EXCLUSIVE: "बुआ जी" को अखिलेश यादव ने दिया बर्थ डे गिफ्ट

Updated Dec 29, 2019 04:41:02 IST | Tricity Today Correspondent/Noida

नोएडा और ग्रेटर नोएडा से दूरी बनाकर रखने वाले मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पार्टी यहां चुनाव भी नहीं लड़ेगी। अखिलेश यादव तीनों सीट (नोएडा, दादरी और जेवर) गठबंधन के साथियों को देंगे। सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि नोएडा और जेवर सीट कांग्रेस को मिलेगी। दादरी सीट राष्ट्रीय लोकदल के खाते में जा सकती है। अखिलेश यादव ने अपनी पहली सूची में इन तीनों सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा नहीं की थी।

Photo Credit: 


गौतमबुद्ध नगर जिला बसपा सुप्रीमो मायावती का गृह जनपद है। नोएडा और ग्रेटर नोएडा से दूरी बनाकर रखने वाले मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पार्टी यहां चुनाव भी नहीं लड़ेगी। अखिलेश यादव तीनों सीट (नोएडा, दादरी और जेवर) गठबंधन के साथियों को देंगे। सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि नोएडा और जेवर सीट कांग्रेस को मिलेगी। दादरी सीट राष्ट्रीय लोकदल के खाते में जा सकती है। अखिलेश यादव ने अपनी पहली सूची में इन तीनों सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा नहीं की थी।
 

चुनाव आयोग से समाजवादी पार्टी और साइकिल पर फैसला आने के तुरंत बाद अखिलेश यादव और राहुल गांधी गठबंधन की घोषणा करेंगे। पिछले पांच वर्ष मुख्यमंत्री रहते अखिलेश यादव पूरे प्रदेश में गए लेकिन गौतमबुद्ध नगर एक बार भी नहीं आए। मिथक है कि यहां आने वाले सीएम की सरकार चली जाती है। अब अखिलेश यादव की पार्टी गौतमबुद्ध नगर की तीनों सीटों पर चुनाव भी नहीं लड़ेगी। दरअसल, अखिलेश जातने हैं कि गौतमबुद्ध नगर में सबसे मजबूत बहुजन समाज पार्टी है। उसके बाद भाजपा का नंबर है। यहां की तीनों सीटों पर फाइट भी बसपा और भाजपा के बीच है।

 

गौतमबुद्ध नगर में समाजवादी पार्टी से ज्यादा बेहतर स्थिति तो कांग्रेस की है। ऐसे में अखिलेश यादव तीनों सीटें कांग्रेस के लिए छोड़ सकते हैं। अगर रालोद से गठबंधन हुआ तो तीन में से एक सीट उन्हें दे दी जाएगी। अखिलेश बिना वजह गौतमबुद्ध नगर में ताकत जाया नहीं करना चाहते हैं। अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि जिले से सपा के दो जनप्रतिनिधि हैं लेकिन दोनों उच्च सदनों में हैं। नरेंद्र सिंह भाटी विधान परिषद और सुरेंद्र सिंह नागर राज्यसभा में हैं। चुनावी जीत हासिल करने की स्थिति में पार्टी कभी नहीं रही है।

Samajwadi Party, SP supremo Mulayam Singh Yadav, Chief Minister Akhilesh Yadav, Shivpal Yadav, UP el