पेपर आउट कराने के आरोप में 7 गिरफ्तार

Updated Jan 08, 2020 18:43:33 IST | Tricity Today Reporter

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जिले में सोमवार को टीईटी परीक्षा का पेपर आउट कराने के आरोप में 7 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार किए गए आरोपियों की प्रश्न-पत्रों को लाखों रुपये में बेचने की योजना थी। पुलिस ने आरोपियों के पास से मोबाइल फोन, एक्टिवेटेड सिम समेत हजारों के कैश भी बरामद किए हैं। इसके अलावा जौनपुर में दूसरे की जगह परीक्षा देते 9 लोगों को गिरफ्तार किया गया।

Photo Credit:  Tricity Today
प्रतीकात्मक फोटो

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जिले में सोमवार को टीईटी परीक्षा का पेपर आउट कराने के आरोप में 7 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार किए गए आरोपियों की प्रश्न-पत्रों को लाखों रुपये में बेचने की योजना थी। पुलिस ने आरोपियों के पास से मोबाइल फोन, एक्टिवेटेड सिम समेत हजारों के कैश भी बरामद किए हैं। इसके अलावा जौनपुर में दूसरे की जगह परीक्षा देते 9 लोगों को गिरफ्तार किया गया।

जानकारी के मुताबिक, गाजीपुर के थाना कोतवाली नगर स्थित बुद्धम् शरणम् इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य पारस सिंह कुशवाहा और उनके तीन रिश्तेदार चंद्रभान कुशवाहा, अजीत कुशवाहा, चंद्रपाल कुशवाहा तथा लिपिक सियाराम यादव समेत 7 लोगों को सामूहिक रूप से पेपर आउट करने के प्रयास के आरोप में एसटीएफ ने बुधवार को गिरफ्तार कर लिया।

डेढ़ लाख में बेचने की थी योजना
बताया जा रहा है कि आरोपियों की प्रश्नपत्रों को मोबाइल से स्कैन कर और उसे सॉल्व कर डेढ़-डेढ़ लाख रुपए में परीक्षार्थियों को बेचने की योजना थी। गिरफ्तार किए गए अजीत के मोबाइल में प्रश्नपत्रों के सी और डी सेट के कुल 50 पन्ने बरामद किए गए। इसके अलावा कुछ प्रश्नपत्रों के प्रिंटिंग भी बरामद किए गए हैं। आरोपियों में से एक पारस कुशवाहा इससे पहले साल 2016 में भी यूपी पॉलिटेक्निक एंट्रेंस परीक्षा प्रकरण में जेल जा चुका है।

प्रयागराज एसटीएफ ने किया पर्दाफाश
एसटीएफ की प्रयागराज यूनिट ने टीईटी के इस सॉल्वर गिरोह का पर्दाफाश किया। इनमें गिरोह का मुख्य सरगना कॉलेज प्रबंधक, दलाल और सॉल्वर शामिल हैं। गिरफ्तार किए गए लोगों के कब्जे से 180 मोबाइल फोन, 220 फ्री एक्टिवेटेड सिम, 1 ब्लूटूथ स्पीकर डिवाइस, एक इनोवा क्रिस्टा कार, एक टाटा मांजा कार और दो बाइक भी बरामद की गई है। एसटीएफ ने गिरोह के कब्जे से करीब 41 हजार रुपए कैश भी बरामद किया है।

मुखबिर की सूचना पर धराए आरोपी
बता दें कि एसटीएफ ने मुखबिर की सूचना पर गिरोह के लोगों गिरफ्तार किया। एसटीएफ गिरफ्तार लोगों से पूछताछ कर रही है। गौरतलब है कि प्रदेश भर के 1686 परीक्षा केंद्रों पर 16 लाख से अधिक परीक्षार्थियों ने बुधवार को दो पालियों में टीईटी की परीक्षा दी। परीक्षा में गड़बड़ी की आशंका को देखते हुए एसटीएफ के साथ ही शिक्षा विभाग की विशेष टीमें भी लगाई गई थीं। इसी दौरान मुखबिर से इस गड़बड़ी की सूचना मिली और एसटीएफ ने गड़बड़ी से पहले ही गिरोह के सदस्यों को प्रयागराज के सिविल लाइंस इलाके से दबोच लिया।

9 'मुन्नाभाई' गिरफ्तार
इसके अलावा जौनपुर के लाइन बाजार थाना इलाके में अलग-अलग परीक्षा केंद्रों पर दूसरों की जगह परीक्षा देते 9 लोगों को पकड़ा गया। पुलिस इन लोगों को गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है।