EXCLUSIVE: गौरव चंदेल की हत्या को 50 दिन बीते, परिवार ने कहीं कई बड़ी बात

Updated Feb 26, 2020 17:36:31 IST | Tricity Today Exclusive

ग्रेटर नोएडा वेस्ट में सीनियर मैनेजर गौरव चंदेल की हत्या 6 जनवरी की रात कर दी गई थी। उनकी हत्या को 50 दिन बीत चुके हैं। पुलिस ने दो हत्यारोपियों को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया था। लेकिन अभी मुख्य हत्यारोपी और एक लाख रुपये का ईनामी शातिर बदमाश आशु जाट फरार चल रहा है। उसे पुलिस पकड़ने की कोशिश कर रही है लेकिन वह हर बार चकमा देकर बच निकलने में कामयाब हो जाता है। दूसरी ओर गौरव चंदेल का परिवार अपने नियमित कामकाज पर लौट गया है लेकिन, उन्हें भी आशु जाट की गिरफ्तारी का इंतजार...

Photo Credit:  Tricity Today
Gaurav Chandel's Facebook Profile

ग्रेटर नोएडा वेस्ट में सीनियर मैनेजर गौरव चंदेल की हत्या 6 जनवरी की रात कर दी गई थी। उनकी हत्या को 50 दिन बीत चुके हैं। पुलिस ने दो हत्यारोपियों को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया था। लेकिन अभी मुख्य हत्यारोपी और एक लाख रुपये का ईनामी शातिर बदमाश आशु जाट फरार चल रहा है। उसे पुलिस पकड़ने की कोशिश कर रही है लेकिन वह हर बार चकमा देकर बच निकलने में कामयाब हो जाता है। दूसरी ओर गौरव चंदेल का परिवार अपने नियमित कामकाज पर लौट गया है लेकिन, उन्हें भी आशु जाट की गिरफ्तारी का इंतजार है। बुधवार को टाई सिटी टुडे ने गौरव चंदेल की पत्नी प्रीति चंदेल और बहन शालिनी चंदेल से बात की।

प्रीति चंदेल ने कहा, गौरव को गए 50 दिन हो गए हैं। पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। मुख्य आरोपी अभी भी फरार चल रहा है। पुलिस कहती है कि वह बहुत ज्यादा शातिर है। वह मोबाइल फोन का इस्तेमाल नहीं करता है। इस कारण उसकी जानकारी और लोकेशन का पता नहीं लग रहा है। पुलिस जांच कर रही है। मुझे अब तो पुलिस की ओर से संपर्क नहीं किया गया है। मुझे कोई जानकारी लेनी होती है तो कॉल कर लेती हूं।

प्रीति चंदेल आगे कहती हैं कि उन्हें स्कूल में सहायक अध्यापिका के रूप में नौकरी मिल गई है। मैं गौर इंटरनेशनल स्कूल में काम कर रही हूं। अभी तक सरकारी नौकरी के लिए किसी ने कोई प्रयास शुरू नहीं किया है। मैं एक बार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात करना चाहती हूं। इसके लिए तमाम लोगों से बात की है लेकिन कोई मुझे वहां तक पहुंचाने की कोशिश नहीं कर रहा है या लोगों की उन तक पहुंच नहीं है।

वहीं, दूसरी ओर गौरव चंदेल की बहन शालिनी चंदेल मुंबई वापस लौट चुकी हैं। वह मुंबई में सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं और वहीं रहती हैं। ट्राई सिटी टुडे ने उनसे भी बता की। शालिनी चंदेल ने कहा, अभी मुख्य आरोपी गिरफ्तार नहीं किया गया है। मेरे पास कोई अपडेट नहीं है। जब से ग्रेटर नोएडा से लौटी हूं पुलिस की ओर से कोई जानकारी नहीं दी गई है। हम लोग क्या कर सकते हैं? पुलिस मुख्य आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए प्रयास कर रही है।

गौरतलब है कि गौरव चंदेल हत्याकांड को मिर्ची गैंग के बदमाशों आशु और उमेश ने मिलकर अंजाम दिया था। पुलिस ने उमेश को गिरफ्तार करके इस हत्याकांड का खुलासा किया गया। बताया था कि दोनों बदमाशों ने गौरव पर लघुशंका के दौरान पिस्टल से हमला किया था। लहूलुहान होने के बाद भी गौरव ने हिम्मत दिखाते हुए उमेश को दबोच लिया था। आशु के बार-बार वार करने के बाद भी गौरव ने उमेश को नहीं छोड़ तो आशु ने गौरव को गोली मारी थी।

6 जनवरी की देर शाम को गौरव चंदेल गुरुग्राम से अपनी कार (सेल्टॉस) से गौड़ सिटी अपने घर जा रहे थे। हिंडन पुल से कुछ दूर पहले गौरव लघुशंका के लिए रुके थे। उसी समय सर्विस रोड से जा रहे आशु जाट और उमेश ऑटो से जा रहे थे। गौरव को अकेला देखकर दोनों ने तुरंत ऑटो रुकवाकर गौरव पर हमला कर दिया था।

6 जनवरी को गौरव की हत्या करने के बाद आशु और उमेश ने मुख्य सड़क मार्ग की बजाय ऐसे रास्ते चुने जहां सीसीटीवी कैमरे नहीं थे। बदमाशों ने हत्या के बाद गाड़ी गौर सिटी से सर्विस रोड होते हुए निर्माणाधीन सोसायटियों के बीच के रास्ते से होते हुए ग्रेटर नोएडा वेस्ट और फिर डासना पुल के पास एक खाली प्लॉट में गाड़ी को खड़ा कर दिया था। बदमाशों ने कार को नंबर प्लेट बदलकर इसका प्रयोग किया था और जब पुलिस का ज्यादा दबाव देखा तो डासना के पास पुल के नीचे प्लॉट में कार को खड़ी कर दिया था।