मुख्यमंत्री ने कोविड-19 के दृष्टिगत पर्वाें और त्योहारों में पूरी सावधानी बरतने के निर्देश दिए

मुख्यमंत्री ने कोविड-19 के दृष्टिगत पर्वाें और त्योहारों में पूरी सावधानी बरतने के निर्देश दिए

Tricity Today |

दीपावली से लेकर छठ पर्व तक व्यापक सावधानी बरतने की आवश्यकताgangaदीपावली एवं छठ पर्व के बाद मनरेगा के तहत तालाबों के पुनरुद्धार कार्य को प्रारम्भ करेंgangaएक्सप्रेस-वेज के किनारे औद्योगिक तथा व्यावसायिक गतिविधियों को बढ़ावा देने की कार्यवाही प्राथमिकता से की जाएgangaविंध्य क्षेत्र में हर घर नल योजना के तहत पेयजल स्कीम के शुभारम्भ के लिए तेजी से सभी तैयारियां सुनिश्चित करने के निर्देशgangaजनपद स्तर पर समीक्षा करते हुए संक्रमण के नियंत्रण के प्रभावी उपाय सुनिश्चित करने के निर्देशgangaकोविड-19 से बचाव के सम्बन्ध में जागरूकता प्रसार के लिए विशेष प्रयास किये जाएंgangaजनपद लखनऊ, कानपुर नगर, वाराणसी तथा मेरठ में कोविड-19 की रिकवरी दर को बेहतर करने के लिए उपचार व्यवस्था को सुदृढ़ बनाया जाएgangaसर्विलान्स व्यवस्था को प्रभावी ढंग से लागू रखने के निर्देशgangaस्वास्थ्य विभाग एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग त्योहारों के मद्देनजर पूरी सतर्कता बरतेंgangaदीपावली के बाद प्रत्येक जनपद में लोन मेले आयोजित किये जाएंgangaप्राथमिक विद्यालयों के छात्र-छात्राओं को जाड़ा बढ़ने से पूर्व स्वेटर वितरित करने के निर्देशgangaखाद्य विभाग, सहकारिता विभाग एवं कृषि विभाग धान क्रय केन्द्रों की व्यवस्था को और सुदृढ़ करें

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 के दृष्टिगत पर्वाें और त्योहारों में पूरी सावधानी बरतने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा है कि दीपावली से लेकर छठ पर्व तक व्यापक सावधानी बरतने की आवश्यकता है, क्योंकि इन पर्वाें में लोग आपस में भेंट करते हैं। छठ पर्व सामूहिक रूप से सम्पन्न किया जाता है। उन्होंने इसके दृष्टिगत जनपद स्तर पर समीक्षा करते हुए संक्रमण के नियंत्रण के प्रभावी उपाय सुनिश्चित करने के निर्देश दिये हैं।

मुख्यमंत्री आज यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में अनलाॅक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कोविड-19 से बचाव के सम्बन्ध में जागरूकता प्रसार के लिए विशेष प्रयास किये जाएं। इसके लिए विभिन्न प्रचार माध्यमों के साथ-साथ पब्लिक एड्रेस सिस्टम का भी उपयोग किया जाए। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि जनपद लखनऊ, कानपुर नगर, वाराणसी तथा मेरठ में कोविड-19 की रिकवरी दर को बेहतर करने के लिए उपचार व्यवस्था को सुदृढ़ बनाया जाए। उन्होंने कहा कि कोविड-19 की मेडिकल टेस्टिंग का कार्य पूरी गति से संचालित किया जाए। उन्होंने सर्विलान्स व्यवस्था को प्रभावी ढंग से लागू रखने के निर्देश भी दिये हैं।

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि स्वास्थ्य विभाग एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग त्योहारों के मद्देनजर पूरी सतर्कता बरतें। मेडिकल काॅलेजों, जिला अस्पतालों, पीएचसी तथा सीएचसी स्तर पर इमरजेंसी व्यवस्था को सक्रिय और प्रभावी बनाकर रखा जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दीपावली के बाद प्रत्येक जनपद में लोन मेले आयोजित किये जाएं। इन कार्यक्रमों से जनप्रतिनिधियों को जोड़ा जाए। उन्होंने प्राथमिक विद्यालयों के छात्र-छात्राओं को जाड़ा बढ़ने से पूर्व स्वेटर वितरित करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि स्वेटर की गुणवत्ता सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि समय से सभी छात्र-छात्राओं को स्वेटर उपलब्ध करा दिये जाएं। इस कार्य में लापरवाही बरतने वालों की जवाबदेही तय की जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पानी की टंकियों की सुरक्षा सुनिश्चित की जाए। इस सम्बन्ध में एक सप्ताह के दौरान सभी आवश्यक प्रबन्ध कर लिये जाएं। उन्होंने खाद्य विभाग, सहकारिता विभाग एवं कृषि विभाग को धान क्रय केन्द्रों की व्यवस्था को और सुदृढ़ करने के निर्देश देते हुए कहा कि किसानों को एमएसपी का लाभ सुनिश्चित कराया जाए।
मुख्यमंत्री ने कहा कि रोजगार सृजन और सेवायोजन के लिए प्रभावी प्रयास किये जाएं। इस सम्बन्ध में एक कार्ययोजना तैयार कर उसे लागू किया जाए। उन्होंने दीपावली एवं छठ पर्व के बाद मनरेगा के तहत तालाबों के पुनरुद्धार कार्य को प्रारम्भ किये जाने के निर्देश भी दिये।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में अनेक एक्सप्रेेस-वे निर्माणाधीन हैं। इन एक्सप्रेस-वेज के किनारे औद्योगिक तथा व्यावसायिक गतिविधियों को बढ़ावा देने की कार्यवाही प्राथमिकता से की जाए। इससे यह एक्सप्रेस-वे राज्य को देश का सबसे प्रोग्रेसिव स्टेट बनाने में महत्वपूर्ण योगदान करेंगे। उन्होंने विंध्य क्षेत्र में हर घर नल योजना के तहत पेयजल स्कीम के शुभारम्भ के लिए तेजी से सभी तैयारियां सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिये।

इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना, स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह, मुख्य सचिव आरके तिवारी, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, पुलिस महानिदेशक हितेश सी अवस्थी, अपर मुख्य सचिव एमएसएमई एवं सूचना नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा डाॅ. रजनीश दुबे, अपर मुख्य सचिव ग्राम्य विकास एवं पंचायतीराज मनोज कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव कृषि देवेश चतुर्वेदी, अपर मुख्य सचिव अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आलोक कुमार, प्रमुख सचिव पशुपालन भुवनेश कुमार, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य आलोक कुमार, राहत आयुक्त संजय गोयल, सचिव मुख्यमंत्री आलोक कुमार सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.