गाजियाबाद : किसानों ने नेशनल हाइवे पर कब्जा किया, रेलवे ट्रैक भी रोकने की कोशिश

Updated Sep 25, 2020 12:00:51 IST | Mayank Tawer

देशभर के किसान संगठनों ने शुक्रवार को राष्ट्रव्यापी बंद का आह्वान किया है। जिसमें भारतीय किसान यूनियन भी शामिल है। शुक्रवार को दिन निकलते ही भारतीय किसान यूनियन...

गाजियाबाद : किसानों ने नेशनल हाइवे पर कब्जा किया, रेलवे ट्रैक भी रोकने की कोशिश
Photo Credit:  Tricity Today
किसानों ने नेशनल हाइवे पर कब्जा किया, रेलवे ट्रैक भी रोकने की कोशिश

देशभर के किसान संगठनों ने शुक्रवार को राष्ट्रव्यापी बंद का आह्वान किया है। जिसमें भारतीय किसान यूनियन भी शामिल है। शुक्रवार को दिन निकलते ही भारतीय किसान यूनियन के हजारों कार्यकर्ता पश्चिमी उत्तर प्रदेश के तमाम जिलों में सड़कों पर उतर आए हैं। गाजियाबाद में किसान यूनियन के बैनर तले विरोध किया जा रहा है। जिसके तहत किसानों ने ट्रैक्टर नेशनल हाईवे पर खड़े करके ट्रैफिक जाम कर दिया है। गाजियाबाद में दिल्ली-मेरठ नेशनल हाईवे पूरी तरह ठप पड़ गया है। दूसरी ओर रेलवे ट्रैक पर भी किसान कब्जा करने की कोशिश कर रहे हैं।

गाजियाबाद में मुरादनगर, मोदीनगर, लोनी और आसपास के इलाकों से किसानों की भीड़ नेशनल हाईवे की तरफ पहुंच रही है। पुलिस ने किसानों को संभालने के लिए व्यापक इंतजाम किए हैं। हालांकि, अधिकारियों की ओर से किसी भी तरह की सख्ती नहीं बरतने हिदायत दी गई है। जिसके चलते पुलिस बेहद शालीन तरीके से किसानों को हैंडल कर रही है। किसान केंद्र सरकार की ओर से संसद में पास करवाए गए बिलों का विरोध कर रहे हैं। किसानों का कहना है कि इन बिलों के कारण उनकी आजादी खत्म हो जाएगी। अभी तक देश के उद्योग और कारोबार पर बड़े-बड़े पूंजीपतियों का एकाधिकार है। आने वाले समय में खेती-बाड़ी और किसानी पर भी कॉर्पोरेट घरानों का वर्चस्व हो जाएगा। किसानों का आरोप है कि केंद्र सरकार उन्हें खेतिहर मजदूर बनाने पर तुली हुई है।

इन्हीं बिलों का विरोध करने के लिए देश भर के किसान संगठनों ने शुक्रवार को भारत बंद का ऐलान किया था। जिसका अनुपालन करते हुए तमाम छोटे-बड़े किसान संगठन आज सुबह से ही सड़कों पर हैं। मोदीनगर में किसानों ने नेशनल हाईवे पर कब्जा कर लिया है। लाइन लगाकर अपने ट्रैक्टर खड़े कर दिए हैं। मुरादनगर में भी ठीक ऐसे ही हालात हैं। गाजियाबाद शहर के बाहर भी किसानों ने नेशनल हाईवे पर हल्ला बोल दिया है। गाजियाबाद के तमाम दूसरे हिस्सों से भी किसानों के तीखे प्रदर्शन करने की सूचनाएं मिल रही हैं।

किसान दिल्ली में घुसने की कोशिश करेंगे। इसे ध्यान में रखते हुए गाजियाबाद-दिल्ली बॉर्डर पर भारी पुलिस फोर्स तैनात किया गया है। दिल्ली पुलिस ने करीब एक सप्ताह पहले ही गौतमबुद्ध नगर और गाजियाबाद की सीमा से सटे इलाकों में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया था। शुक्रवार के भारत बंद को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश पुलिस ने भी पुख्ता बंदोबस्त किए हैं। यूपी गेट समेत तमाम दूसरे बॉर्डर पर पुलिस और पीएसी तैनात की गई है। जिला प्रशासन की ओर से मजिस्ट्रेट भी तैनात किए गए हैं। पुलिस का पूरा ध्यान किसानों को दिल्ली में घुसने से रोकने पर है। दूसरी ओर किसानों का कहना है कि वह संसद का घेराव करेंगे। सरकार को जगाने के लिए दिल्ली ठप कर देंगे। मिली जानकारी के मुताबिक किसान दिल्ली-हावड़ा रेलवे लाइन, दिल्ली-मेरठ और दिल्ली-शामली रेलवे लाइन पर भी कब्जा करने के लिए कोशिश कर रहे हैं।

Farmers Protest, Bharat Band, National Highway, Ghaziabad Farmers, Ghaziabad Railway Track, Bhartiya Kisan Union