कामयाबी : ग्रेटर नोएडा से गहने चोरी करके महाराष्ट्र में बेचने वाले गिरोह का पर्दाफाश, जानिए कैसे देते थे वारदात को अंजाम

ग्रेटर नोएडा से गहने चोरी करके महाराष्ट्र में बेचने वाले गिरोह का पर्दाफाश, जानिए कैसे देते थे वारदात को अंजाम

Tricity Today | ग्रेटर नोएडा से गहने चोरी करके महाराष्ट्र में बेचने वाले गिरोह का पर्दाफाश

ग्रेटर नोएडा की बीटा-दो कोतवाली पुलिस ने बंद घरों के ताले तोड़कर चोरी करने वाले गैंग का पर्दाफाश किया है। पुलिस की टीम ने तीन बदमाशों समेत चोरी का माल खरीदने वाले एक ज्वैलर को भी गिरफ्तार किया है। पुलिस ने गिरोह के पास से 42 हजार रुपये नगद और सोने-चांदी के जेवर सहित दूसरी चीजें बरामद की हैं। यह गैंग रेकी कर चोरी की घटनाओं को अंजाम देता था। गैंग के बदमाशों के खिलाफ शहर के विभिन्न थानों में 10 से ज्यादा आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। पुलिस की पूछताछ में गिरोह ने कई हैरान करने वाली घटनाओं का खुलासा किया है।

ग्रेटर नोएडा के एडिशनल डीसीपी विशाल पांडे ने शुक्रवार को इस बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि बीटा-2 कोतवाली पुलिस की टीम ने चेकिंग के दौरान रामपुर गोल चक्कर के पास से तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया। इन तीनों की पहचान सोनू उर्फ अभिनव पांडे, निवासी-मैनपुरी,  प्रवीण पांडे,  निवासी-भलस्वा डेरी नई दिल्ली, चन्दन शर्मा निवासी-हाजीपुर, बिहार और सूरज मोरे, निवासी-जिला सांगली, महाराष्ट के रूप में हुई है। सूरज मोरे ज्वैलर है। पकड़े गए बदमाश चोरी के गहने सूरज मोरे को बेचते थे। 

घर की रेकी कर बनाते थे निशाना
एडिशनल डीसीपी विशाल पांडे ने बताया कि गिरफ्तार किए गए बदमाश बहुत शातिर हैं। यह गैंग बंद घरों को निशाना बनाता था। इसके लिए गैंग के सदस्य पहले रेकी करते थे। फिर मौका देख कर घरों का ताला तोड़कर नगदी, गहने और कीमती सामान चोरी कर फरार हो जाते थे। कुछ घटनाओं की सीसीटीवी फुटेज से पुलिस को इनके बारे में पता चला था। सीसीटीवी फूटेज से पुलिस ने इन बदमाशों की पहचान की। पुलिस काफी वक्त से इनकी तलाश में थी। पूछताछ में इन्होंने शहर में हुई चोरी की कई वारदातों को अंजाम देने की बात स्वीकार की है। पुलिस इन आरोपियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई कर रही है।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.