कोरोना की दूसरी लहर ने ली 2 लाख निवासियों की जान, रोज 2 हजार मौतें हुई, पढ़ें रिपोर्ट

खौफनाक: कोरोना की दूसरी लहर ने ली 2 लाख निवासियों की जान, रोज 2 हजार मौतें हुई, पढ़ें रिपोर्ट

कोरोना की दूसरी लहर ने ली 2 लाख निवासियों की जान, रोज 2 हजार मौतें हुई, पढ़ें रिपोर्ट

Tricity Today | हर 5 में से 3 मौतें कोरोना वायरस की वजह से हुई हैं

कोरोना की दूसरी लहर ने ली 2 लाख निवासियों की जान, रोज 2 हजार मौतें हुई, पढ़ें रिपोर्ट
  • दूसरी लहर के दौरान देश में वायरस से मरने वालों की संख्या 2 लाख से ज्यादा हो गई
  • साल 2020 में इस महामारी के शुरू होने के बाद से हर 5 में से 3 मौतें कोरोना वायरस की वजह से ही हुई हैं
  • बीते 1 मार्च, 2021 से अब तक देश में कोरोना से रोजाना करीब 2000 लोगों की जान गई है
  • सिर्फ दूसरी लहर में ही देश में 57 फ़ीसदी लोगों की मौत इस महामारी से हुई है
  • ब्राजील में बीते 102 दिनों में 2.25 लाख लोगों की जान कोरोना वायरस ने ली है
कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने हिंदुस्तान को इतने गहरे घाव दिए हैं, जिनसे उबर पाना बहुत मुश्किल होगा। संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान देश में वायरस से मरने वालों की संख्या 2 लाख से ज्यादा हो गई है। करीब डेढ़ साल से कोरोना वायरस के कहर से देश पूरी तरह तबाह है। साल 2020 में इस महामारी के शुरू होने के बाद से हर 5 में से 3 मौतें कोरोना वायरस की वजह से ही हुई हैं। जबकि दूसरी लहर के बाद बीते 1 मार्च, 2021 से अब तक देश में कोरोना से रोजाना करीब 2000 लोगों की जान गई है। 

57 फीसदी मौतें दूसरी लहर में
सिर्फ दूसरी लहर में ही देश में 57 फ़ीसदी लोगों की मौत इस महामारी से हुई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, कोरोना संक्रमण से अब तक देश में 3,63,079 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि वायरस की दूसरी लहर  भारत के अलावा दुनिया के कई और बड़े देशों को अपनी चपेट में लिया है। कई विकसित मुल्क अब भी इस महामारी की चपेट में हैं। लेकिन देश में बीते तीन महीनों में जबरदस्त तबाही मची है।

62 फीसदी मामले सिर्फ तीन महीने में
कोरोना वायरस के शुरुआत के बाद करीब 62 फ़ीसदी मामले सिर्फ दूसरी लहर में सामने आए हैं। देश में इसी साल 1 मार्च 2021 से अब तक कोविड के 1.8 करोड़ केस मिल चुके हैं। जबकि कोरोना महामारी के पूरे काल के दौरान अब तक देश में संक्रमण के 2,927,4823 मामले सामने आ चुके हैं। दूसरी लहर में दूसरे देशों ब्राजील में 65.7 लाख और अमेरिका में 48.7 लाख मामले मिल चुके हैं। हालांकि कोरोना की दूसरी लहर में सबसे ज्यादा मौतें ब्राजील में हुई हैं। 
ब्राजील और अमेरिका में हालात भयावह
महामारी की चपेट में फंसे ब्राजील में बीते 102 दिनों में 2.25 लाख लोगों की जान कोरोना वायरस ने ली है। जबकि दुनिया के ताकतवर देशों में से एक संयुक्त राष्ट्र अमेरिका में 1 मार्च 2021 से अब तक 82,738 निवासियों की जान वायरस की वजह से गई है। दुनिया में सबसे ज्यादा मौतों का आंकड़ा भी अमेरिका के नाम है। कोविड के पूरे काल के दौरान इस देश में करीब 6.1 लाख निवासियों की जान जा चुकी है। यह पूरी दुनिया में सबसे अधिक है।

सुधर रहे हालात
हालांकि भारत में अब हालात बदलने लगे हैं। लगातार चार दिनों से कोरोना वायरस के नए मामले एक लाख से कम बने हुए हैं। हालांकि मौतों का सिलसिला सरकार के लिए चिंता का सबब जरूर है। जून महीने के पहले हफ्ते में देश में करीब 16300 लोगों की मौत कोरोना वायरस से हुई है। शुक्रवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में 3403 लोग महामारी की भेंट चढ़े हैं। इसके साथ ही कुल मौतों का आंकड़ा 3,63,079 हो गया है।

रिकवरी रेट 94.9 हुआ 
स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि, 3 मई को देश में रिकवरी रेट 81.8% था। अब रिकवरी रेट बढ़कर 94.9% हो गया है। पिछले 24 घंटों में देश में 1,34,580 मरीज कोरोना वायरस संक्रमण से ठीक हुए हैं। बीते 7 मई को देश में रोजाना औसतन कोरोना के 4,14,000 मामले दर्ज़ हो रहे थे। मगर पिछले 24 घंटों में सिर्फ 91,702 मामलों की पुष्टि हुई है। पिछले लगातार 4 दिनों से देश में 1 लाख से कम नए मामले दर्ज़ किए जा रहे हैं। बीते 4 मई को देश में 531 ऐसे ज़िलों में रोजाना 100 से अधिक कोविड केस मिल रहे थे। मगर अब ऐसे ज़िले महज 196 रह गए हैं।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.