ग्रेटर नोएडा वेस्ट में गौड़ चौक को पूरी तरह बदला जाएगा, ऊपर से मेट्रो और नीचे से गुजरेंगी

ग्रेटर नोएडा वेस्ट में गौड़ चौक को पूरी तरह बदला जाएगा, ऊपर से मेट्रो और नीचे से गुजरेंगी

Tricity Today | ग्रेटर नोएडा वेस्ट में गौड़ चौक को पूरी तरह बदला जाएगा

-राइट्स ने फिजबिलिटी रिपोर्ट ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को सौंपीganga-अंडरपास बनाने में 65 करोड़ रुपये खर्च होने का है अनुमान

ग्रेटर नोएडा वेस्ट में गौड़ चौक या किसान चौक बहुत जल्दी पूरी तरह बदल जाएगा। यह शहर का सबसे खूबसूरत चौराहा बन जाएगा। यह चौराहा नोएडा में सेक्टर-37 की तरह एक ट्रैफिक जंक्शन की तरह होगा। यहां से नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद के लिए यातायात के सुगम साधन मिलेंगे। यहां का ट्रैफिक जाम खत्म करने के लिए अंडरपास बनाया जाएगा। अंडरपास के ऊपर से ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो गुजरेगी। इसका सर्वे करके राइट्स संस्था ने ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है। अनुमान है कि इसको बनाने में 60 से 65 करोड़ रुपये खर्च होंगे।

गौड़ चौक ग्रेटर नोएडा वेस्ट का व्यस्ततम चौराहा है। सामान्य दिनों में यहां बहुत जाम लगता है। इस चौराहे पर लंबे समय से अंडरपास या फ्लाईओवर बनाने की बात चल रही थी। यहां से मेट्रो भी गुजरनी है। इसलिए अंडरपास या फ्लाईओवर बनाने से पहले प्राधिकरण, एनएमआरसी और ब्रिज कार्पोरेशन के इंजीनियरों ने इलाके का दौरा किया था। इसके बाद यहां पर अंडरपास बनने की सहमति बनी है। अब ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने राइट्स को इसकी फिजिबिलिटी रिपोर्ट बनाने के लिए कहा है। अब राइट्स ने सर्वे पूरा करके अपनी रिपोर्ट प्राधिकरण को सौंप दी है।

अंडरपास के लिए जल्द निकाले जाएंगे टेंडर

फिजिबिलिटी रिपोर्ट बताती है कि अंडरपास एनएच-24 से सूरजपुर की तरफ 60 मीटर रोड पर बनेगा। इसको बनाने में 60 से 65 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है। दिसंबर 2021 तक इसको बनाने का लक्ष्य रखा गया है। जल्द ही प्राधिकरण टेंडर प्रक्रिया शुरू करेगा। ताकि निर्माण एजेंसी का चयन किया जा सके। इसके बन जाने से ग्रेटर नोएडा वेस्ट के निवासियों को बड़ी राहत मिलेगी। प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी नरेंद्र भूषण ने बताया कि गौड़ चौक पर अंडरपास बनाया जाएगा। इसके लिए राइट्स ने अपनी रिपोर्ट सौंप दी है।

मेट्रो से पहले बनाया जाएगा अंडरपास

ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो का काम भी शुरू होने वाला है। इस परियोजना के लिए भी वसंज प्रक्रिया शुरू होने वाली है। नोएडा मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन का कहना है कि अगले दो वर्ष में ग्रेटर नोएडा मेट्रो दौड़ने लगेगी। लिहाजा, मेट्रो चालू होने से पहले ग्रेटर नोएडा विकास प्राधिकरण को यहां अंडरपास का निर्माण पूरा करना है। अभी यहां दिनभर लोगों को भारी ट्रैफिक जाम का सामना करना पड़ता है। अंडरपास और मेट्रो आने के बाद ग्रेटर नोएडा वेस्ट के सबसे व्यस्तम चौराहे की भीड़ खत्म हो जाएगी। इसका सौंदर्यकरण भी किया जाएगा।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.