Greater Noida West: एक सप्ताह बाद भी कंपनी मैनजेर सुशील कुमार का पता नहीं लगा सकी बिसरख पुलिस, जानिए पूरा मामला

Updated Jul 12, 2020 21:49:39 IST | Mayank Tawer

मुनीष चौहान का कहना है कि जिस एटीएम से रूपये निकाले गए है। उस एटीएम बैक से बात की गई है। जल्द ही वीडियो फुटेज प्राप्त होगी। सीसीटी फुटेज के आधार पर पता चलेगा

Greater Noida West: एक सप्ताह बाद भी कंपनी मैनजेर सुशील कुमार का पता नहीं लगा सकी बिसरख पुलिस, जानिए पूरा मामला
Photo Credit:  Tricity Today
कंपनी मैनजेर सुशील कुमार
Key Highlights
पंचशील हाइनिश हाउसिंग सोसाइटी सुशील कुमार पिछले 8 दिनों से लापता
सुशील कुमार 4 जुलाई को घर से अपने दफ्तर गया था
लेकिन वापस नहीं लौटा
सुशील कुमार के एटीएम से कौशाम्बी और नागपुर में एटीएम से रूपये निकाले गए

ग्रेटर नोएडा वेस्ट की पंचशील हाइनिश हाउसिंग सोसाइटी सुशील कुमार पिछले 8 दिनों से लापता है। सुशील कुमार 4 जुलाई को घर से अपने दफ्तर गया था। लेकिन वापस नहीं लौटा है। बताया जा रहा है कि सुशील कुमार के एटीएम से कौशाम्बी और नागपुर में एटीएम से रूपये निकाले गए है। पुलिस इस मामले में जांच कर रही है। इस मामले में पंचशील हायनिश हाउसिंग सोसाइटी के कुछ निवासियों ने बिसरख पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर मुनीष चौहान से मुलाकात की है।

मुनीष चौहान का कहना है कि जिस एटीएम से रूपये निकाले गए है। उस एटीएम बैक से बात की गई है। जल्द ही वीडियो फुटेज प्राप्त होगी। सीसीटी फुटेज के आधार पर पता चलेगा कि आखिर एटीएम से रूपये सुशील कुमार ने निकाले है या फिर किसी और व्यक्ति ने। बिसरख पुलिस इस मामले में जांच में जुटी हुई है। लेकिन पुलिस को आज 8 दिन बाद भी कोई सबूत हाथ नही लगा है। जो काफी गंभीर बात है। इस मामले के बाद सोसाइटी के लोगों में दहशत का माहौल बना हुआ है।
 
इससे पहले 6 जनवरी की देर शाम को ग्रेटर नोएडा वेस्ट के ही निवासी गौरव चंदेल गुरुग्राम से अपनी कार (सेल्टॉस) से गौड़ सिटी अपने घर जा रहे थे। हिंडन पुल से कुछ दूर पहले गौरव लघुशंका के लिए रुके थे। उसी समय सर्विस रोड से जा रहे आशु जाट और उमेश ऑटो से जा रहे थे। गौरव को अकेला देखकर दोनों ने तुरंत ऑटो रुकवाकर गौरव पर हमला कर दिया था। 6 जनवरी को गौरव की हत्या करने के बाद आशु और उमेश ने मुख्य सड़क मार्ग की बजाय ऐसे रास्ते चुने, जहां सीसीटीवी कैमरे नहीं थे। 

अब फिर ग्रेटर नोएडा वेस्ट से एक युवक गायब हो गया है। इस मामले के बाद ग्रेटर नोएडा वेस्ट डर का माहौल पैदा हो गया है। आपकों बता दें कि पंचशील हाइनिश सोसाइटी के निवासी सुशील कुमार नोएडा की एक कंपनी में नौकरी करते हैं। 4 जुलाई की सुबह वह घर से अपने काम पर जाने के लिए निकले थे। शाम करीब 6 बजे उनके साथ काम करने वाले एक सहकर्मी ने सुशील कुमार को सोसायटी के गेट नंबर-1 पर छोड़ दिया था। लेकिन उसके बाद से सुशील कुमार घर नहीं पहुंचे। परिजनों ने काफी देर तक सुशील कुमार की तलाश की। उनका कुछ पता नहीं चलने पर सोमवार को परिजनों ने बिसरख थाने में गुमशुदगी दर्ज करवाई है। दूसरी ओर हाउसिंग सोसायटी में यह सूचना आग की तरह फैल गई है। लोग चिंतित हैं।

बिसरख पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर मुनीष चौहान ने बताया कि गुमशुदगी दर्ज करके मामले की जांच की जा रही है। युवक के साथ लौटे सहकर्मी से पूछताछ की गई है। परिवार के लोगों से भी जानकारी एकत्र की जा रही है। सुशील कुमार के मोबाइल की लोकेशन और कॉल डिटेल रिपोर्ट निकलवाई जा रही है। हाउसिंग सोसायटी और उनके दफ्तर के बीच लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज भी मंगाई गई हैं। उम्मीद है कि जल्दी ही सुशील कुमार की जानकारी मिल जाएगी।

Company Manger Sushil Kumar, Company Manger Missing, Greater Noida West, Greater Noida Society, Bisrakh Police, Noida Police, Missing Company Manger