Zee News में फैले संक्रमण पर गौतमबुद्ध नगर के हेल्थ डिपार्टमेंट ने रिपोर्ट पेश की, अब तक की पूरी जानकारी दी

Updated May 23, 2020 18:29:41 IST | Rakesh Tyagi

नोएडा फिल्म सिटी में ज़ी मीडिया ग्रुप के कार्यालय में कोरोनावायरस के हमले पर गौतमबुद्ध नगर के स्वास्थ्य विभाग ने विस्तृत रिपोर्ट पेश की है...

Photo Credit:  Social Media
Demo Picture
Key Highlights
ज़ी मीडिया कॉरपोरेशन का एक कर्मचारी 15 मई को कोरोनावायरस से संक्रमित पाया गया था।
कर्मचारी के संपर्क में आए 51 कर्मचारियों का कोरोनावायरस टेस्ट के लिए सैंपल लिए गए थे।
इन 51 लोगों में से 28 संक्रमित पाए गए हैं। जिनमें से 15 लोग गौतमबुद्ध नगर के निवासी हैं।

नोएडा फिल्म सिटी में ज़ी मीडिया ग्रुप के कार्यालय में कोरोनावायरस के हमले पर गौतमबुद्ध नगर के स्वास्थ्य विभाग ने विस्तृत रिपोर्ट पेश की है। हेल्थ डिपार्टमेंट की ओर से ज़ी न्यूज़ के कार्यालय में फैले संक्रमण, उसकी चपेट में आने वाले लोगों, अब तक चलाए गए कंटेनमेंट ड्राइव और आगे की स्थिति के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई है।

गौतमबुद्ध नगर के जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ सुनील दोहरे ने बताया कि नोएडा के सेक्टर-16ए में स्थित ज़ी मीडिया कॉरपोरेशन का एक कर्मचारी 15 मई को कोरोनावायरस से संक्रमित पाया गया था। वह कर्मचारी दिल्ली का निवासी है। इस बारे में कंपनी की ओर से गौतमबुद्ध नगर की जिला सर्विलांस इकाई को जानकारी दी गई थी। सूचना मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग की ओर से तत्काल प्रतिक्रिया दी गई। टीम जांच-पड़ताल करने के लिए कंपनी परिसर में पहुंची और सभी कर्मचारियों की जांच शुरू की गई।

51 लोगों का कोरोना टेस्ट किया गया, 28 पॉजिटिव निकले

जिला सर्विलांस अधिकारी ने बताया कि पॉजिटिव पाए गए कर्मचारी के संपर्क में आए 51 अन्य कर्मचारियों का कोरोनावायरस टेस्ट करने के लिए सैंपल लिए गए थे। इन 51 लोगों में से 28 संक्रमित पाए गए हैं। जिनमें से 15 लोग गौतमबुद्ध नगर के निवासी हैं। बाकी 13 लोग दिल्ली और गाजियाबाद के रहने वाले हैं। इन सभी लोगों को उपचार के लिए ग्रेटर नोएडा के राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती करवा दिया गया था।

कम्पनी के 252 कर्मचारियों को होम क्वारंटाइन और 50 को सरकारी सेंटर भेजा

डॉ सुनील दोहरे ने बताया कि पिछले 3 दिनों से ज़ी मीडिया कॉरपोरेशन के कार्यालय में हेल्थ कैंप का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें अब तक 400 कर्मचारियों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है। संक्रमित लोगों के संपर्क में आने वाले लोगों की पहचान की जा रही है। पूरी बिल्डिंग को लगातार 15 मई से रोजाना सैनिटाइज किया जा रहा है। जिससे संक्रमण को खत्म किया जा सके। 267 कर्मचारियों को इन हेल्थ कैंप में इलाज दिया गया है। 50 और ऐसे कर्मचारियों को चुना गया है, जो संक्रमित लोगों के संपर्क में आए हैं। इन सभी को इंस्टीट्यूशनल क्वॉरेंटाइन सेंटर में भेज दिया गया है। कंपनी के 252 कर्मचारियों को होम क्वॉरेंटाइन किया गया था। इन्हें अंडर सर्विलेंस रखा गया है।

कम्पनी का फोर्थ फ्लोर सील कर दिया गया है

स्वास्थ्य विभाग की टीम रोजाना इन्हें कॉल करते हैं और लक्षणों के बारे में बातचीत की जाती है। देखा जा रहा है कि इन लोगों में कोरोनावायरस संक्रमण के लक्षण विकसित हो रहे हैं अथवा नहीं। जिला सर्विलांस अधिकारी ने बताया कि ज़ी मीडिया कॉरपोरेशन का एक कर्मचारी शुक्रवार को संक्रमित पाया गया है। कंपनी के पूरे फोर्थ फ्लोर को सील कर दिया गया है। सभी संक्रमित कर्मचारी और उनके संपर्क में आने वाले दूसरे कर्मचारी फोर्थ फ्लोर पर ही कार्यरत थे। कंपनी के बाकी अन्य किसी फ्लोर पर काम करने वाला कर्मचारी अभी तक संक्रमित नहीं पाया गया है। कंटेनमेंट टीम की जांच और कंपनी के मानव संसाधन विभाग के हेड के स्टेटमेंट के आधार पर यह निर्धारित किया गया है।

कार्यालय पड़ोस की बिल्डिंग में शिफ्ट किया गया

रिपोर्ट में बताया गया है कि फोर्थ फ्लोर पर काम करने वाले बाकी सभी कर्मचारियों को कार्यालय के पड़ोस में एक दूसरी इमारत में शिफ्ट कर दिया गया है। इस संस्थान में अभी केवल 150 से 200 कर्मचारी काम कर रहे हैं और इन सभी में संक्रमण का कोई लक्षण नहीं है। कोविड-19 प्रोटोकॉल के मुताबिक काम पर आने वाले प्रत्येक कर्मचारी की स्क्रीनिंग करना अनिवार्य है। जिला सर्विलांस अधिकारी ने बताया कि इस पूरे प्रकरण में कुछ महत्वपूर्ण तथ्य ऐसे हैं, जिन पर ध्यान दिया जाना बहुत आवश्यक है।

उन्होंने बताया कि इस संस्थान में बहुत कम समय में बड़ी संख्या में कोरोनावायरस का संक्रमण पाया गया है। संक्रमण कार्यस्थल पर प्रसारित हुआ है। इस संक्रमण को रोकने के लिए और लोगों को बीमारी से बचाने के लिए व्यापक स्तर पर बचाव अभियान संचालित किया जा रहा है।

जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ सुनील दोहरे ने इस प्रकरण में 6 महत्वपूर्ण सिफारिश की हैं।

  1. कंपनी के फोर्थ फ्लोर को तब तक सील रखा जाए, जब तक कि प्रत्येक कर्मचारी की अंतिम रिपोर्ट नहीं आ जाती है। 
  2. सभी कर्मचारियों पर एक्टिव सर्विलांस रखा जाए।
  3. ज़ी न्यूज़ के सभी कर्मचारियों के परिवारों में सदस्यों पर भी सर्विलांस रखा जाए।
  4. कंपनी की इमारत में फोर्थ फ्लोर के अलावा अगर किसी अन्य फ्लोर पर संक्रमण का कोई मामला पाया जाता है तो उस फ्लोर को भी तत्काल सील कर दिया जाए। ऐसा महामारी अधिनियम में प्रदत्त शक्तियों का उपयोग करते हुए किया जाना चाहिए।
  5. ऐसे संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने वाले लोगों की तत्काल पहचान की जाएगी और सैनिटाइजेशन प्रक्रिया कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत अमल में लाई जाएगी।
  6. स्वास्थ्य विभाग की टीम प्रतिदिन कंपनी कार्यालय का दौरा करेगी। वहां कर्मचारियों की स्क्रीनिंग करेगी और उनमें कोरोनावायरस के लक्षणों के विकास का पता लगाएगी।
Zee News, Zee Media Corporation, Noida Film City, Coronavirus, Coronavirus in India, COVID-19 updat, Noida news, Noida Update news, Gautam Buddh Nagar, Gautam Buddh Nagar News, uttar pradesh, uttar pradesh news