आज तक के एक्जिट पोल में आम आदमी पार्टी को बम्पर बहुमत, भाजपा को बहुत कम सीट और कांग्रेस साफ

Updated Feb 08, 2020 20:12:33 IST | Tricity Today Reporter

वोटिंग के तुरंत बाद सभी न्यूज़ चैनल एक्जिट पोल का प्रसारण कर रहे हैं। हम आपको आजतक के एक्जिट पोल की पूरी जानकारी दे रहे हैं। चैनल ने पोल सर्वे के मुताबिक अभी तक तीन लोकसभा...

Photo Credit:  Tricity Today
AAP, BJP & Congress

वोटिंग के तुरंत बाद सभी न्यूज़ चैनल एक्जिट पोल का प्रसारण कर रहे हैं। हम आपको आजतक के एक्जिट पोल की पूरी जानकारी दे रहे हैं। चैनल ने पोल सर्वे के मुताबिक अभी तक तीन लोकसभा क्षेत्रों के संभावित परिणाम बताए हैं। इनमें आम आदमी पार्टी एकतरफा जीत रही है।

पश्चिम दिल्ली
इस इलाके की 10 सीट में से आम आदमी पार्टी को 56 फीसदी वोट के जरिए 9-10 सीट मिल सकती हैं। यहां भाजपा को 0-1 सीट मिलने की संभावना है। यहां कांग्रेस को कोई सीट मिलती नहीं दिख रही है।

उत्तर पश्चिमी दिल्ली
आम आदमी पार्टी को यहां 56 प्रतिशत वोटों के साथ 7-10 सीट मिलने की संभावना है। यहां भाजपा को 1-3 सीट मिल सकती हैं। यहां भाजपा को 25 प्रतिशत वोट मिल सकते हैं। कांग्रेस को केवल 6 फीसदी वोट के साथ कोई सीट मिलने की उम्मीद नहीं है। 

उत्तर पूर्व दिल्ली
यहां की 10 सीट के मतदान में आम आदमी पार्टी को 54 प्रतिशत, भाजपा को 37 फीसदी और कांग्रेस को केवल 5 प्रतिशत वोट मिलने की उम्मीद है। अगर सीट की बात करें तो आप को 07-10 सीट और भाजपा को 0-3 सीट मिल सकती हैं। कांग्रेस को यहां भी कोई सीट नहीं मिलने की उम्मीद है।

चांदनी चौक
इस लोकसभा क्षेत्र की 10 सीटों में से आम आदमी पार्टी को 9-10 सीट मिलने की संभावना है। यहां भाजपा को 0-1 और कांग्रेस को जीरो सीट मिलने की सम्भवना एक्जिट पोल में है। अगर वोटिंग परसेंटेज की बात करें तो आम आदमी पार्टी को यहां 59 फीसदी वोट मिल सकते हैं। भाजपा को 35 फीसदी वोट मिलने की संभावना है। कांग्रेस को केवल 5 प्रतिशत वोट मिलने की उम्मीद है।

पूर्वी दिल्ली
इस इलाके की 10 सीटों पर भी यही ट्रेंड नजर आ रहा है। यहां आम आदमी पार्टी को एक बार फिर 56 फीसदी, भारतीय जनता पार्टी को 35 फीसदी और कांग्रेस को केवल 6 फीसदी वोट मिलते दिख रहे हैं। ठीक यही हालत सीटों को लेकर है। आम आदमी पार्टी को 9-10 सीट, भाजपा को 0-1 और कांग्रेस को शून्य सीट मिलने की संभावना है।

दक्षिण दिल्ली
सासंद रमेश विधूड़ी की सीट पर भी भाजपा और कांग्रेस को कोई फायदा होता नजर नहीं आ रहा है। यहां आम आदमी पार्टी को 55 फीसदी वोट के साथ 9-10 सीट ही मिलने की उम्मीद है। दूसरी ओर भारतीय जनता पार्टी को यहां भी 0-1 सीट ही मिलने की उम्मीद है। भाजपा को 37 प्रतिशत फीसदी वोट मिलने की संभावना है। यहां कांग्रेस को सबसे कम केवल 3 प्रतिशत वोट मिलते नजर आ रहे हैं। कांग्रेस को कोई सीट मिलती इस क्षेत्र में भी नहीं दिखाई दे रही है।

नई दिल्ली
नई दिल्ली में भी ट्रेंड बरकरार है। यहां आम आदमी पार्टी को 56 प्रतिशत मतों के साथ 9-10 सीट मिलने की उम्मीद है। भाजपा को 35 प्रतिशत वोट और 0-1 सीट मिल सकती है। कांग्रेस को यहां भी मायूसी ही मिली है। कोई सीट नहीं मिल रही है। वोट भी केवल 5 फीसदी मिल सकते हैं।

इस तरह ओवरऑल 70 सीट में आम आदमी पार्टी को 59-68 विधानसभा क्षेत्रों में जीत मिलने की संभावना है। भाजपा को 2-11 सीट मिलने की संभावना है। कांग्रेस के खाते में कोई सीट जाती नहीं दिख रही है।