ग्रेटर नोएडा के हेलीकॉप्टरों ने एयरफोर्स के साथ मिलकर टिड्डी दल पर बोला हमला

Updated Jun 30, 2020 19:19:17 IST | Anika Gupta

देश के कई राज्यों पर हमला बोल रहे टिड्डी दल को ठिकाने लगाने की जिम्मेदारी ग्रेटर नोएडा के हेलीकॉप्टरों को सौंपी गई है। ग्रेटर नोएडा के हेलीकॉप्टर और एयरफोर्स...

ग्रेटर नोएडा के हेलीकॉप्टरों ने एयरफोर्स के साथ मिलकर टिड्डी दल पर बोला हमला
Photo Credit:  Tricity Today

देश के कई राज्यों पर हमला बोल रहे टिड्डी दल को ठिकाने लगाने की जिम्मेदारी ग्रेटर नोएडा के हेलीकॉप्टरों को सौंपी गई है। ग्रेटर नोएडा के हेलीकॉप्टर और एयरफोर्स मिलकर राजस्थान, मध्य प्रदेश, हरियाणा, पंजाब और उत्तर प्रदेश में आतंक का पर्याय बने टिड्डी दलों का सफाया करेंगे। इसके लिए मंगलवार की दोपहर केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर और गौतम बुध नगर के सांसद डॉ महेश शर्मा ने ग्रेटर नोएडा से हेलीकॉप्टरों का बेड़ा रवाना किया है। यह हेलीकॉप्टर सबसे पहले राजस्थान में टिड्डी दल ऊपर एंटी लॉकस्ट स्प्रे करेंगे। उसके बाद दूसरे राज्यों में टिड्डी दलों को साफ किया जाएगा।

गौतम बुध नगर के जिला सूचना अधिकारी राकेश चौहान ने बताया कि भारत सरकार ने एविएशन फार्म मल्होत्रा हेलीकॉप्टर से बेल हेलीकॉप्टर टिड्डी दल पर हमला बोलने के लिए किराए पर लिए हैं। मंगलवार की दोपहर ग्रेटर नोएडा में ईकोटेक-2 उद्योग विहार से बेल हेलीकॉप्टरों का बेड़ा उड़ाया गया है। यह हेलीकॉप्टर बाड़मेर में भारतीय वायुसेना के उत्तरलाई स्टेशन पर ठहरेंगे। वहां से लगातार राजस्थान के रेगिस्तानी इलाकों बाड़मेर, जैसलमेर, नागौर, जोधपुर और बीकानेर में स्प्रे करेंगे। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और गौतम बुध नगर के सांसद डॉ महेश शर्मा ने मंगलवार की दोपहर ग्रेटर नोएडा में इंडोकॉप्टर फैसिलिटी से हेलीकॉप्टरों का बेड़ा रवाना किया है। 

जिला सूचना अधिकारी ने बताया कि बेल मॉडल के यह हेलीकॉप्टर एक बार में ढाई सौ लीटर रसायन लेकर उड़ सकते हैं। इनमें स्प्रे फैसिलिटी है। इस रसायन का छिड़काव एक बार में 40-50 हेक्टेयर पर किया जा सकता है। इस तरह पहले राजस्थान और उसके बाद बाकी राज्यों में हेलीकॉप्टर की मदद से टिड्डी दलों को ठिकाने लगाया जाएगा।

आपको बता दें कि पिछले करीब दो महीनों से उत्तर भारत के उत्तर और पश्चिम भारत के पांच राज्यों पर टिड्डी दल हमला कर रहे हैं। हालांकि, इस वक्त कोई महत्वपूर्ण फसल खेतों में नहीं है, जिसके कारण बड़ा नुकसान नहीं हुआ है। लेकिन आने वाले वक्त में यह टिड्डी दल किसानों के लिए बड़ी परेशानी बन सकते हैं। अब टिड्डी दल शहरी क्षेत्रों में भी घुस रहे हैं। तीन दिन पहले नोएडा और ग्रेटर नोएडा समेत पूरे दिल्ली एनसीआर पर टिड्डी दल ने हमला किया था। ऐसे में सरकार ने इनसे निपटने के लिए व्यापक योजना तैयार की है।

टिड्डी दल से निपटने के लिए ड्रोन का इस्तेमाल भी होगा 

भारत सरकार ने उत्तर प्रदेश हरियाणा और दिल्ली एनसीआर के जिलों में हमला बोल रहे टिड्डी दलों से निपटने के लिए ड्रोन के इस्तेमाल को इजाजत दे दी है। ऐसे ड्रोन उपलब्ध हैं, जो एक बार में 5 से 10 लीटर तक रसायन लेकर उड़ सकते हैं। इनके जरिए छोटे इलाकों में स्प्रे की जा सकती है, जहां टिड्डी दल रात में या दिन में निवास कर रहे हैं।

Locust attack, Swarm attack, Fly attack, Narendra Singh Tomar BJP, Dr Mahesh Sharma BJP, BJP, Bhartiya Janta Party, Greater Noida, Greater Noida News, Uttar Pradesh, Uttar Pradesh News, Indocopter Greater Noida, Gautam Buddh Nagar, GB Nagar News, Bell Helicopter, IAF, Indian Air Force, Barmer Air force station