Greater Noida: दलित युवती के घर बारात लेकर पहुंचा युवक, जुर्माना भरकर बैरंग लौटा

Updated Jun 29, 2020 21:01:03 IST | Rakesh Tyagi

ग्रेटर नोएडा के बिलासपुर कस्बे में बड़ा अजीबोगरीब मामला सामने आया है। एक बेवकूफ बिचौलिए ने दो गैर बिरादरी के युवक और युवती की शादी तय करवा...

Greater Noida: दलित युवती के घर बारात लेकर पहुंचा युवक, जुर्माना भरकर बैरंग लौटा
Photo Credit:  Google Image
प्रतीकात्मक फोटो

ग्रेटर नोएडा के बिलासपुर कस्बे में बड़ा अजीबोगरीब मामला सामने आया है। एक बेवकूफ बिचौलिए ने दो गैर बिरादरी के युवक और युवती की शादी तय करवा दी। जब फेरे पड़ने लगे तो पता चला कि युवती दलित है और युवक जाट बिरादरी से ताल्लुक रखता है। इसके बाद तो मामला बिगड़ गया। हालात ऐसे बने कि बिलासपुर में दुल्हन पक्ष के लोगों ने बारातियों को बंधक बना लिया। अंततः घण्टों चली पंचायत और जुर्माना भरने के बाद दूल्हा बैरंग बारातियों के साथ वापस लौटा।

ग्रेटर नोएडा के बिलासपुर कस्बे में धोखे से गैर जाति की दुल्हन से विवाह करने आए हरियाणा के दूल्हा और बराती जुर्माना देकर जैसे-तैसे अपने घर वापस लौटे। दोनों पक्षों ने अंत में फैसला कर लिया। पुलिस में रिपोर्ट नहीं की। पुलिस का कहना है कि मामले के बारे में किसी भी पक्ष ने कोई जानकारी नहीं दी है।   

फेरे पड़ने लगे तो आपसी बातचीत में हुआ जाति का खुलासा

बिलासपुर कस्बे के निवासी एक व्यक्ति की पुत्री के साथ 5 दिन पहले हरियाणा के एक गांव से शादी तय हुई थी। दूल्हा पक्ष जाट बिरादरी से था। वहीं, दुल्हन दलित जाति की थी। शादी बिचौलिए ने तय की थी। बिचौलिए ने एक-दूसरे से दोनों पक्षों को उनकी अपनी ही जाति में रिश्ता तय होने की बात बताई थी। शादी तय होने के बाद दूल्हे के परिजन और बराती बिलासपुर कस्बे में ब्याह करने चले आए। बारातियों की दावत हुई। दावत के बाद फेरे पड़ने शुरू हुए। इसी बीच वर और वधू पक्ष के लोगों में हुई बातचीत से पता चला कि दूल्हा और दुल्हन दोनों की जाति अलग-अलग हैं। इसके बाद तो दोनों पक्षों में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में फेरे रोक दिए गए। दुल्हन पक्ष ने दूल्हे और बारातियों को बंधक बनाकर कमरे में बंद कर लिया। 

जुर्माना भरकर दूल्हा बाराती हो संग वापस लौटा

दुल्हन पक्ष ब्याह में दावत में हुए खर्चे की मांग कर रहा था। जैसे-तैसे दोनों पक्षों में घंटों पंचायत चली और एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाने लगे। शादी तय कराने वाले बिचौलिए को भी जमकर खरी-खोटी सुनाई गई। इसी बीच मौका देखकर बिचौलिया वहां से फरार हो गया। दोनों पक्षों में हुई पंचायत और कस्बे के लोगों के हस्तक्षेप से आखिरकार सुलह हो गई। दूल्हा पक्ष को शादी और दावत पर हुए खर्चे की आधी रकम दुल्हन पक्ष को देनी पड़ी। तब जाकर कहीं दूल्हा और बारातियों को बंधक मुक्त किया गया। बेचारा दूल्हा बारातियों के साथ वापस बेरंग लौट गया। 

इस संबंध में पुलिस अधिकारियों का कहना है कि बारातियों को बंधक नहीं बनाया गया था। दोनों पक्षों में से किसी ने पुलिस में लिखित शिकायत नहीं की है। इस शादी की पूरे क्षेत्र में चर्चा हो रही है।

Greater Noida, Greater Noida News, Crime in Greater Noida, Marriage in Lockdown, Marriage in Greater Noida