कोरोना वायरस: नोएडा में डॉक्टर समेत 4 और संदिग्ध मरीज मिले

Updated Mar 15, 2020 22:20:46 IST | Chief editor

कोविड-19 के संदिग्ध मरीजों में ग्रेटर नोएडा के एक डॉक्टर भी हैं। डॉक्टर सहित चार लोगों के नमूने रविवार को जांच के लिए भेजे गए। उन्हें ग्रेटर नोएडा के राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती कराया गया है। वहीं सेक्टर-80 की कंपनी से लिए गए चार नमूनों में में से तीन की रिपोर्ट आ गई है। किसी भी में कोरोना वायरस की पुष्टि...

Photo Credit:  Tricity Today
प्रतीकात्मक फोटो

कोविड-19 के संदिग्ध मरीजों में ग्रेटर नोएडा के एक डॉक्टर भी हैं। डॉक्टर सहित चार लोगों के नमूने रविवार को जांच के लिए भेजे गए। उन्हें ग्रेटर नोएडा के राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती कराया गया है। वहीं सेक्टर-80 की कंपनी से लिए गए चार नमूनों में में से तीन की रिपोर्ट आ गई है। किसी भी में कोरोना वायरस की पुष्टि नहीं हुई है।

डॉक्टर सहित चारों संदिग्ध मरीजों में कोविड 19 के लक्षण मिले हैं। कोरोना प्रभावित देश से आए लोगों के संपर्क में डॉक्टर आए थे। तीन अन्य भी विदेश से लौटे थे। इसके बाद इन लोगों में बीमारी के लक्षण मिले हैं। संदिग्ध मरीजों को ग्रेटर नोएडा में भर्ती कराया गया है। इसमें से एक को घर पर अलग कमरे में रहने की हिदायत दी है। जिले से अब तक 182 लोगों के नमूने जांच के लिए भेजे जा चुके हैं। इसमें से 126 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। 26 की जांच रिपोर्ट का इंतजार स्वास्थ्य विभाग को है। नोएडा से एक मरीज में बीमारी की पुष्टि की गई है। जो दिल्ली और नोएडा दोनों स्थानों पर रहता है। उसका नमूना दिल्ली से लिया गया था। इस मरीज का इलाज चल रहा है। 

मंडलीय सर्वेलांस अधिकारी डॉ.अशोक तालयान रविवार को सेक्टर-39 स्थित स्वास्थ्य विभाग कार्यालय पहुंचे। उन्होंने कोरोना वायरस के संदिग्ध, मरीज और निगरानी में रखे गए लोगों से संपर्क करने से संबंधित एक प्रशिक्षण दिया। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. अनुराग भार्गव ने बताया कि बीमारी की आशंका को देखते हुए छुट्टियां रद्द कर दी गई है। रविवार को भी काम चल रहा है। सभी संदिग्ध और निगरानी में रखे गए मरीजों से प्रतिदिन संपर्क कर उनकी तबियत की स्थिति का जायजा ले रहे हैं। बीमारी से बचाव के लिए लोगों को एहतियात बरतने की सलाह दी जा रही है।