बड़ी खबर : गौर सिटी में बिजली, पानी, सिक्योरिटी और सफाई व्यवस्था बहाल हुई, जल्दी निवासियों और बिल्डर की बैठक होगी

बड़ी खबर : गौर सिटी में बिजली, पानी, सिक्योरिटी और सफाई व्यवस्था बहाल हुई, जल्दी निवासियों और बिल्डर की बैठक होगी

Tricity Today | Greater Noida West

ग्रेटर नोएडा वेस्ट की सबसे बड़ी हाउसिंग सोसायटी गौर सिटी के सिक्सथ एवेन्यू में बिजली, पानी, सिक्योरिटी और सफाई व्यवस्था बहाल कर दी गई है। तीन दिन से हाउसिंग सोसायटी में सारी मूलभूत सुविधाएं बिल्डर ने बंद कर दी थीं। जिसे लेकर स्थानीय निवासी विरोध जाहिर कर रहे थे। सोमवार की शाम सोसाइटी के निवासियों ने मुख्य रास्ते पर ट्रैफिक जाम भी लगा दिया था। अब जिला प्रशासन और विकास प्राधिकरण के निर्देश पर बिल्डर ने सभी मूलभूत सुविधाएं बहाल कर दी हैं। जल्दी ही बिल्डर और स्थानीय निवासियों के बीच इस समस्या का समाधान करवाने के लिए बैठक का आयोजन किया जाएगा।

सोसायटी में रहने वाले अमित शर्मा ने बताया, "बिल्डर की ओर से मंगलवार की दोपहर एक मेल भेजा गया। जिसमें 2 घंटे बाद बैठक के लिए हम लोगों को बुलाया गया था। सभी लोग अपने कार्यालयों में गए हुए थे। लिहाजा, तत्काल इस बैठक में शामिल होना संभव नहीं था। हम लोगों ने मेल का जवाब भेजा। सबसे पहले बिजली, पानी, सुरक्षा और सफाई व्यवस्था बहाल करने की मांग की। उसके बाद बुधवार को दोपहर में किसी वक्त बैठक आयोजित करने के लिए कहा गया। इस पर अमल करते हुए बिल्डर ने मूलभूत सुविधाएं दोबारा शुरू कर दी हैं। अब बुधवार को बैठक का आयोजन किया जाएगा। इस बैठक में सोसाइटी के सभी टावरों से कम से कम एक-एक प्रतिनिधि शामिल होगा। इस बैठक के दौरान अपार्टमेंट ओनर्स एसोसिएशन से जुड़े मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की जाएगी।"

आपको बता दें कि वह गौर सिटी के सिक्स्थ एवेन्यु में अपार्टमेंट ओनर्स एसोसिएशन को लेकर निवासियों और बिल्डर के बीच गतिरोध चल रहा है। निवासियों का कहना है कि अपार्टमेंट ओनर्स एसोसिएशन का पंजीकरण गलत पते पर करवाया गया है। जिसकी वजह से यह अवैधानिक है। बिल्डर ने सोसायटी में नक्शे और लीज प्लान के मुताबिक सारे काम पूरे नहीं किए हैं। अधूरी सोसायटी के हैंडओवर बिल्डर देना चाहता है। इसी बात को लेकर बिल्डर ने तीन दिन पहले सारी मूलभूत सुविधाएं बन्द कर दी थीं। इसी बात को लेकर तीन दिन से गतिरोध चल रहा है।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.