योगी के साथ मोदी मंत्रिमंडल में भी होगा फेरबदल, चुनावी राज्यों को साधा जाएगा

BIG BREAKING : योगी के साथ मोदी मंत्रिमंडल में भी होगा फेरबदल, चुनावी राज्यों को साधा जाएगा

योगी के साथ मोदी मंत्रिमंडल में भी होगा फेरबदल, चुनावी राज्यों को साधा जाएगा

Google Image | PM Narendra Modi & CM Yogi Adityanath

योगी के साथ मोदी मंत्रिमंडल में भी होगा फेरबदल, चुनावी राज्यों को साधा जाएगा
  • योगी आदित्यनाथ 2 दिन के दिल्ली प्रवास पर गुरुवार को राजधानी पहुंचे
  • दोपहर बाद योगी आदित्यनाथ ने गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की
  • शुक्रवार की सुबह यूपी के मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मुलाकात होगी
  • मौजूदा मंत्रिमंडल और यूपी के आने वाले विधानसभा चुनाव पर चर्चाएं होंगी
पिछले करीब दो सप्ताह से उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) के मंत्रिमंडल को लेकर चर्चाएं जोर-शोर से चल रही हैं। माना जा रहा है कि राज्य में आने वाले विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए सरकार और संगठन में बड़ा फेरबदल किया जाएगा। अब दूसरी ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के मंत्रिमंडल में भी बदलाव की चर्चा शुरू हो गई हैं। जानकारी मिली है कि पहले उत्तर प्रदेश और उसके बाद केंद्रीय मंत्रिमंडल में बदलाव किए जाएंगे। प्रधानमंत्री अपने मंत्रिमंडल में उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब और गोवा से कई चेहरों को शामिल करेंगे। दरअसल, इस साल के आखिर तक इन राज्यों में चुनावी रणभेरी बस जाएगी।

योगी आदित्यनाथ और अनुप्रिया पटेल से मिले अमित शाह
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार की दोपहर लखनऊ से दिल्ली पहुंच गए हैं। दोपहर बाद उन्होंने गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की। इसके बाद अमित शाह और पूर्व केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल से मुलाकात हुई। अनुप्रिया पटेल अपना दल की अध्यक्ष हैं और मौजूदा मोदी मंत्रिमंडल में गठबंधन के बावजूद उन्हें जगह नहीं दी गई थी। पिछले कुछ दिनों से राज्य में तरह-तरह की चर्चाएं चल रही हैं। उत्तर प्रदेश की राजनीति पर नजर रखने वालों का कहना है कि अनुप्रिया पटेल समाजवादी पार्टी के मुखिया और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के संपर्क में हैं।

समाजवादी पार्टी वेस्ट यूपी और पूर्वांचल में बना रही है समीकरण
समाजवादी पार्टी पश्चिमी उत्तर प्रदेश में राष्ट्रीय लोकदल और चंद्रशेखर उर्फ रावण के नवोदित राजनीतिक संगठन आजाद समाज पार्टी के साथ मिलकर चुनाव लड़ना चाहती है। वेस्ट यूपी में इस वक्त किसानों का आंदोलन चल रहा है और किसान यूनियन भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ मुखर रूप से काम कर रही है। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत देशभर में घूम-घूम कर भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ प्रचार कर रहे हैं। ऐसे में भाजपा के लिए वेस्ट यूपी का किला भेदना आसान नहीं होगा। दूसरी ओर समाजवादी पार्टी पूर्वांचल में अनुप्रिया पटेल और सुहेलदेव पार्टी के मुखिया ओमप्रकाश राजभर के साथ मिलकर चुनाव लड़ने का गणित भिड़ा रहे हैं। ओमप्रकाश राजभर ने पिछले साल योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल से त्यागपत्र दे दिया था और वह भी मुख्य रूप से राज्य सरकार का विरोध कर रहे हैं।

अनुप्रिया पटेल के विधायक योगी मंत्रिमंडल में शामिल होंगे
समाजवादी पार्टी और अनुप्रिया पटेल की जुगलबंदी की इन संभावनाओं पर विराम लगाने के लिए गुरुवार को अमित शाह ने पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उसके बाद अनुप्रिया पटेल से मुलाकात की है। माना जा रहा है कि उत्तर प्रदेश सरकार के फेरबदल में अनुप्रिया पटेल के विधायकों को तरजीह दी जाएगी। यह भी संभावना है कि अनुप्रिया पटेल को मोदी मंत्रिमंडल में एक बार फिर शामिल किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश से कई सांसदों को मंत्रिमंडल में जगह मिलेगी
इस साल के आखिर तक उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और  में विधानसभा चुनावी दुंदुभी बज जाएगी। अगले साल की शुरुआत तक इन राज्यों में चुनाव होंगे। लिहाजा, इन राज्यों से कई सांसदों को मोदी मंत्रिमंडल में जगह दी जाएगी। ऐसे में केंद्रीय मंत्रिमंडल के कई मौजूदा सदस्यों को संगठन में वापस भेजा जा सकता है। कुछ को प्रदर्शन और उम्र के आधार पर छुट्टी भी दी जाएगी। उम्मीद जताई जा रही है कि उत्तर प्रदेश से कम से कम 4 नए चेहरों को केंद्रीय मंत्रिमंडल में जगह मिलेगी। उत्तराखंड से एक, पंजाब से दो और गोवा से भी एक सांसद को मोदी मंत्रिमंडल में जगह दी जाएगी।

योगी आदित्यनाथ के मंत्रिमंडल में बड़ा फेरबदल किया जाएगा
उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से जुड़े समीकरणों को सेट करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मंत्रिमंडल में बड़ा फेरबदल किया जाना है। इस वक्त यूपी कैबिनेट में 6 स्थान अलग-अलग कारणों से खाली पड़े हुए हैं। कई मौजूदा मंत्रियों की छुट्टी की जाएगी। संगठन को मजबूत करने के लिए सरकार के कई मौजूदा मंत्रियों को वापस भेजा जाएगा। जानकारी मिल रही है कि करीब 15 बदलाव योगी आदित्यनाथ के मंत्रिमंडल में देखने को मिल सकते हैं। इनमें उप मुख्यमंत्री से लेकर कैबिनेट मिनिस्टर, स्टेट मिनिस्टर (इंडिपेंडेंट चार्ज) और स्टेट मिनिस्टर भी शामिल हैं। इस बदलाव में भी पश्चिमी उत्तर प्रदेश और ब्राह्मण समाज को खास तरजीह देने पर मंथन चल रहा है।

शुक्रवार सुबह पीएम और सीएम की मुलाकात में हो जाएगा फैसला
योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार की दोपहर बाद होम मिनिस्टर अमित शाह से मुलाकात कर ली है। अब शुक्रवार की सुबह मुख्यमंत्री की मुलाकात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से होगी। मिल रही जानकारी के मुताबिक शुक्रवार की सुबह दोनों नेताओं की मुलाकात में तमाम बदलावों पर मुहर लग जाएगी। इसके बाद कभी भी योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल और उत्तर प्रदेश भारतीय जनता पार्टी में बदलाव हो जाएगा। यूपी में फेरबदल के कुछ दिन बाद ही केंद्रीय मंत्रिमंडल में भी बदलाव कर दिए जाएंगे। ऐसे में योगी मंत्रिमंडल और उत्तर प्रदेश भारतीय जनता पार्टी से जिन लोगों को अलग किया जाएगा उन्हें केंद्र में उचित जगह दे दी जाएंगी।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.