BIG NEWS : अब अलीगढ़ और मथुरा के किसान होंगे मालामाल, जेवर एयरपोर्ट के पास बड़ा लैंड बैंक बनाएगा यमुना प्राधिकरण

Updated Oct 15, 2020 19:55:18 IST | Harish Rai

गौतमबुद्ध नगर के बाद अब अलीगढ़ और मथुरा के गांवों में विकास योजनाएं आगे बढ़ेंगी। इन जिलों में भी सैकड़ों गांवों के हजारों किसानों...

BIG NEWS : अब अलीगढ़ और मथुरा के किसान होंगे मालामाल, जेवर एयरपोर्ट के पास बड़ा लैंड बैंक बनाएगा यमुना प्राधिकरण
Photo Credit:  Google Image
Yamuna Authority will form a big land bank
Key Highlights
औद्योगिक विकास के लिए लैंड बैंक बनाएगा यमुना प्राधिकरण
प्राधिकरण दोनों जिलों में 4950 एकड़ जमीन का लैंड बैंक तैयार करेगा

गौतमबुद्ध नगर के बाद अब अलीगढ़ और मथुरा के गांवों में विकास योजनाएं आगे बढ़ेंगी। इन जिलों में भी सैकड़ों गांवों के हजारों किसानों को जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट का लाभ मिलने वाला है। उत्तर प्रदेश सरकार ने अलीगढ़ के टप्पल और मथुरा के राया में औद्योगिक हब विकसित करने के लिए यमुना प्राधिकरण को लैंड बैंक बनाने के निर्देश दिए गए हैं। मुख्यमंत्री ने इस इलाके में औद्योगिक विकास की संभावनाओं को देखते हुए यह आदेश दिया है। अब यमुना प्राधिकरण यहां पर जमीन खरीदेगा, ताकि योजनाओं को मूर्त रूप दिया जा सके।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश भर के सभी औद्योगिक विकास प्राधिकरणों में 4,950 एकड़ जमीन का लैंड बैंक बनाने का लक्ष्य रखा है। ताकि औद्योगिक विकास और गति दी जा सके। यमुना प्राधिकरण से भी लैंड बैंक बनाने के लिए कहा गया है। यमुना प्राधिकरण ने औद्योगिक निवेश के लिए अलीगढ़ और मथुरा को नए औद्योगिक क्षेत्र के रूप में विकसित करने के लिए शासन को प्रस्ताव भेजा था। इसके बाद मुख्यमंत्री ने लैंड बैंक बनाने के निर्देश दिए हैं।

इस प्रस्ताव पर मुहर लगने के बाद यमुना प्राधिकरण ने जमीन खरीदने की तैयारी शुरू कर दी है। अलीगढ़ और मथुरा जिले में जमीन खरीदी जाएगी। ये दोनों इलाके प्राधिकरण के अधिसूचित एरिया में आते हैं। अलीगढ़ के टप्पल और मथुरा के राया में अर्बन सेंटर विकसित करने का प्लान तैयार किया गया है। यहां उद्योग लगेंगे और नए आवासीय सेक्टर विकसित होंगे।

यमुना प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी डॉ. अरुण वीर सिंह ने बताया कि जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट और आसपास औद्योगिक इकाइयों को जमीन देने के लिए यमुना एक्सप्रेस वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण ने अभी गौतमबुद्ध नगर और बुलंदशहर जिलों के गांवों में भूमि अधिग्रहण किया है। यमुना प्राधिकरण के अधिसूचित क्षेत्रों में मथुरा, अलीगढ़, आगरा और हाथरस जिले भी शामिल हैं। इन सभी 6 जिलों के करीब 2000 गांव यमुना प्राधिकरण के दायरे में आते हैं। अब यमुना एक्सप्रेस वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण गौतमबुद्ध नगर से आगे बढ़कर अलीगढ़ और मथुरा में औद्योगिक गतिविधियों को बढ़ावा देगा। यमुना प्राधिकरण के मास्टर प्लान 2031 में इन दोनों जिलों में इंडस्ट्रियल और अर्बन हब विकसित करने की योजना है।

Aligarh news, Mathura news, Yamuna Authority, land bank, Jewar airport