नोएडा में इन 12 तालाबों में होगा देवी मूर्तियों का विसर्जन, जानिए आपका तालाब कौन सा है

Updated Dec 29, 2019 04:41:02 IST | Tricity Today Reporter

यमुना और हिंडन नदी को प्रदूषण से बचाने के लिए मूर्ति विजर्सन पर पाबंदी लगा दी गई है। लेकिन शहर के भक्तों के लिए नोएडा प्राधिकरण ने विशेष इंतजाम किए हैं। देवी दुर्गा की मूर्तियों का विजर्सन करने के लिए कृत्रिम तालाब बनाए गए हैं। प्राधिकरण ने शहर में 12 स्थानों पर तालाब बनाए हैं। भीड़ से बचने के लिए यह भी तय किया गया है कि किस सेक्टर के लोग किस तालाब में मूर्तियों का विसर्जित करेंगे। ये सभी तालाब मंगलवार की सुबह आठ बजे तक तैयार हो जाएंगे। तालाबों के पास मूर्तियों के विसर्जन में सहयोग के लिए क्रेन की व्यवस्था भी की गई है।

Photo Credit: 
प्रतीकात्मक फोटो

NOIDA: यमुना और हिंडन नदी को प्रदूषण से बचाने के लिए मूर्ति विजर्सन पर पाबंदी लगा दी गई है। लेकिन शहर के भक्तों के लिए नोएडा प्राधिकरण ने विशेष इंतजाम किए हैं। देवी दुर्गा की मूर्तियों का विजर्सन करने के लिए कृत्रिम तालाब बनाए गए हैं। प्राधिकरण ने शहर में 12 स्थानों पर तालाब बनाए हैं। भीड़ से बचने के लिए यह भी तय किया गया है कि किस सेक्टर के लोग किस तालाब में मूर्तियों का विसर्जित करेंगे। ये सभी तालाब मंगलवार की सुबह आठ बजे तक तैयार हो जाएंगे। तालाबों के पास मूर्तियों के विसर्जन में सहयोग के लिए क्रेन की व्यवस्था भी की गई है।

सेक्टर-25A स्पाइस मॉल के पास दो कृत्रिम तालाब बनाए गए हैं। इनमें सेक्टर-6, 8, 10, 12, 15, 19, 20, 25, 26, 28, 29, 30, 31, 37 और अंबेडकर विहार में स्थापित मूर्तियों का विसर्जन किया जाएगा। सेक्टर-46 रामलीला मैदान में बने तालाब में सेक्टर-45, 46, 50, 99, सेक्टर-62 के निवासी मूर्तियां विसर्जित कर सकते हैं। रामलीला मैदान के दूसरे तालाब में में सेक्टर-55, 57, 59, 62, 63ए और चोटपुर कॉलोनी के लोगों को जाना होगा।

सेक्टर-33A शिल्प हॉट के पीछे बने तालाब में सेक्टर-24, 34, 53, सेक्टर-71 के निवासी जाएंगे। यहीं ए-ब्लॉक के साथ बने तालाब पर सेक्टर-35, 61, 66, 67 और 71 के निवासी जाएंगे। सेक्टर-121 अजनारा होम्स के पीछे तिकोना पार्क में बने तालाब में सेक्टर-121, सेक्टर-78 के दी हाइट पार्क रेजिडेंसी के पाछे बने तालाब में सेक्टर-78 के निवासियों को जाना है। सेक्टर-116 सिविटेक सोसायटी के सामने बने तालाब में सेक्टर-74, 76, 77 में स्थापित देवी मूर्तियों का विसर्जन किया जाएगा।

इसके अलावा सेक्टर-120 प्रतीक लोरियल सोसायटी के पीछे फेसिलिटी भूखंड में निर्मित तालाब में सेक्टर-117, 120 और 122 के लोगों को जाना है। सेक्टर-105 में जजेज कॉलोनी के पास कामर्शियल भूखंड में तालाब बनाया गया है। यहां सेक्टर-82, 93 और ग्राम नगला चरणदास के निवासियों को विसर्जन करना है। सेक्टर-135 ईएसएस के सामने सेक्टर-134 और सेक्टर 135 में स्थापित मूर्तियों का विसर्जन किया जाएगा। सेक्टर-94 में बर्ड सेंचुरी मेट्रो स्टेशन के पास आपातकालीन सेवा कक्ष की स्थापना की गई है।

किसी भी तरह की असुविधा, दुर्घटना या सूचना देने के लिए नियंत्रण कक्ष से संपर्क कर सकते हैं। सारे तालाबों के पास क्रेन लगाई गई हैं। जिनकी मदद से लोग तालाब में मूर्तियों का विसर्जन कर सकते हैं। लोगों को खास हिदायत दी गई है कि बच्चों, महिला और बुजुर्गों को तालाब में प्रवेश करने से रोकें। सभी तालाबों पर पुलिस को तैनात किया गया है। विकास प्राधिकरण ने अपने सुरक्षा कर्मचारी भी तैनात किए गए हैं। सभी तालाबों पर विकास प्राधिकरण की ओर से अधिकारी तैनात रहेंगे। मंगलवार की दोपहर तक सभी तालाबों को पानी से भर दिया जाएगा।

Navaratri, Durga Ashtami, Goddess Durga, Dashhara, Noida Authority, Artificial ponds, Idol Emerson, Navratri