यूपी के कार्यवाहक डीजीपी ने सीएम योगी का जताया आभार, कहा- UP पुलिस परिवार की तरह ईमानदारी से करेगी काम

Lucknow : यूपी के कार्यवाहक डीजीपी ने सीएम योगी का जताया आभार, कहा- UP पुलिस परिवार की तरह ईमानदारी से करेगी काम

यूपी के कार्यवाहक डीजीपी ने सीएम योगी का जताया आभार, कहा- UP पुलिस परिवार की तरह ईमानदारी से करेगी काम

Tricity Today | डीजीपी देवेंद्र सिंह चौहान और योगी आदित्यनाथ

यूपी के कार्यवाहक डीजीपी ने सीएम योगी का जताया आभार, कहा- UP पुलिस परिवार की तरह ईमानदारी से करेगी काम Lucknow : उत्तर प्रदेश के कार्यवाहक डीजीपी देवेंद्र सिंह चौहान शुक्रवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ट्वीट करते हुए आभार व्यक्त किया है। उन्होंने कहा उत्तर प्रदेश के पुलिस बल के डीजीपी के रूप में जनता की सेवा का अवसर देने के लिये मैं मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश का हृदय से आभार व्यक्त करता हूँ। यूपी पुलिस एक परिवार की भाँति टीम भावना बनाये रखते हुए शासन की प्राथमिकताओं के अनुसार पूर्ण निष्ठा एवं ईमानदारी से कार्य करेगी। इससे पहले डीएस चौहान ने सीएम योगी से उनके सरकारी आवास 5 कालीदास मार्ग पर जाकर मुलाकात की थी। बता दें कि बीते गुरुवार को प्रदेश सरकार ने भारतीय पुलिस सेवा के वरिष्ठ अधिकारी देवेंद्र सिंह चौहान को राज्य का कार्यवाहक पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) नियुक्त किया था। 

डीएस चौहान ने अधिकारियों को दिए कड़े निर्देश
शासन द्वारा कार्यवाहक डीजीपी के पद की घोषणा होने के बाद गुरुवार शाम महानिदेशक विजिलेंस डीएस चौहान ने गुरुवार देर शाम औपचारिक तौर पर कार्यवाहक डीजीपी के तौर पर चार्ज संभाल लिया था। शुक्रवार सुबह मुख्यमंत्री से शिष्टाचार मुलाकात करने के बाद पुलिस मुख्यालय, सिग्नेचर बिल्डिंग पहुंचे। वहां पुलिस महकमे के विभागाध्यक्षों यानी इंचार्ज से कानून व्यवस्था पर चर्चा की। साथ ही अपने अंदाज में सभी को कानून के दायरे में रहते हुए दोषियों और विभाग की छवि धूमिल करने वालों से सख्ती से निपटने के निर्देश दिए।

किडनी ट्रांसप्लांट रैकेट का खुलासा कर चर्चा में आए थे डीएस चौहान
देवेन्द्र सिंह चौहान गौतमबुद्व नगर(नोएडा) जिले के वर्ष 1998 में एसएसपी भी रह चुके है। जो कि बुलंदशहर से तबादले के बाद जिले की कमान संभालने पहुंचे थे। कमान संभालने के कुछ दिन बाद ही नोएडा के सेक्टर-30 में स्थित एनएमसी अस्पताल में चल रहे किडऩी रैकेट कांड के खुलासे के बाद पूरे देश में चर्चा में आए थे। जहां अस्पताल में भोले भाले लोगों की किडऩी ट्रांसप्लांट का खेल कई वर्षो से चल रहा था। जिन्होंने अस्पताल पर छापेमारी कर अस्पताल मालिक नवीन चौधरी समेत आधा दर्जन से अधिक लोगों को गिरफ्तार की थी।

अन्य खबरे

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.