Delhi Metro News: नोएडा और दिल्ली के लाखों यात्रियों के लिए खुशखबरी, अब दोनों मेट्रो में एक ही कार्ड चलेगा

Delhi Metro News: नोएडा और दिल्ली के लाखों यात्रियों के लिए खुशखबरी, अब दोनों मेट्रो में एक ही कार्ड चलेगा

Google Image | नोएडा और दिल्ली के लाखों यात्रियों के लिए खुशखबरी, अब दोनों मेट्रो में एक ही कार्ड चलेगा

नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद और दिल्ली के बीच मेट्रो से रोजाना आवागमन करने वाले लाखों यात्रियों के लिए खुशखबरी है। अब चारों शहरों के यात्री एक ही कार्ड के जरिए यात्रा और भुगतान कर सकेंगे। मेट्रो के एक कॉमन कार्ड को लेकर फिर से तैयारी शुरू हो गयी हैं। इसको लेकर बुधवार को अधिकारियों के बीच बैठक हुई। इसमें नेशनल कॉमन मोबोलिटी कार्ड को जल्द लागू करने को लेकर चर्चा हुई है। अगले सप्ताह दोबारा से बैठक होगी।

अभी नोएडा-दिल्ली के बीच चल रही मेट्रो का संचालन डीएमआरसी (Delhi Metro Rail Corporation) कर रहा है। जबकि नोएडा-ग्रेटर नोएडा के बीच चल रही एक्वा लाइन की मेट्रो को Noida Metro Rail Corporation (एनएमआरसी) चलवा रही है। दोनों ही मेट्रो में सफर करने के लिए अलग-अलग कार्ड खरीदना पड़ता है।इससे लोगों को काफी दिक्कत होती है। परेशानी उठाकर दोनो मेट्रो का अलग कार्ड बनवाना पड़ता है। रोजाना आने-जाने वालों को टिकट खरीदकर सफर करना महंगा पड़ता है। खर्चा अधिक होने के साथ साथ दो-दो कार्ड जेब में रखने पड़ते हैं। 

ऐसे में लोगों को सहूलियत देने के लिए दोनों मेट्रो का एक ही कॉमन कार्ड बनाने को लेकर फिर से कवायद शुरू हो गई है। बुधवार को नोएडा प्राधिकरण आफिस में हुई बैठक में डीएमआरसी ओर एनएमआरसी के अधिकारियो ने कार्ड को लेकर अपनी अपनी रिपोर्ट पेश की। दोनों जगह State Bank of India (SBI) के जरिए स्मार्ट कार्ड बनाये जा रहे हैं। ऐसे में उनके अधिकारी भी मौजूद थे, लेकिन बैंक की टेक्निकल टीम के अफसर नहीं आए थे। इस कारण बैठक जल्द समाप्त हो गई। डीएमआरसी के अधिकारियों ने बताया कि एनएमआरसी के कार्ड को उनके सिस्टम के तहत चलाया जाए, वे एनएमआरसी के सिस्टम पर कार्ड नहीं चलाएंगे। उनके नेटवर्क में चलाने के लिए कार्ड रीडर सिस्टम के सॉफ्टवेयर को अपग्रेड किया जाएगा। इसी तरह एनएमआरसी को भी सॉफ्टवेयर में अपग्रेड करना होगा। बैठक में ये भी चर्चा हुई कि एक कार्ड होने पर डीएमआरसी ओर एनएमआरसी को कितना-कितना पैसा मिलेगा।

इस बारे में नोएडा प्राधिकरण के एसीईओ प्रवीण मिश्र का कहना है कि बैठक में दोनों मेट्रो का एक कार्ड को लेकर चर्चा हुई। अगले सप्ताह दोबारा बैठक होगी। बड़ी बात यह है कि सैद्धांतिक रूप से नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन और दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन इस बात पर सहमत हैं कि दोनों नेटवर्क में एक ही कार्ड का इस्तेमाल किया जाना चाहिए। अब केवल प्रबंधन, वित्तीय और तकनीकी समस्याएं हैं। जिनका समाधान आसानी से निकाला जा सकता है। जल्दी ही दूसरी बैठक होगी। जिसमें स्टेट बैंक ऑफ इंडिया का टेक्निकल स्टाफ भी शामिल होगा। उस दिन लगभग इस समस्या का समाधान हो जाएगा।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.