झोलाछाप डॉक्टर के गलत इलाज से 13 साल की एक बच्ची की मौत

Updated Jan 10, 2020 09:46:03 IST | Tricity Today Reporter

दक्षिणी दिल्ली के मैदानगढ़ी इलाके में एक झोलाछाप डॉक्टर के गलत इलाज के चलते 13 साल की एक बच्ची की मौत हो गई। बच्ची की मौत के बाद परिजनों ने हंगामा किया और डॉक्टर के खिलाफ पुलिस में शिकायत दी।

Photo Credit:  Tricity Today
प्रतीकात्मक फोटो

DELHI: दक्षिणी दिल्ली के मैदानगढ़ी इलाके में एक झोलाछाप डॉक्टर के गलत इलाज के चलते 13 साल की एक बच्ची की मौत हो गई। बच्ची की मौत के बाद परिजनों ने हंगामा किया और डॉक्टर के खिलाफ पुलिस में शिकायत दी। शिकायत के बाद पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लेकर जब उसके मेडिकल डिग्री की जांच की तो पता चला उसके पास डॉक्टरी की कोई भी डिग्री है ही नही। इसके बाद भी वह डॉक्टर इलामके में प्रैक्टिस कर रहा था। बहरहाल जांच के बाद पुलिस ने आरोपी डॉक्टर को गिरफ्तार कर उसे जेल भेज दिया है। 

जिले के पुलिस उपायुक्त अतुल कुमार ठाकुर ने आरोपी की पहचान बंशी लाल (47) के तौर पर की है, जो संजय कॉलोनी इलाके में अपना क्लिनिक चलाता था। बताया जाता है कि भाटी माइन्स इलाके में रहने वाला बच्चू पासवान अपनी 13 साल की बच्ची की तबीयत खराब होने पर उसे दिखाने के लिए इस डॉक्टर के पास आया था। जहां गलत इलाज की वजह से बच्ची की तबीयत इतनी बिगड़ गई कि उसकी मौत ही हो गई। उसने डॉक्टर पर बच्ची की मौत का इल्जाम लगाते हुए उसकी शिकायत पुलिस से की। 

इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने जब आरोपी डॉक्टर से उसकी मेडिकल की डिग्री दिखाने को कहा तो उसने आर्युवेदिक डिग्री दिखाई, जो मेडिकल प्रैक्टिस के लिए पर्याप्त नहीं थी। इसके अलावा उसके पास डॉक्टरी कोई भी अन्य डिग्री मौजूद नहीं थी। इस बात का खुलासा होते ही पुलिस ने आईपीसी की धारा 304/419 और 27 डीएमसी के तहत केस दर्ज करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।