गाजियाबाद को मिलेगा 1808 करोड़ रुपये का यह खूबसूरत तोहफा

Updated Dec 29, 2019 04:41:02 IST | Tricity Today Reporter

गाजियाबाद को जल्द ही एक और मेट्रो लाइन का तोहफा मिलने जा रहा है। वैशाली से मोहन नगर तक बिना ड्राइवर के मेट्रो दौड़ेगी। डीएमआरसी ने गुरुवार को जीडीए में अपनी प्रारंभिक रिपोर्ट में इसकी जानकारी दी। रिपोर्ट में बताया गया कि इस मेट्रो का सुपरविजन और प्रोटेक्शन सिस्टम भी ऑटोमैटिक होगा। इस प्रॉजेक्ट की अंतिम डीपीआर अगले हफ्ते प्राधिकरण को सौंपी जाएगी।

Photo Credit: 
प्रतीकात्मक फोटो

गाजियाबाद को जल्द ही एक और मेट्रो लाइन का तोहफा मिलने जा रहा है। वैशाली से मोहन नगर तक बिना ड्राइवर के मेट्रो दौड़ेगी। डीएमआरसी ने गुरुवार को जीडीए में अपनी प्रारंभिक रिपोर्ट में इसकी जानकारी दी। रिपोर्ट में बताया गया कि इस मेट्रो का सुपरविजन और प्रोटेक्शन सिस्टम भी ऑटोमैटिक होगा। इस प्रॉजेक्ट की अंतिम डीपीआर अगले हफ्ते प्राधिकरण को सौंपी जाएगी।

जीडीए में गुरुवार को डीएमआरसी के अधिकारियों के साथ बैठक हुई। इसमें वैशाली से मोहन नगर तक मेट्रो के फेज 3 पर चर्चा की गई। डीएमआरसी ने जीडीए अधिकारियों को प्रारंभिक रिपोर्ट सौंपी। इसमें स्पष्ट बताया गया कि इस कॉरिडोर पर स्वचालित मेट्रो का संचालन किया जाएगा। साथ ही मेट्रो रेल का संचालन पूरी तरह कंट्रोल रूम से होगा।

इस कॉरिडोर पर 4 स्टेशन बनाए जाएंगे। रूट की लंबाई करीब 1 किमी. बढ़ी है। इस कारण इसकी लागत में भी बढ़ोतरी हुई है। हालांकि, साहिबाबाद मेट्रो स्टेशन के डिजाइन में भी बदलाव किया गया है। उसे बड़ा बनाया जाएगा। इससे कॉरिडोर की लागत बढ़ी है। पहले इस कॉरिडोर की लागत 1438 करोड़ रुपये आंकी गई थी, जो अब 370 करोड़ रुपये बढ़कर 1808 करोड़ हो गई है।
 

Ghaziabad, Metro, DMRC, GDA, Ghaziabad Autority