BIG NEWS : ग्रेटर नोएडा देश का दूसरा सबसे प्रदूषित शहर, मेरठ अव्वल, देश के टॉप-10 शहर देखिए

Updated Oct 15, 2020 23:57:06 IST | Rakesh Tyagi

पूरे दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण ने पांव पसार लिए हैं। आलम यह है कि लोगों को सांस लेने में परेशानी हो रही है। आंखों में जलन हो रही है। ग्रेटर नोएडा गुरुवार को...

BIG NEWS : ग्रेटर नोएडा देश का दूसरा सबसे प्रदूषित शहर, मेरठ अव्वल, देश के टॉप-10 शहर देखिए
Photo Credit:  Google Image
Greater Noida ranked as the 2nd most polluted city in the country

पूरे दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण ने पांव पसार लिए हैं। आलम यह है कि लोगों को सांस लेने में परेशानी हो रही है। आंखों में जलन हो रही है। ग्रेटर नोएडा गुरुवार को देश का सबसे प्रदूषित शहर रहा है। मेरठ पहले नम्बर पर है। बड़ी बात यह है कि ग्रेटर नोएडा और मेरठ के एयर क्वालिटी इंडेक्स में केवल 2 पॉइंट का अंतर दर्ज किया गया है। दिल्ली से कहीं ज्यादा प्रदूषित दिल्ली के चारों ओर वाले शहर हैं। गौतमबुद्ध नगर जिले में ग्रेप लागू कर दिया गया है। किसी भी तरह का प्रदूषण फैलाने वाले लोगों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने का आदेश जारी किया गया है।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने गुरुवार की शाम 4:00 बजे पिछले 24 घंटों का औसत एयर क्वालिटी इंडेक्स जारी किया है। जिसमें देशभर के 112 शहरों को शामिल किया गया है। पिछले 24 घंटों के दौरान सबसे खराब हवा मेरठ की आंकी गई है। मेरठ का एयर क्वालिटी इंडेक्स 359 दर्ज किया गया है। इस मामले में दूसरे नंबर पर ग्रेटर नोएडा शहर रहा है। ग्रेटर नोएडा का एयर क्वालिटी इंडेक्स 357 है। ग्रेटर नोएडा शहर के दो सैंपल सेंटरों के आधार पर यह इंडेक्स आया है। जबकि, मेरठ में तीन स्थानों से हवा की सैंपलिंग की जा रही है।

दिल्ली से ज्यादा प्रदूषित चारों ओर के शहर

गुरुवार की शाम 4:00 बजे पिछले 24 घंटों के दौरान दिल्ली में एयर क्वालिटी इंडेक्स 312 दर्ज किया गया है। राजधानी में 34 मॉनिटरिंग स्टेशन से सैंपलिंग की गई है। दूसरी ओर नोएडा में इंडेक्स 321 रहा है। गाजियाबाद में 322, गुरुग्राम में 311 और फरीदाबाद में 335 रिकॉर्ड किया गया है। मतलब साफ है कि राजधानी दिल्ली के मुकाबले इसके चारों ओर के शहर कहीं ज्यादा प्रदूषित हैं।

गुरुवार को देश के टॉप टेन प्रदूषित शहर

शहर                    एक्यूआई

  1. मेरठ                    359
  2. ग्रेटर नोएडा          357
  3. चरखी दादरी        337
  4. मुजफ्फरनगर       332
  5. यमुनानगर            331
  6. बागपत                331
  7. कुरुक्षेत्र                327
  8. गाजियाबाद          322
  9. नोएडा                  321
  10. दिल्ली                  312
  11. गुरुग्राम                311
  12. भिवाड़ी                310

गौतमबुद्ध नगर में प्रदूषण रोकने के लिए ग्रेप लागू

वायु प्रदूषण को रोकने के लिए गौतमबुद्ध नगर में बृहस्पतिवार से क्रमिक प्रतिक्रिया कार्य योजना (जीआरएपी) लागू हो गई है। गौतमबुद्ध नगर प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी प्रवीण कुमार ने बताया कि आज से गौतमबुद्ध नगर में डीजल जनरेटर चलाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। उन्होंने बताया कि सिर्फ अस्पतालों में ही जरनेटर का इस्तेमाल होगा। सभी सोसायटी और उद्योगों में डीजल जरनेटर नहीं चलेंगे। किसी विशेष परिस्थिति के लिए अनुमति लेनी होगी। उन्होंने बताया कि उद्योग और ढाबों पर कोयले का प्रयोग नहीं होगा। ढाबे के तंदूर पर भी रोक लगाई गई है। उन्होंने बताया कि इस दौरान कूड़ा जलाने, फेंकने और धूल उड़ाने पर भी रोक लगाई गई है। उन्होंने कहा कि नोएडा और ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण और अलग-अलग विभाग की टीमें लगातार जगह-जगह जाकर निरीक्षण करेंगी। उन्होंने बताया कि अगर कहीं पर नियमों का उल्लंघन मिला तो, सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Pollution, Greater Noida, Pollution in Delhi-NCR, Greater Noida news, Meerut news