बड़ी खबर : महज 8 घंटे में कोविन पोर्टल पर एक करोड़ से ज्यादा लोगों ने कराया रजिस्ट्रेशन, वेबसाइट क्रैश हुई

महज 8 घंटे में कोविन पोर्टल पर एक करोड़ से ज्यादा लोगों ने कराया रजिस्ट्रेशन, वेबसाइट क्रैश हुई

Google Image | कोरोना वायरस वैक्सीनेशन

भारत में कोरोना वायरस वैक्सीनेशन तीसरा चरण 1 मई से शुरू होने वाला है। जिसके तहत 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को भी वैक्सीनेट किया जाएगा। 18 से 45 साल वालों तक के लिए बुधवार 28 अप्रैल की शाम चार बजे,  आरोग्य सेतु ऐप,  कोविन पोर्टल, और  उमंग ऐप पर रजिस्ट्रेशन शुरू हो गया है। ये बताया जा रहा था कि ज्यादा संख्या में लॉग-इन करने की वजह से कोविन पोर्टल शुरुआत में क्रैश हो गया था। सरकार ने इस पर कहा कि पहले दिन कोविन ने बिना किसी परेशानी के काम किया। शुरुआत के 3 घंटे में 80 लाख लोगों ने रजिस्ट्रेशन करवाया था। नेशनल हेल्थ अथॉरिटी के सीईओ और कोविन के प्रमुख आरएस शर्मा ने जानकारी दी है कि एक दिन में 1.33 करोड़ लोगों ने वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया है। जिसमें से 2.78 करोड़ लोगों को मैसेज भेजा गया है।

कोविन चीफ आरएस शर्मा ने बुधवार 28 अप्रैल की रात 12 बजकर सात  मिनट पर ट्वीट कर जानकारी दी कि एक दिन में 1.33 करोड़ लोगों ने कोरोना वैक्सीन के लिए कोविन पर रजिस्ट्रेशन करवाया है और 2.78 करोड़ लोगों को मैसेज भेजे गए हैं।वहीं बुधवार 28 अप्रैल की रात 12 बजकर चार मिनट पर आरोग्य सेतु के अधिकारिक ट्विटर हैंडल से जानकारी दी गई है कि Cowin.gov.in एक दिन में 1.32 करोड़ लोगों ने वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया है। 

बुधवार को शाम 4 बजे कुछ मिनटों के लिए वेबसाइट क्रैश होने से पहले कोविन पोर्टल के प्रमुख आरएस शर्मा ने कहा कोविन पर आम तौर पर एक दिन में लगभग 5 मिलियन लोग रजिस्ट्रेशन करते हैं। लेकिन हम इसके दोगुने नंबर के लिए भी तैयार हैं।बुधवार को शाम 4 बजे जैसे ही 18 से 45 साल वालों के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू हुई एक घंटे में 3.5 मिलियन लोगों ने रजिस्ट्रेशन करवाया। आरएस शर्मा ने कहा हमने शुरुआती डेढ़ घंटे में 8.7 मिलियन लोगों को मैसेज किए। हम आपको ये भी बतलाते चले कि अधिक लोगो की शिकायत आ रही है कि रजिस्ट्रेशन कराने के  बाद जो आसानी से ओटीपी मिल जाता था उनको  इन तीनों वेबसाइड से समय पर ओटीपी प्राप्त नही हो पा रही है।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.