करोडपति बनने की चाह में दसवीं फेल छात्र ने अपनाया गलत रास्ता, लड़कियों से करवाता था काम

Updated Dec 29, 2019 04:41:02 IST | Tricity Today Reporter

हाईस्कूल फेल छात्र ने करोड़पति बनने के लिए ठगी का रास्ता अपनाया। एक गैंग बनाकर अब तक कई सौ लोगों को ठग डाला हैं। मेरठ पुलिस ने इस गैंग का शनिवार को खुलासा किया है। दिल्ली के रहने वाले गैंग के पांच सदस्यों को गिरफ्तार किया है। उनके कब्जे से 21 मोबाइल, एक लैपटॉप, 115 सिमकार्ड, 10 कॉलिंग रजिस्टर, 450 लोगों के खाते के विवरण और एक कार बरामद की है।

करोडपति बनने की चाह में दसवीं फेल छात्र ने अपनाया गलत रास्ता, लड़कियों से करवाता था काम
Photo Credit: 
प्रतीकात्मक फोटो

NEW DELHI: हाईस्कूल फेल छात्र ने करोड़पति बनने के लिए ठगी का रास्ता अपनाया। एक गैंग बनाकर अब तक कई सौ लोगों को ठग डाला हैं। मेरठ पुलिस ने इस गैंग का शनिवार को खुलासा किया है। दिल्ली के रहने वाले गैंग के पांच सदस्यों को गिरफ्तार किया है। उनके कब्जे से 21 मोबाइल, एक लैपटॉप, 115 सिमकार्ड, 10 कॉलिंग रजिस्टर, 450 लोगों के खाते के विवरण और एक कार बरामद की है।

गैंग दिल्ली में कॉल सेंटर खोलकर ऑपरेट कर रहा था। क्रेडिट कार्ड पर गिफ्ट का ऑफर बताकर ठगी करता था। बैंक में नौकरी करने वाले अपने दोस्त से कार्डधारक की गोपनीय जानकारी हासिल करते थे। एसपी देहात अविनाश पांडे ने बताया कि मेरठ के साहिल ने ठगी का शिकार होने के बाद पुलिस से शिकायत की थी। जांच के बाद दिल्ली के उत्तमनगर निवासी हिमांशु, अर्जुन, शिवम शर्मा उर्फ प्रवीण, सराय रोहिल्ला निवासी अजय सक्सेना, जनकपुरी निवासी विनय मिश्रा को पकड़ा गया है। ये सभी हाईस्कूल फेल हैं। ये लोग क्रेडिट कार्ड पर ऑफर बताकर ठगी करने वाले गैंग के लोग हैं।

उन्होंने बताया कि इन्होंने दिल्ली में पेन इंडिया के नाम से एक कॉल सेंटर बना रखी थी। कंपनी में लड़कियों को रखा हुआ था। लड़कियों से क्रेडिट कार्ड धारकों को फोन करवाते थे। बताया जाता था कि उनका गिफ्ट निकला है, कुछ रकम जमा करने के बाद एसी, कार या अन्य आइटम दे दिया जाएगा। लड़कियां ग्राहक को उसके क्रेडिट कार्ड का सटीक नंबर बताती थीं, इसलिए लोग विश्वास कर लेते थे, लेकिन रकम जमा करने के बाद जब कुछ मिलता नहीं, तब उन्हें ठगी का अहसास होता था।

ये लोग अब तक सैकड़ों लोगों से करोड़ों की ठगी कर चुके हैं। एसपी देहात ने बताया कि बैंक में नौकरी करने वाले एक दोस्त से गिरोह के सदस्य क्रेडिट कार्ड की सटीक जानकारी लेते थे। गिरोह के तीन सदस्य हरदीप उर्फ सनी, कुलदीप उर्फ हनी और पवन उर्फ पोनी फरार हैं। उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम दबिश दे रही है।

Crime Seen, Call Center, Facker, Younger Boy, High School, Meerut Police, UP Police