BREAKING: अमित शाह ने दिल्ली-एनसीआर के सभी डीएम-डीसी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग शुरू की, कोरोना के खिलाफ बन रही है रणनीति

BREAKING: अमित शाह ने दिल्ली-एनसीआर के सभी डीएम-डीसी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग शुरू की, कोरोना के खिलाफ बन रही है रणनीति

BREAKING: अमित शाह ने दिल्ली-एनसीआर के सभी डीएम-डीसी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग शुरू की, कोरोना के खिलाफ बन रही है रणनीति

Tricity Today | Amit Shah

BREAKING: अमित शाह ने दिल्ली-एनसीआर के सभी डीएम-डीसी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग शुरू की, कोरोना के खिलाफ बन रही है रणनीति

गृह मंत्री अमित शाह दिल्ली-एनसीआर के सभी आयुक्तों, उपायुक्तों और जिलाधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर रहे हैं। यह वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग आज (गुरुवार) 11:00 बजे शुरू हुई है। इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग का मकसद कोरोना के खिलाफ पूरे दिल्ली-एनसीआर के लिए एक कॉमन योजना बनाना है। गृहमंत्री अलग-अलग जिलों के जिम्मेदार अधिकारियों से बात करके वहां की जरूरतों समस्याओं और मौजूदा स्थितियों का आकलन करेंगे।

दिल्ली, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और राजस्थान में कोरोना के संक्रमण से लड़ने की योजनाओं में विरोधाभास और अंतर को खत्म करने के लिए यह वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग होगी। दरअसल, बुधवार को प्रधानमंत्री के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूरे दिल्ली-एनसीआर के लिए एक समग्र योजना बनाने का प्रस्ताव दिया है।

बैठक में कोरोना संक्रमण के रोकथाम को लेकर चर्चा की जाएगी। साथ ही किस इलाके की क्या जरूरत है, इसका आंकलन किया जाएगा। इस मीटिंग में कोरोना से लड़ने की रणनीति तैयार की जाएगी। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से सटे जिलों में बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामले को देखते हुए गुरुवार सुबह 11 बजे केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह दिल्ली-एनसीआर के डीएम और डीसी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बैठक करेंगे। 

जानकारी के मुताबिक बैठक में मंडलायुक्त स्तर के अधिकारी और स्वास्थ्य मंत्रालय के आला अधिकारी भी शामिल रहेंगे। सूत्रों की मानें तो बैठक में कोरोना संक्रमण के रोकथाम को लेकर चर्चा की जाएगी। साथ ही किस इलाके की क्या जरूरत है, इसका आंकलन करके कोरोना से लड़ने की रणनीति तैयार की जाएगी।

आपको बता दें कि दिल्ली में कोरोना वायरस के बुधवार को एक दिन में रिकॉर्ड सबसे ज्यादा 2414 नए मरीज सामने आए हैं। राष्ट्रीय राजधानी में संक्रमितों की संख्या अब 47,102  हो गई है। वहीं, इस बीमारी से मरने वालों का आंकड़ा 1904 हो गया है। गाजियाबाद में कोरोना संक्रमितों की संख्या 718 पहुंच गई है। गौतम बुध नगर में लगभग 1100 मरीज अब तक के संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं।

बुधवार की सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के सभी मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हालात पर चर्चा की है। इस मीटिंग के दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री से अपील की थी कि दिल्ली-एनसीआर के लिए अलग से एक समग्र योजना बनाई जाए। चार राज्यों के क्षेत्र दिल्ली एनसीआर में हैं। सभी में अलग-अलग दिशा निर्देश के तहत प्रशासनिक अधिकारी काम कर रहे हैं। जिससे समस्या पैदा हो रही है।

आपको बता दें कि इस मसले को लेकर बुधवार को उच्चतम न्यायालय ने भी उत्तर प्रदेश सरकार और गौतम बुध नगर जिला प्रशासन को कड़ी फटकार लगाई थी। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि केंद्र सरकार के निर्देशों का पालन किया जाए। जिला स्तर पर अपने अलग दिशानिर्देश तैयार नहीं करें। दरअसल सुप्रीम कोर्ट दिल्ली बॉर्डर सील करने और असिम्प्टोमैटिक मरीजों को इंस्टीट्यूशनल क्वारंटाइन करने के खिलाफ दायर की गई जनहित याचिका पर सुनवाई कर रहा है। 

अब इन्हीं स्थितियों के मद्देनजर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के प्रस्ताव पर गृह मंत्री अमित शाह दिल्ली एनसीआर के सभी आयुक्तों, उपायुक्तों और जिलाधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर रहे हैं।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.