गाय, गांव और किसान के लिए जेलों में रहे हैं वाईपी सिंहः मूले नंबरदार

Updated Dec 29, 2019 04:41:02 IST | Tricity Today Correspondent/Ghaziabad

धौलाना क्षेत्र के नंदपुर गांव में रविवार को किसानों ने पंचायत की। पंचायत में किसानों ने विधानसभा चुनाव के लिए रणनीति तय की। जिसमें बुजुर्गों ने सर्व सम्मति से निर्णय लिया कि धौलाना सीट से वाईपी सिंह को चुनाव लड़वाया जाएगा। बुजुर्ग नेता मूले सिंह नंबरदार ने कहा, वाईपी सिंह गाय, गांव और किसान के लिए संघर्ष कर रहे हैं। कई बार इनके लिए जेल गए हैं।

Photo Credit: 

 

धौलाना क्षेत्र के नंदपुर गांव में रविवार को किसानों ने पंचायत की। पंचायत में किसानों ने विधानसभा चुनाव के लिए रणनीति तय की। जिसमें बुजुर्गों ने सर्व सम्मति से निर्णय लिया कि धौलाना सीट से वाईपी सिंह को चुनाव लड़वाया जाएगा। बुजुर्ग नेता मूले सिंह नंबरदार ने कहा, वाईपी सिंह गाय, गांव और किसान के लिए संघर्ष कर रहे हैं। कई बार इनके लिए जेल गए हैं।

 

नंबरदार ने कहा, वाईपी सिंह पढ़े-लिखे हैं और चार्टर्ड एकाउंटेंट जैसे हाईप्रोफाइल व्यवसाय में हैं लेकिन अपने क्षेत्र और गांव से उस व्यक्ति का हमेशा जुड़ाव रहा है। हमारे क्षेत्र में चल रही गौकशी को रोकने के लिए वाईपी सिंह ने वर्ष 2006 में बड़ा आंदोलन खड़ा किया था। लेकिन माफियाओं को संरक्षण देने वाली सरकार ने उन्हें जेल में डाल दिया। 30 दिनों तक जेल में रहे। इसके बाद वर्ष 2011 में जिले के किसानों के लिए हापुड़ तक 40 किलोमीटर लंबी पदयात्रा का आयोजन किया। किसानों के लिए पुलिस की लाठियां खाईं।

 

सपनावत के कलुवा प्रधान ने कहा, 2013 में मुजफ्फरनगर दंगों के खिलाफ वाईपी सिंह ने आवाज उठाई। पुलिस ने वाईपी सिंह को गिरफ्तार किया और जेल में डाल दिया। लेकिन वह झुके नहीं। सात दिनों तक जेल में रहे। ऐसे ही जुझारू और जमीन से जुड़े उम्मीदवार की हमें जरूरत है। पिछले विधानसभा चुनाव में वाईपी सिंह को 38 हजार वोट मिले थे। हम लोगों के वोट नासमझी के कारण बंट गए थे। किसानों ने अपील की कि इस बार सोच समझकर वोटिंग की जाएगी। क्षेत्र का विकास करने में सक्षम उम्मीदवार का समर्थन किया जाएगा।

यह भी पढ़िए

गाजियाबाद: धौलाना सीट से वाईपी सिंह होंगे भाजपा प्रत्याशी

UP assembly election 2017, Uttar Pradesh Vidhan Sabha Chunav 2017, Congress, Bhartiya Janta party, S