आडवाणी और जोशी को राम मंदिर शिलान्यास का निमंत्रण नहीं मिला, कल्याण सिंह और उमा भारती...

Updated Aug 01, 2020 16:43:03 IST | Rakesh Tyagi

पांच अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में राम जन्मभूमि मंदिर का शिलान्यास करेंगे। इस कार्यक्रम में करीब 300 लोगों को राम मंदिर ट्रस्ट...

आडवाणी और जोशी को राम मंदिर शिलान्यास का निमंत्रण नहीं मिला, कल्याण सिंह और उमा भारती...
Photo Credit:  Google Image
लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी

पांच अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में राम जन्मभूमि मंदिर का शिलान्यास करेंगे। इस कार्यक्रम में करीब 300 लोगों को राम मंदिर ट्रस्ट ने न्योता भेजा है। बड़ी बात यह है कि अब तक भारतीय जनता पार्टी के दो वरिष्ठ नेताओं लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी को निमंत्रण नहीं मिला है। राम जन्मभूमि मंदिर आंदोलन में आडवाणी और जोशी का योगदान अविस्मरणीय है। दूसरी ओर उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह और मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती को निमंत्रण मिल गया है। यह दोनों नेता 4 अगस्त को ही अयोध्या पहुंच जाएंगे।

अयोध्या में राम जन्मभूमि मंदिर के शिलान्यास को लेकर जोर शोर से तैयारियां चल रही हैं। खुद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पूरे कार्यक्रम की तैयारियों की निगरानी कर रहे हैं। इस सप्ताह की शुरुआत में योगी आदित्यनाथ ने तैयारियों का जायजा लेने के लिए अयोध्या का दौरा भी किया था। योगी आदित्यनाथ ने करीब एक दर्जन अधिकारियों की टीम को यह जिम्मेदारी सौंपी है। कोरोना संक्रमण महामारी के चलते इस आयोजन में बहुत ज्यादा लोगों को नहीं बुलाया जा रहा है। राम जन्मभूमि न्यास केवल 300 लोगों को कार्यक्रम में बुला रहा है। लेकिन सबसे बड़ी चौंकाने वाली बात यह है कि अब तक बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं लाल कृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी को पाँच अगस्त के अयोध्या कार्यक्रम के लिए निमंत्रण नहीं पहुंचा हैं। वहीं, कल्याण सिंह और उमा भारती को बुलाया गया है। दोनों चार अगस्त को अयोध्या पहुँच रहे हैं।

आपको बता दें कि इस कार्यक्रम का लाइव प्रसारण दूरदर्शन और देशभर के निजी टीवी चैनल एक साथ करेंगे। न्यास के सचिव चंपत राय की ओर से 3 दिन पहले एक अपील जारी की गई थी। चंपत राय ने राम भक्तों से कहा था कि वह घरों में रहें और अयोध्या आने का प्रयास नहीं करें। कोरोना वायरस संक्रमण के कारण कार्यक्रम में लोगों को शामिल होने की इजाजत नहीं दी जा रही है। यह एक अविस्मरणीय और ऐतिहासिक पल है। जिसका हिस्सा बनने के लिए भारत ही नहीं पूरी दुनिया से लोग लालायित हैं। किंतु कोरोना संक्रमण के चलते कार्यक्रम को सीमित करना मजबूरी बन गई है। चंपत राय ने अपील में आगे लिखा है कि भविष्य में किसी अवसर पर कोई बड़ा कार्यक्रम अवश्य आयोजित किया जाएगा।

Ram Mandir, LK Advani, Murali Manohar Joshi, Kalyan Singh, Uma Bharti