सपा और बसपा ने यूपी की कानून व्यवस्था पर उठाया सवाल, मायावती बोली- सपा के नक्शेकदम पर चल रही बीजेपी

Lucknow News : सपा और बसपा ने यूपी की कानून व्यवस्था पर उठाया सवाल, मायावती बोली- सपा के नक्शेकदम पर चल रही बीजेपी

सपा और बसपा ने यूपी की कानून व्यवस्था पर उठाया सवाल, मायावती बोली- सपा के नक्शेकदम पर चल रही बीजेपी

Tricity Today | सपा और बसपा ने यूपी की कानून व्यवस्था पर उठाया सवाल

सपा और बसपा ने यूपी की कानून व्यवस्था पर उठाया सवाल, मायावती बोली- सपा के नक्शेकदम पर चल रही बीजेपी लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मौजूदा हालातों पर राजनीति तेज हो चुकी है। खासकर प्रदेश की कानून व्यवस्था को लेकर विपक्षी नेता भारतीय जनता पार्टी पर हमला करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं। वहीं बीते 25 नवम्बर को प्रयागराज के फाफामऊ में सामूहिक दुष्कर्म के बाद दलित परिवार के चार लोगों की नृशंस हत्या के बाद अब राजनीति जोरों पर है। शनिवार को  सपा मुखिया अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती ने यूपी की कानून-व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए बीजेपी पर सपा के नक्शेकदम पर चलने का आरोप लगाया है। 

विपक्ष ने सरकार पर किया करारा प्रहार
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने प्रयागराज के हत्याकांड को लेकर ट्वीट करके सरकार को घेरा है। दोनों नेताओं ने यूपी की खराब कानून-व्यवस्था को लेकर सरकार पर करारा प्रहार किया है। अखिलेश ने कहा इलाहाबाद के फाफामऊ में दबंगों के द्वारा 4 दलितों की हत्या दलित विरोधी भाजपा सरकार पर एक और बदनुमा दाग़ है। उम्मीद है ये अपराधी बिना चश्मे के भी दिख जाएंगे। वहीं मायावती ने कहा ये घटना सरकार की लचर कानून-व्यवस्था को दर्शाती है। ऐसा लगता है कि इस मामलें में भाजपा भी अब सपा सरकार के ही नक्शेकदम पर चल रही है।

सपा के नक्शेकदम पर चल रही बीजेपी
मायावती ने साफ कहा कि भाजपा भी अब सपा सरकार के ही नक्शे कदम पर चल रही है। प्रयागराज में अभी हाल ही में दबंगों ने एक दलित परिवार के चार लोगों की निर्मम हत्या कर दी गई। जो बता रही है कि यूपी में कानून की क्या व्यवस्था है। योगी आदित्यनाथ सरकार के सारे दावों की इस घटना ने पोल खोल दी है। मायावती ने कहा कि सरकार सभी दोषी दबंगों के विरुद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई करे। 

ये था मामला
बता दें बीती 25 तारीख को प्रयागराज के गोहरी गांव में दिल दहला देने वाली घटना में एक दलित परिवार के चार लोगों की नृशंस हत्या कर दी गई। चारों के सिर पर कुल्हाड़ी से वार कर मारा गया। गुरुवार सुबह फूलचंद (50) उसकी पत्नी मीनू (47) बेटी सपना (17) और बेटे शिव (10) की कमरे में खून से सनी लाश बरामद हुई थी। जिसके बाद पुलिस ने सामूहिक दुष्कर्म और हत्या समेत कई धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। वहीं मामले में लापरवाही बरतने पर फाफामऊ थाना प्रभारी रामकेवल पटेल और सिपाही सुशील सिंह को गुरुवार को ही निलंबित कर दिया गया था

अन्य खबरे

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.