नकली करेंसी का जाल बिछाने वाले गिरोह का पर्दाफाश, पुलिस ने मास्टरमाइंड समेत 5 को दबोचा

लखनऊ से बड़ी खबर : नकली करेंसी का जाल बिछाने वाले गिरोह का पर्दाफाश, पुलिस ने मास्टरमाइंड समेत 5 को दबोचा

नकली करेंसी का जाल बिछाने वाले गिरोह का पर्दाफाश, पुलिस ने मास्टरमाइंड समेत 5 को दबोचा

Tricity Today | पुलिस ने मास्टरमाइंड समेत 5 को दबोचा

नकली करेंसी का जाल बिछाने वाले गिरोह का पर्दाफाश, पुलिस ने मास्टरमाइंड समेत 5 को दबोचा लखनऊ: उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव के पहले नकली करेंसी की खेप को शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में पहुंचाने वाले गिरोह का पुलिस ने पर्दाफाश किया है। बुधवार को पुलिस और सर्विलांस सेल टीम ने तालकटोरा थाना क्षेत्र के आलमनगर पुल से गिरफ्तार किया है। टीम ने गिरोह के मास्टरमाइंड सलमान उर्फ़ आफ़ताब को उसके 4 साथियो के साथ पकड़ा है। पुलिस ने इस गिरोह के पास से 81,550 के जाली नोट और कलर प्रिंटर, बांड पेपर व् अन्य उपकरण भी बरामद किया है। बता दें कि आरोपी रिफा हसियामऊ कालोनी में किराये का मकान लेकर इस जाली नोटों का धंधा कर रहे थे।

81 हज़ार 550 रुपये की नकली करेंसी बरामद
डीसीपी पश्चिम सोमेन वर्मा ने बताया कि पुलिस ने फेक करेंसी के मास्टरमइंड सलमान, मुबस्सिर, अरबाज , सावेज और राहुल को आलमनगर फ्लाईओवर के पास से उस समय गिरफ्तार किया है। जब ये गिरोह नकली नोटों की डिलीवरी करने पहुंचा था। इनके पास से 500, 200, 100, 50 और 20 की नकली नोटों की 81,550 फेक करेंसी बरामद की गई है। वहीं बड़ी मात्रा में जले हुए नोट भी बरामद किये है। जिन्हे आरोपियों ने पुलिस के पकड़े जाने के डर से जला दिया था।

60 हज़ार फेक करेंसी के एवज देता था 10 हज़ार
पुलिस के मुताबिक, ये गिरोह हाई क्वालिटी के कलर प्रिंटर से पहले असली नोटों को स्कैन कर फेक करेंसी तैयार करता था उसके बाद तमाम वेंडर के जरिये इन्हे शहर से लेकर ग्रामीण इलाको में चलवाता था। जिसके एवज में ये 60 हजार की फेक करेंसी के बदले असली 10 हजार की रकम देता था। पुलिस की पूछताछ में इस बात का भी खुलासा हुआ है कि इन नकली नोटों को आने वाले चुनाव में भी खपाया जा रहा था।  खासकर ग्रामीण इलाको में ताकि इनके जरिये तैयार किये गए नकली नोटों को पकड़ा ना जा सके। वहीं पुलिस अब इन आरोपियों को रिमांड पर लेकर पूछताछ की तयारी में है।

अन्य खबरे

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.