Greater Noida: नपुंसक बेटे ने पिता का कत्ल किया, दिल दहलाने वाली घटना के पीछे दिमाग सुन्न करने वाला कारण

Updated Feb 16, 2020 15:43:16 IST | Tricity Today Reporter

ग्रेटर नोएडा में शनिवार को दिल दहला देने वाली घटना हुई। यहां जारचा कोतवाली क्षेत्र के कलौंदा गांव में शुक्रवार की देर रात एक युवक ने अपने पिता का कत्ल कर दिया। इस कत्ल के पीछे की वजह भी दिमाग सुन्न करने वाली है। पिता का हत्यारोपी बेटा नपुंसक है। जिसके चलते उसकी पत्नी उसे छोड़कर चल गई। लड़के को शक था कि उसके पिता ने उसे नपुंस...

Photo Credit:  Tricity Today
पिता का कत्ल करने वाला आरोपी बेटा गिरफ्तार

ग्रेटर नोएडा में शनिवार को दिल दहला देने वाली घटना हुई। यहां जारचा कोतवाली क्षेत्र के कलौंदा गांव में शुक्रवार की देर रात एक युवक ने अपने पिता का कत्ल कर दिया। इस कत्ल के पीछे की वजह भी दिमाग सुन्न करने वाली है। पिता का हत्यारोपी बेटा नपुंसक है। जिसके चलते उसकी पत्नी उसे छोड़कर चल गई। लड़के को शक था कि उसके पिता ने उसे नपुंस बनाया है। 

गांव के कुछ लोगों ने आरोपी से कह दिया था कि उसके पिता ने उसे ऐसी दवा दी है, जिससे वह नपुंसक बना है। जिसकी वजह से उसका मानसिक संतुलन ठीक नहीं था। आरोपी ने पिता की हत्या का जुर्म कबूल किया है। 

डीसीपी ग्रेटर नोएडा राजेश कुमार सिंह ने बताया कि कलौंदा गांव में रामभूल (56 वर्षीय) अपने दो बेटों के साथ रहते थे। रामभूल का छोटा बेटा ललित नपुंसक है। पांच साल पहले उसकी शादी हुई थी लेकिन, वह उसे छोड़कर चल गई। जिसके बाद ग्रामीण उसे ताना देने लगे। पिता ने बेटे का इलाज करवाया। वह ठीक नहीं हुआ। जिससे वह मानिसक रूप से परेशान रहने लगा।

डीसीपी ने बताया, गांव के कुछ लोगों ने ललित से कहा कि उसके पिता ने उसे नपुंसक बनाया है। उसे दी गई दवा से वह नपुंसक बना है। जिसके बाद से वह पिता से नफरत करने लगा था। शुक्रवार की रात ललित अपने पिता के कमरे में सोया था। देर रात वह उठा और धारदार हथियार से पिता पर हमला करके कत्ल कर दिया। जिसके बाद वह मौके से फरार हो गया। सुबह के समय रामभूल के बड़े बेटे अरूण ने पिता का शव चारपाई पर खून से लथपथ हालत में पड़ा देखा और पुलिस को सूचना दी। 

पुलिस ने आरोपी ललित को गिरफ्तार कर पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल किया है। पुलिस  ने बताया कि ग्रामीण उसे उसके नपुंसक होने पर ताना देते थे। जिसके लिए उसके पिता ने उसका कई जगह से इलाज भी करवाया था। इस बीच कुछ लोगों ने ललित से कह दिया कि उसके पिता ने उसे ऐसी दवा पिला दी, जिससे वह नपुंसक हुआ है। जिसके चलते वह पिता के प्रति आक्रोशित रहता था। उसके पिता उसे कुछ भी कहते तो वह लड़ने-झगड़ने लगता था। यही वजह रही कि उसने पिता की हत्या कर दी।