यूपी-112 मुख्यालय में अशोक कुमार और अजय पाल शर्मा ने किया योग, 4500 पीआरवी कर्मियों को बताया महत्व

उत्तर प्रदेश : यूपी-112 मुख्यालय में अशोक कुमार और अजय पाल शर्मा ने किया योग, 4500 पीआरवी कर्मियों को बताया महत्व

यूपी-112 मुख्यालय में अशोक कुमार और अजय पाल शर्मा ने किया योग, 4500 पीआरवी कर्मियों को बताया महत्व

Tricity Today | अशोक कुमार और अजय पाल शर्मा ने किया योग

यूपी-112 मुख्यालय में अशोक कुमार और अजय पाल शर्मा ने किया योग, 4500 पीआरवी कर्मियों को बताया महत्व Lucknow : आज पूरे देश में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जा रहा है। आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर मंगलवार सुबह यूपी-112 मुख्यालय में भी योगाभ्यास किया गया। एडीजी-112 के मार्गदर्शन में हुए इस आयोजन में मुख्यालय में तैनात सभी अधिकारियों, कर्मियों और सहयोगी कंपनी महिंद्रा के प्रतिनिधियों ने प्रतिभाग किया। आजादी के 75वें वर्ष के पर्व अमृत महोत्सव को समेटे इस बार के योग दिवस की थीम “मानवता के लिए योग” पर आधारित है। 

मुख्यालय पर योग की शुरुआत अन्नामलाई विश्वविद्यालय के रिसर्च स्कालर अमित गौरैया ने कराई है। उन्होंने साधकों को योग के कई आसनों का अभ्यास कराया और उनसे होने वाले लाभ के संबंध में भी बताया। इस मौके पर प्रदेश भर में कार्यरत 4500 पीआरवी पर तैनात कर्मियों ने भी योग किया। 
 
कोविड के समय से 112 के कर्मियों को कराया जाता है योग 
कोविड के दौरान 2020 में मुख्यालय में कर्मियों के संक्रमित होने के बाद से यहां नियमित रूप से योग कराया जाता है। कई कर्मियों को योग का प्रशिक्षण देकर उनका उत्साह बढ़ाया गया। इससे कर्मियों को काफी लाभ हुआ है। इसके अलावा मुख्यालय में तैनात संवाद अधिकारियों को विशेष तौर पर योग का प्रशिक्षण दिया जाता है। 

योग के फायदे और महत्व 
योग शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाता है और कर्मियों को तनावमुक्त रखता है। इससे मन और दिमाग पूर्ण रूप से शांत रहता है। बीमारियों से बचाने के साथ ही यह कर्मियों को ऊर्जावान और हमेशा तरोताजा रखता है। नियमित योग करने वाले कर्मी अन्य की तुलना में ज्यादा स्वस्थ और खुश रहते हैं। योग के दौरान ध्यान करने से शरीर और मस्तिष्क को लाभ होता है। 

योग दिवस की शुरूआत 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2014 में साल में एक दिन योग के नाम करने के लिए संयुक्त राष्ट्र के सामने ‘अंतरराष्ट्रीय योग दिवस’ घोषित करने का प्रस्ताव रखा था। संयुक्त राष्ट्र ने इसे स्वीकार कर लिया और 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मान्यता मिली। पहला अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून 2015 को मनाया गया था।

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.