यूनिवर्सिटी में हुआ मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता और देखभाल अभियान का आयोजन, 200 लोगों ने कराई जांच

Gurugram : यूनिवर्सिटी में हुआ मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता और देखभाल अभियान का आयोजन, 200 लोगों ने कराई जांच

यूनिवर्सिटी में हुआ मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता और देखभाल अभियान का आयोजन, 200 लोगों ने कराई जांच

Tricity Today | 200 लोगों ने कराई जांच

यूनिवर्सिटी में हुआ मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता और देखभाल अभियान का आयोजन, 200 लोगों ने कराई जांच
  • -तीन दिवसीय मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता और देखभाल अभियान के तहत आयोजित हुई कई गतिविधियां
  • -नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर में 200 लोगों ने कराई जांच
  • -नुक्कड़ नाटक के माध्यम से मानसिक रोगों के प्रति लोगों को किया जागरूक
Gurugram : गुरुग्राम विवि में विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस के उपलक्ष्य में तीन दिवसीय मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता और देखभाल अभियान का आयोजन किया गया। इस अभियान के तहत गुरुग्राम विवि. में स्वास्थ्य जाँच शिविर, मानसिक तनाव से संबंधित रोगियों के लिए निशुल्क चिकित्सीय परामर्श हेतु सुकून वेलनेस क्लिनिक का उद्घाटन, सुकून हेल्पलाइन ई-मेल आईडी लांच, नुक्कड़ नाटक समेत काफी कार्यक्रम आयोजित किए गए। इस अवसर पर गुरुग्राम विवि. के कुलपति प्रो. दिनेश कुमार समेत विवि. के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित रहे । 

तीन दिवसीय अभियान के तहत आयोजित स्वास्थ्य जांच शिविर में गुरुग्राम विवि द्वारा गोद लिए गए पांच गांव कांकरौला, भांगरौला, नवेदा, नाहरपुर और ढोरका के ग्रामवासियों ने भाग लिया। 200 लोगों ने मुफ्त स्वास्थ्य जांच और इलाज का लाभ उठाया। इस मौके पर गुरुग्राम विवि. के कुलपति प्रो. दिनेश कुमार द्वारा गुरुग्राम विवि. के विद्यार्थियों, शिक्षकों, कर्मचारियों के लिए मनोवैज्ञानिक मदद मुहैया कराने के लिए सुकून वेलनेस क्लिनिक का उद्घाटन और हेल्पलाइन ई-मेल आईडी लांच की गई। मनोविज्ञान क्षेत्र के परामर्शदाताओं से अपॉइंटमेंट लेने हेतु सुकून हेल्पलाइन ई-मेल आईडी sukoonडॉटwelness@gurugramuniversityडॉटacडॉटin पर मेल कर इस सुविधा का लाभ उठाया जा सकता है, साथ ही साथ इस दौरान गुरुग्राम विवि के छात्रों द्वारा नुक्कड़ नाटक का प्रदर्शन कर मानसिक रोगों के प्रति लोगों को जागरूक किया गया। 

इस अवसर पर गुरुग्राम विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने कहा कि लोगों के मानसिक स्वास्थ्य की सुरक्षा और इसके बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए ऐसे प्रयासों की निरंतर आवश्यकता है। मानसिक रोग किसी को भी हो सकता है, अगर मानसिक रोगी अच्छी तरह अपना इलाज करवाएं, तो वह ठीक होकर एक अच्छी और खुशहाल जिंदगी जी सकता है उन्होंने आगे कहा कि अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक बने, स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें।

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.