीय स्तर की घुड़सवारी प्रतियोगिता
  • 250 से ज्यादा घुड़सवार दिखाएंगे दम
  • 12 मार्च से सात अंतरराष्ट्रीय टीमें भी करेंगी शिरकत
ग्रेटर नोएडा एक बार फिर सजकर तैयार है। राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर के घुड़सवार एक बार फिर अपनी प्रतिभा से दर्शकों को खास अनुभव देंगे। इसके लिए शहर के गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय (जीबीयू) परिसर में स्थित स्टेडियम में तीन श्रेणियों, में राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और छात्रों के बीच प्रतियोगिताएं होंगी। 

राष्ट्रीय टेंट पैगिंग टीम में चयन के लिए खिलाड़ी तीन से सात मार्च तक होने वाली चैंपियनशिप में अपना दमखम दिखाएंगे। वर्ल्ड चैंपियनशिप में क्वालिफाई करने के लिए 12-14 मार्च तक प्रतियोगिता होगी। इसमें सात देशों भारत, अमेरिका, रूस, पाकिस्तान, कतर, बेलारूस, बहरीन के खिलाड़ियों के बीच जोरदार टक्कर देखने को मिलेगी।



इस संबंध में आयोजकों ने सोमवार को एक प्रेसवार्ता कर जानकारी दी। इसमें भारतीय टेंट पेगिंग टीम के कोच अहमद अफसर, कमेंटेटर अथर और हाईटेक कॉलेज के चेयरमैन डॉ. विहंग गर्ग ने सवालों के जवाब दिए। इस खेल के बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि टेंट पेगिंग में घोड़े पर बैठकर 6.4 सेकेंड में भाले से जमीन पर रखे सफेद प्लेट जैसे टुकड़े को उठाया जाता है।
  
वर्ष 1965 में शुरू हुआ था खेल
कोच अहमद अफसर ने बताया कि इस खेल की शुरुआत साल 1965 में हुई थी। टेंट पेगिंग प्रतियोगिता में भारतीय घुड़सवारों का हमेशा दबदबा रहा है। ग्रेटर नोएडा के गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय में पहले भी वर्ष 2015 में ऐसी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था। इस बार अंतरराष्ट्रीय टेंट पेगिंग फेडरेशन, एक्वेस्टेरियन फेडरेशन ऑफ इंडिया और युवा एवं खेल मंत्रालय के संयुक्त तत्वाधान में दी पेंटा ग्रैंड-2021 का आयोजन किया जा रहा है। 



नेशनल स्तर की प्रतियोगिता होगी
पहले चरण में तीन से सात मार्च तक राष्ट्रीय टेंट पैगिंग टीम के चयन के लिए प्रतियोगिता होगी। इसे कुबेर नेशनल एक्वेस्ट्रियन चैंपियनशिप का नाम दिया गया है। इसमें बीएसएफ, असम रायफल्स, इंडियन नेवी, प्रेसिडेंट्स बॉडी गॉर्ड्स, 61वीं कैवलरी, वेस्टर्न कमांड, नॉदर्न कमांड, आर्मी, ट्रेनिंग सहित सभी प्रदेशों की पुलिस, आईटीबीपी, रॉयल राइडिंग क्लब, हाईटेक कॉलेज गाजियाबाद, मयूर क्लब, पॉथवे क्लब आदि के घुड़सवार हिस्सा लेंगे। इनमें से पांच सर्वश्रेष्ठ घुड़सवारों को भारतीय टीम के लिए चुना जाएगा। 

300 से ज्यादा घोड़े दौड़ेंगे
प्रतियोगिता में करीब 50 अंतरराष्ट्रीय घुड़सवार और 250 से ज्यादा भारतीय घुड़सवार अपना दम दिखाएंगे। करीब 300 बेहतरीन नस्ल के घोड़े इस खेल में दिखाई देंगे। सात अंतरराष्ट्रीय टीमों में से दो टीमें वर्ल्ड कप के लिए क्वालीफाई करेंगी। वर्ल्ड कप का आयोजन वर्ष 2023 में साउथ अफ्रीका में किया जाएगा।

दी नोएडा हॉर्स शो में दम दिखाएंगे छात्र
तीसरी श्रेणी में छात्रों को अपना कौशल दिखाने का मौका दिया जाएगा। इनके लिए प्रतियोगिता 5-11 मार्च के बीच संपन्न कराई जाएगी। दी नोएडा हॉर्स शो में दिल्ली-एनसीआर छात्रों को प्रतिभाग करने का अवसर दिया जाएगा। इसका मकसद युवा पीढ़ी को इस खेल में पारंगत बनाना है। साथ ही उन्हें इसके बारे में जागरूक रखना है।

टिकट की दरें अलग होंगी
जीबीयू में होने वाली टेंट पेंगिग प्रतियोगिता के लिए टिकट ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से मिलेंगे। ऑनलाइन बुकिंग बुक माई शो पर एडवांस में की जा सकेगी। इसका शुल्क तीन हजार रुपये रखा गया है। जबकि 14 वर्ष से कम उम्र के विद्यार्थियों के लिए प्रवेश शुल्क 15 सौ रुपये होगा। हालांकि अगर प्रतियोगिता शुरू होने तक टिकट बच जाएंगे, तो काउंटर से इन टिकटों को एक हजार रुपये में दर्शक खरीद सकेंगे। जीबीयू में ऑफलाइन टिकट के लिए काउंटर बनाया गया है।  

कोरोना गाइडलाइन का होगा पालन
कोरोना महामारी की वजह से कम टिकटों की बिक्री की जाएगी। हालांकि दर्शकों की क्षमता ज्यादा है, मगर सिर्फ 600-700 लोगों को ही प्रवेश दिया जाएगा। आयोजकों का कहना है कि कोविड-19 गाइडलाइन का पूरी तरह पालन किया जाएगा। दर्शकों के बीच में सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान दिया जाएगा। यहां करीब पांच हजार दर्शकों के बैठने की व्यवस्था है, मगर एक हजार से भी कम टिकट बेच जाएंगे।

कई प्रसिद्ध खिलाड़ी लेंगे हिस्सा
इस खेल के वर्ल्ड कप प्रतियोगिता में देश को स्वर्ण पदक दिलाने वाले नामी खिलाड़ी भी ग्रेटर नोएडा में अपना दम दिखाएंगे। इनमें हरियाणा पुलिस के सुरेश कुमार, सेना के 61वीं कैवलरी के अर्जुन पुरस्कार विजेता अजय सावंत, जसविंदर सिंह (बीएसएफ) और जसविंदर सिंह (पंजाब) और असम के वांगसेम लमारी जैसे महान खिलाड़ी मौजूद रहेंगे।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.