गुरुग्राम नागरिक अस्पताल में 30 बेड बढ़ाए, इन मरीजों को मिलेगा फायदा

अच्छी खबर : गुरुग्राम नागरिक अस्पताल में 30 बेड बढ़ाए, इन मरीजों को मिलेगा फायदा

गुरुग्राम नागरिक अस्पताल में 30 बेड बढ़ाए, इन मरीजों को मिलेगा फायदा

Google Image | Gurugram Civil Hospital

Gururgram: गुरुग्राम के नागरिक अस्पताल सेक्टर-10 में स्थित है।जिसमें रोगियों के बेहतर इलाज के लिए 30 बेड बढ़ाए जाने का निर्णय लिया गया है।आपको बता दें कि नागरिक अस्पताल के सर्जिकल औरऑर्थो वार्ड के 30 बेड बढ़ाये जाने का एहम फैसला  लिया गया है। साथ ही कोरोना महामारी को भी ध्यान में रखा गया है। जैसे ही मरिजों को भारती करने की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी ज्यादातर  मेरीजों को इलाज के लिए अस्पताल में ही भर्ती किया जाएगा। हर वख्त इमरजेंसी वार्ड में ही भेजना की अवश्यकता नहीं होगी। 

उपलब्ध 16 बेड पर्याप्त नहीं 
बता दें कि गुरुग्राम स्तिथ नागरिक अस्पताल के ऑर्थो और सर्जिकल वार्ड में केवल 16 बेड है बताया जा रहा है कि हर दिन अस्पताल मरिजों से भरा रहता है, लेकिन उनके लिए पर्याप्त बेड उपलब्ध नहीं होते हैं। इसको देखते हुए अस्पताल प्रशासन ने  बेड की वृद्धि का फैसला लिया गया है। हर वक्त मेरीजों से भरा रहने वाले अस्पताल में पर्याप्त बेड होने के करण मेरीजों को समय पर इलाज नहीं मिल पाता है। वार्ड में मरीजों की भर्ती करने के लिए जगह नहीं होती जिसके करण कई बार ऑपरेशन के लिए मरीजों को काफी दिन तक इंतजार करना होता है। 

2 हजार मरीज रोजाना आते है
अस्पताल में खाली जगह की तलाश कर पर्याप्त बेड की व्यवस्था की जा रही है, जिसकी सहायता से मेरीजों के इलाज के लिए परेशानियां का सामना नहीं करना पड़ेगा।आपको बता दें की नागरिक अस्पताल में करीब 2 हजार मरीज रोजाना आते हैं, इतने सारे मरीज एक साथ आने पर जगह न होने के कारण डॉक्टर उनकी बीमारी की दवाई देकर घर भेज देते हैं। 

46 मरीजों की सर्जरी एक साथ  
पूरे अस्पताल में केवल 100 बेडों की सुविधा है, जिसका डॉक्टर मारिजों को चेक करने के साथ-साथ सर्जरी के दौरान भी इस्तमाल करते हैं। मरीजों को सर्जरी के लिए कई दिनों तक इंतजार करना होता था। बनायी गई योजना के तहत नागरिक अस्पताल सर्जिकल और ऑर्थो वार्ड में 30 बेड और बढ़ाएंगे। इसके बाद अस्पाताल में एक साथ 46 मरीजों को सर्जरी के लिए भर्ती किया जा सकेगा और मेरीजों को  इलाज के लिए दौड़ना नहीं पड़ेगा।

Copyright © 2022 - 2023 Tricity. All Rights Reserved.