गाजियाबाद के एक साइबर कैफे में बनाए जा रहे थे फर्जी प्रमाण पत्र, गौतम बुद्ध नगर पुलिस ने किया पर्दाफाश

गाजियाबाद के एक साइबर कैफे में बनाए जा रहे थे फर्जी प्रमाण पत्र, गौतम बुद्ध नगर पुलिस ने किया पर्दाफाश

गाजियाबाद के एक साइबर कैफे में बनाए जा रहे थे फर्जी प्रमाण पत्र, गौतम बुद्ध नगर पुलिस ने किया पर्दाफाश

Noida Police | गाजियाबाद के एक साइबर कैफे में बनाए जा रहे थे फर्जी प्रमाण पत्र, गौतम बुद्ध नगर पुलिस ने किया पर्दाफाश

गाजियाबाद के एक साइबर कैफे में बनाए जा रहे थे फर्जी प्रमाण पत्र, गौतम बुद्ध नगर पुलिस ने किया पर्दाफाश
फर्जी प्रमाण पत्र बनाने एवं धोखाधडी करने वाले गिरोह के चार

गाजियाबाद के प्रताप विहार में एक साइबर कैफे में फर्जी प्रमाण पत्र बनाने का गोरखधंधा चल रहा था। नोएडा पुलिस ने एक आरोपी की निशानदेही पर पूरे मामले का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने इस गिरोह में शामिल 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जबकि दो अभी फरार है। पुलिस उनकी तलाश में जुटी है। 

नोएडा सेक्टर 20 पुलिस ने इस पूरे गोरखधंधे का खुलासा किया है। पुलिस ने प्रताप विहार स्थित नमामि के नाम से साइबर कैफे मैं रेड मारी और मौके से आरोपियों को धर दबोचा। पुलिस ने यहां से कंप्यूटर कीबोर्ड फर्जी ड्राइविंग लाइसेंस फर्जी पैन कार्ड फर्जी आधार कार्ड तमाम सामान बरामद किया।

कैसे लोगों को बना रहे थे ठगी का शिकार
पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि हमारा गैंग ऐसे व्यक्तियों को तलाश करता था, जिन्हें अपनी आवश्यकताओं के लिए डी0एल0, आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आई0डी0 कार्ड, मार्कशीट या अन्य प्रमाण पत्र बनवाना चाहते हों और उनके नाम पता एवं अन्य जानकारी प्राप्त कर, उनकी इच्छानुसार फर्जी प्रमाण पत्र बना दिये जाते थे, जिन प्रमाण पत्रों के आधार पर स्कूल में एडमिशन, बैक में फर्जी आई0डी0 लगाकर लोन प्राप्त कर लेना आदि कार्य करते थे। इनके द्वारा प्रताप विहार सैक्टर 11 गाजियाबाद में नमामी कैफे संचालित किया जा रहा था।

कैसे हुआ इस गोरखधंधे का खुलासा
11 जुलाई 2020 को थाना सैक्टर 20 नोएडा पर सूचना प्राप्त हुई कि आईसीआईसीआई बैंक सैक्टर 18 नोएडा मेें एक व्यक्ति स्वयं को एक ऐसे बैंक अकाउन्ट का स्वामी बता रहा है, जो बैंक एकाउन्ट पूर्व से फ्रीज है तथा जिसके खाताधारक की मृत्यु वर्ष 2003 में हो चुकी है। उक्त व्यक्ति कूटरचित पैन कार्ड, वोटर आई0डी0, ड्राईविंग लाईसेंस के आधार पर उक्त बैंक अकाउन्ट से सम्बन्धित मोबाईल नम्बर को बदलवाने का प्रयास कर रहा है। इस सूचना पर स्थानीय पुलिस द्वारा तत्परतापूर्वक कार्यवाही करते हुए बबलू विश्वास पुत्र शान्ति रंजव विश्वास निवासी जे/78बी पाण्डव नगर दिल्ली को फर्जी पैन कार्ड, वोटर आई.डी. एवं ड्राईविंग लाईसेंस सहित आई.सी.आई.सी.आई. बैंक सैक्टर 18 नोएडा से दिनांक 11.07.2020 को गिरफ्तार किया गया तथा घटना के सम्बन्ध में आई.सी.आई.सी.आई. बैंक प्रबंधक सैक्टर 18 नोएडा की सूचना के आधार पर थाना बनाम बबलू विश्वास आदि के पंजीकृत किया किया गया। गिरफ्तार शुदा अभियुक्त बबलू विश्वास उपरोक्त द्वारा अपने अन्य साथी 1. विजय गोयल, 2. समीर खान 3. मोन्टी, 4. शेरपाल, 5. विरेन्द्र व 02 अन्य का भी घटना में शामिल होना बताया गया। 

गिरफ्तार अभियुक्तो का विवरण-

  1. विरेन्द्र पुत्र प्रेमचन्द निवासी ग्राम अस्तौली थाना दनकौर ग्रेटर नोएडा, 
  2. गोपाल पुत्र फूल सिंह निवासी एफ-285 सैक्टर 11 प्रताप विहार थाना विजय नगर गाजियाबाद
  3. राहुल गुप्ता पुत्र हरी शंकर गुप्ता निवासी यूजी-005 ब्लाॅक-बी क्रासिंग रिपब्लिक गाजियाबाद,
  4. मानिक पुत्र अजयनाथ भार्गव निवासी एन-403 अजनारा कोरनेक्स क्रासिंग रिपब्लिक थाना विजय नगर गाजियाबाद 

बरामदगी का विवरण-

  • 01 अदद सीपीयू, 
  • 02 अदद हार्ड डिस्क, 
  • 01 मानिटर, 
  • 01 की-बोर्ड, 
  • 01 अदद माउस, 
  • 01 अदद प्रिंटर, 
  • 03 अदद फर्जी ड्राईविग लाईसेंस, 
  • 01 अदद फर्जी पेन कार्ड,  
  • 01 अदद फर्जी आधार कार्ड, 
  • 02 चिप लगे सफेद प्लेन प्लास्टिक कार्ड, 
  • 180 बिना चिप लगे सफेद प्लेट प्लास्टिक कार्ड,
  • 03 फर्जी मार्कशीट
  • फर्जी मार्कशीट बनाने में प्रयोग करने हेतु 24 अदद रंगीन कागज आदि बरामद

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.