कोरोना वायरस की चपेट में दुनिया के टॉप 100 में ​से 93 अरबपति

Updated Mar 16, 2020 09:56:15 IST | Rakesh Tyagi

कोरोना वायरस के चलते दुनियाभर में हाहाकार मचा है। 6,000 लोग मर चुके हैं। लाखों बीमार हैं। पूरी दुनिया के बाजारों अनिश्चितता की स्थिति बन गई है। अमेरिकी बाजारों में जहां 1987 के बाद सबसे बड़ी गिरावट आई, वहीं भारतीय बाजारों में इतनी बड़ी गिरावट आई कि 12 साल बाद लोअर सर्किट लगाना पड़ गया है। फिलहाल इस वायरस के संक्रमण के चलते दुनियाभर में शेयर ट्रेडिंग एक्टिविटी सुस्त पड़ी है। इसके चलते निवेशकों के लाखों करोड़ रुपये डूब गए हैं।

Photo Credit:  Tricity Today
Demo Picture
Key Highlights
अमेरिकी बाजारों में जहां 1987 के बाद सबसे बड़ी गिरावट आई, वहीं भारतीय बाजारों में इतनी बड़ी गिरावट आई कि 12 साल बाद लोअर सर्किट लगाना पड़ गया है।
बिल गेट्स की संपत्ति में 1.11 लाख करोड़ की कमी आई है। मुकेश अंबानी को 1.37 लाख करोड़ का नुकसान हुआ है। टॉप 100 में शामिल 93 अरबपतियों की दौलत घटी।
दुनिया के टॉप अरबपतियों की दौलत में भी भारी कमी आई है। ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स के मुताबिक दुनिया के सबसे अमीर शख्स जेफ बेजोस ने ढाई माह में 74 हजार करोड़ गंवा दिए हैं।

कोरोना वायरस के चलते दुनियाभर में हाहाकार मचा है। 6,000 लोग मर चुके हैं। लाखों बीमार हैं। पूरी दुनिया के बाजारों अनिश्चितता की स्थिति बन गई है। अमेरिकी बाजारों में जहां 1987 के बाद सबसे बड़ी गिरावट आई, वहीं भारतीय बाजारों में इतनी बड़ी गिरावट आई कि 12 साल बाद लोअर सर्किट लगाना पड़ गया है। फिलहाल इस वायरस के संक्रमण के चलते दुनियाभर में शेयर ट्रेडिंग एक्टिविटी सुस्त पड़ी है। इसके चलते निवेशकों के लाखों करोड़ रुपये डूब गए हैं।

दुनिया के टॉप अरबपतियों की दौलत में भी भारी कमी आई है। ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स के मुताबिक दुनिया के सबसे अमीर शख्स जेफ बेजोस ने ढाई माह में 74 हजार करोड़ गंवा दिए हैं। बिल गेट्स की संपत्ति में 1.11 लाख करोड़ की कमी आई है। मुकेश अंबानी को 1.37 लाख करोड़ का नुकसान हुआ है। टॉप 100 में शामिल 93 अरबपतियों की दौलत घटी। केवल  7 लोग ऐसे हैं, जिन्होंने इस दौर में भी पैसा कमाया है।

मुकेश अंबानी की दौलत 1.37 लाख करोड़ घटी

भारत के सबसे अमीर शख्स मुकेश अंबानी की बात करें तो उन्हें इस साल सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है। 1 जनवरी से अब तक मुकेश अंबानी की दौलत में 1860 करोड़ डॉलर यानी 1.37 लाख करोड़ की कमी आ चुकी है। अभी उनकी कुल दौलत 40 अरब डॉलर है और वह दुनिया के 19वें सबसे अमीर शख्स बने हुए हैं।

इस साल रिलायंस इंडस्ट्रीज में करीब 27 फीसदी या 407 अंकों की गिरावट आई है और शेयर 1106.90 के भाव पर आ गया। आरआईएल का मार्केट कैप इस सल 10 लाख करोड़ के पार चला गया था, जो अब घटकर 7.01 लाख करोड़ रह गया है।

इन्हें हुआ बड़ा फायदा

  1. एलन आर मस्क (अमेरिका), रैंक: 24, संपत्ति: 3220 करोड़ डॉलर यानी 2.38 लाख करोड़ रुपये, इस साल कितनी बढ़ी दौलत: 34,114 करोड़ रुपये, इंडस्ट्री: टेक्नोलॉजी, एलन आर मस्क टेस्ला के चीफ एग्जीक्यूटिव आफिसर हैं। टेस्का इलेक्ट्रिक व्हीकल बनाती है। वह स्पेस एक्सप्लोरेशन टेक्नोलॉजी के भी सीईओ हैं।
  2. रे डैलियो (अमेरिका), रैंक: 50, संपत्ति: 1690 करोड़ डॉलर यानी 1.25 लाख करोड़ रुपये, इस साल कितनी बढ़ी दौलत: 2516 करोड़ रुपये, इंडस्ट्री: फाइनेंस, रे डैलियो अमेरिका के अरबपति निवेयाक, हेज फंड मैनेजर और फिलैंथ्रोपिस्ट हैं। डैलिया इन्वेस्टमेंट फर्म ब्रिजवाटर एसोसिएट्स के फाउंडर, कोचेयरमैन और को चीफ इन्वेस्टमेंट आफिसर हैं।
  3. झांग हुइजुआन (चीन), रैंक: 61, संपत्ति: 1540 करोड़ डॉलर यानी 1.14 लाख करोड़ रुपये, इस साल कितनी बढ़ी दौलत: 12654 करोड़ रुपये, इंडस्ट्री: हेल्थ केयर, झांग हुइजुआन चीन के ड्रग कंपनी हनोश फार्मा के मालिक हैं। कंपनी आनकोलॉजी, साइकोलॉजी में इस्तेमाल होने वाली दवाओं के अलावा एंटीबॉयोटिक बनाती है।
  4. पीटर वू (हांगकांग), रैंक: 84, संपत्ति: 1340 करोड़ डॉलर यानी 99160 करोड़ रुपये, इस साल कितनी बढ़ी दौलत: 4691 करोड़, इंडस्ट्री: रियल एस्टेट
  5. लीयू यांगहावो (चीन), रैंक: 85, संपत्ति: 1330 करोड़ डॉलर यानी 99000 करोड़ रुपये, इस साल कितनी बढ़ी दौलत: 15466 करोड़, इंडस्ट्री: डाइवर्सिफाई
  6. किन यींगलिन (चीन), रैंक: 96, संपत्ति: 1240 करोड़ डॉलर यानी 91760 करोड़ रुपये, इस साल कितनी बढ़ी दौलत: 24050 करोड़, इंडस्ट्री: फूड एंड बेवरेजेज
  7. ली शिटिंग (सिंगापुर), रैंक: 98, संपत्ति: 1240 करोड़ डॉलर यानी 91760 करोड़, इस साल कितनी बढ़ी दौलत: 23606 करोड़ रुपये, इंडस्ट्री: हेल्थकेयर