गौतमबुद्ध नगर में प्रदूषण रोकने के लिए ग्रेप लागू, जानिए क्या कर सकते हैं और क्या नहीं

Updated Oct 16, 2020 05:36:41 IST | Mayank Tawer

वायु प्रदूषण को रोकने के लिए गौतमबुद्ध नगर में बृहस्पतिवार से क्रमिक प्रतिक्रिया कार्य योजना (जीआरएपी) लागू हो गई है। गौतमबुद्ध नगर प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय....

गौतमबुद्ध नगर में प्रदूषण रोकने के लिए ग्रेप लागू, जानिए क्या कर सकते हैं और क्या नहीं
Photo Credit:  Google Image
प्रतीकात्मक फोटो

NOIDA NEWS : वायु प्रदूषण को रोकने के लिए गौतमबुद्ध नगर में बृहस्पतिवार से क्रमिक प्रतिक्रिया कार्य योजना (जीआरएपी) लागू हो गई है। गौतमबुद्ध नगर प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी प्रवीण कुमार ने बताया कि आज से गौतमबुद्ध नगर में डीजल जनरेटर चलाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

उन्होंने बताया कि सिर्फ अस्पतालों में ही जरनेटर का इस्तेमाल होगा। सभी सोसायटी और उद्योगों में डीजल जरनेटर नहीं चलेंगे। किसी विशेष परिस्थिति के लिए अनुमति लेनी होगी। उन्होंने बताया कि उद्योग और ढाबों पर कोयले का प्रयोग नहीं होगा। ढाबे के तंदूर पर भी रोक लगाई गई है। उन्होंने बताया कि इस दौरान कूड़ा जलाने, फेंकने और धूल उड़ाने पर भी रोक लगाई गई है।  

उन्होंने कहा कि नोएडा और ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण और अलग-अलग विभाग की टीमें लगातार जगह-जगह जाकर निरीक्षण करेंगी। उन्होंने बताया कि अगर कहीं पर नियमों का उल्लंघन मिला तो, सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Grap Applied in Gautam Buddh Nagar, Pollution in Noida